विनिवेश, मानसून और ब्याज दरों से तय होगी घरेलू बाजार की दिशा

By: | Last Updated: Sunday, 17 May 2015 12:29 PM
market_india

मुंबई: बाजार विश्लेषकों का मानना है कि सरकार की विनिवेश प्रक्रिया, मानसून का आगमन, खाद्यान्नों की कीमतों में नरमी और आरबीआई द्वारा ब्याज दरों में कटौती के संकेतों से आगामी दिनों में भारतीय शेयर बाजारों की दिशा तय करने में महत्वपूर्ण भूमिका होगी.

 

जायफिन एडवाइजर्स के मुख्य कार्यकारी निदेशक देवेंद्र नेवगी ने कहा, “ग्रीस संकट और संसद सत्र समाप्त हो गया है. अब बाजार अधिक अस्थिर होगा और अपनी चाल के लिए यह अंतर्राष्ट्रीय संकेतों पर निर्भर होगा.”

 

नेवगी के मुताबिक, “अमेरिका और जर्मनी के उच्च बॉन्ड यील्ड में कमी आई है. ग्रीस समय पर अपने बकाए का भुगतान कर सकता है. यहां तक कि अंतर्राष्ट्रीय खाद्यान्न कीमतों में भी स्थिरता दिख रही है और इन सभी कारकों से भारतीय शेयर बाजार को मदद मिलेगी.”

 

“जबकि चीन, दक्षिण अफ्रीका और रूस जैसी अन्य बड़ी उभरती अर्थव्यवस्थाओं में भी आकर्षक विकल्प दिखाई दे रहे हैं. पिछले दो सप्ताह में भारतीय बाजारों में गिरावट से छोटी-मध्यम अवधि में निवेशकों की संख्या बढ़ेगी.”

 

कोटक सिक्युरिटीज के निजी ग्राहक समूह अनुसंधान के प्रमुख दीपेन शाह ने कहा, “नकारात्मक वैश्विक संकेतों का जोखिम अभी भी बना हुआ है, क्योंकि ग्रीस की आर्थिक स्थिति जस की तस है. चीन और रूस के बाजारों का विकास और खाद्यान्न कीमतों में तेजी की समस्या बनी हुई है.”

शाह ने कहा, “यदि ग्रीस की स्थिति बिगड़ती है तो बॉन्ड यील्ड में तेजी आएगी. इससे रुपया आगे चलकर कमजोर हो सकता है और एक बार फिर बाजार में नीचे की ओर रुझान शुरू हो सकता है.”

 

अमेरिका का बॉन्ड यील्ड पिछले सप्ताह 2.24 प्रतिशत बढ़ गया था. जर्मनी के यील्ड में 80 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी.

 

नेशनल सिक्युरिटीज डिपॉजिटरी लि. (एनएसडीएल) के आंकड़ों के मुताबिक, भारतीय शेयर बाजारों में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) ने शुद्ध बिकवाली की है. इन्होंने 15 मई को समाप्त सप्ताह में 28.902 करोड़ डॉलर यानी 1,854.25 करोड़ रुपये के शेयर बेचे.

 

जियोजिट बीएनपी पारिबास फाइनेंशियल सर्विसिस के अनुसंधान प्रमुख एलेक्स मैथ्यूज ने कहा कि कई घरेलू निवेशक इंडियन ऑयल और एनटीपीसी में सरकार के विनिवेश का इंतजार कर रहे हैं.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: market_india
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: business India interest market
First Published:

Related Stories

GST के बाद रेंस्टोरेंट बिल में दिख रहे हैं SGST, CGST अलग-अलगः जानें क्यों
GST के बाद रेंस्टोरेंट बिल में दिख रहे हैं SGST, CGST अलग-अलगः जानें क्यों

नई दिल्लीः जैसा कि आप जानते ही हैं कि 1 जुलाई से जीएसटी लागू हो चुका है यानी एक देश-एक टैक्स की...

सेंसेक्स में 300 अंकों का शानदार उछाल, निफ्टी फिर 10,000 के करीब
सेंसेक्स में 300 अंकों का शानदार उछाल, निफ्टी फिर 10,000 के करीब

नई दिल्लीः आज शेयर बाजार में शानदार उछाल के साथ कारोबार बंद हुआ है. सेंसेक्स और निफ्टी दोनों...

जेपी विवाद पर बोले वित्त मंत्री: 'जिन लोगों ने पैसा लगाया है, उन्हें फ्लैट मिलना चाहिए'
जेपी विवाद पर बोले वित्त मंत्री: 'जिन लोगों ने पैसा लगाया है, उन्हें फ्लैट...

नई दिल्लीः एनसीआर में जेपी इंफ्राटेक के प्रोजेक्ट्स में घर खरीदारों के लिए थोड़ी राहत की किरण...

हिमाचल के लोगों को तोहफाः सरकार ने डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया
हिमाचल के लोगों को तोहफाः सरकार ने डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया

हिमाचल: हिमाचल प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को आज राज्य सरकार ने तोहफा दिया है. हिमाचल प्रदेश...

नोटबंदी के बाद लोन हुए सस्ते, बैंकों की ब्याज दरें घटीं: पीएम मोदी
नोटबंदी के बाद लोन हुए सस्ते, बैंकों की ब्याज दरें घटीं: पीएम मोदी

नई दिल्ली: आज स्वतंत्रता दिवस पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि...

सहारा को झटकाः एंबी वैली प्रोजेक्ट की नीलामी शुरू, रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़ रुपये
सहारा को झटकाः एंबी वैली प्रोजेक्ट की नीलामी शुरू, रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़...

नई दिल्लीः सहारा समूह के लिए आज बड़े झटके की खबर है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के 3 दिन बाद आज...

जेपी इंफ्रा की संपत्ति बेच अटकी परियोजनाएं पूरी करने की संभावनाएं खंगालने में जुटी सरकार
जेपी इंफ्रा की संपत्ति बेच अटकी परियोजनाएं पूरी करने की संभावनाएं खंगालने...

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जेपी इंफ्राटेक के घर...

जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी
जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी

नई दिल्लीः देश के थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर जुलाई में बढ़कर 1.88 फीसदी रही. वाणिज्य...

AC रेस्टोरेंट के बिना एसी वाले एरिया से खाना पैक कराने पर भी 18% जीएसटी
AC रेस्टोरेंट के बिना एसी वाले एरिया से खाना पैक कराने पर भी 18% जीएसटी

नई दिल्ली: किसी होटल का एक हिस्सा अगर एयर कंडीशनर (एसी) है तो वहां से खाना पैक कराकर ले जाने या...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017