हॉन्गकॉन्ग में है नीरव मोदीः विदेश मंत्रालय ने जमा किया अरेस्ट ऑर्डर | Nirav Modi in Hong Kong, India sends provisional arrest order to HK Govt

हॉन्गकॉन्ग में है नीरव मोदीः विदेश मंत्रालय ने जमा किया अरेस्ट ऑर्डर

विदेश मंत्रालय के राज्यमंत्री ने एक लिखित जवाब में संसद को जानकारी दी कि मंत्रालय ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी का पासपोर्ट 16 फरवरी को सस्पेंड कर दिया है.

By: | Updated: 05 Apr 2018 11:31 PM
Nirav Modi in Hong Kong, India sends provisional arrest order to HK Govt

नई दिल्लीः सरकार ने संसद को सूचित किया है कि नीरव मोदी इस समय हॉन्गकॉन्ग में हैं. विदेश मंत्रालय ने नीरव मोदी के लिए प्रोविजनल गिरफ्तारी ऑर्डर हॉन्गकॉन्ग सरकार के पास जमा कर दिया है.


विदेश मंत्रालय के राज्यमंत्री ने एक लिखित जवाब में संसद को जानकारी दी कि मंत्रालय ने नीरव मोदी और मेहुल चोकसी का पासपोर्ट सस्पेंड कर दिया था. 16 फरवरी 2018 को पासपोर्ट एक्ट 1967 के 10ए सेक्शन के तहत इनके पासपोर्ट सस्पेंड कर दिए गए. पासपोर्ट जारी करने वाली पासपोर्ट इश्युइंग अथॉरिटी (पीआईए) ने इन दोनों को 16 फरवरी 2018 को कारण बताओ नोटिस जारी किया था और जवाब देने के लिए 1 हफ्ते का वक्त दिया था. चूंकि वो तयशुदा वक्त में जवाब नहीं दे पाए लिहाजा पीआईए ने 23 फरवरी 2018 को इन दोनों के पासपोर्ट निरस्त कर दिए हैं.


नीरव मोदी ने किया था लौटने से इंकार
इससे पहले 12 हजार 800 करोड़ रुपए के PNB घोटाले के मुख्य आरोपी नीरव मोदी ने सीबीआई जांच में शामिल होने से इंकार किया था. सीबीआई ने नीरव को मेल कर जांच में शामिल होने को कहा था. जिसके जवाब में नीरव मोदी ने लिखा, "मेरा बिजनेस विदेश में है, इसलिए जांच में शामिल नहीं हो सकता."

पीएनबी घोटाले पर पहली बार नीरव ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि मामले को सार्वजनिक कर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने कर्ज वसूली के सभी विकल्प गंवा दिए हैं. देश के बैंकिंग इतिहास की सबसे बड़ी धोखाधड़ी के मुख्य कर्ताधर्ता नीरव ने कहा कि पीएनबी ने मामले को सार्वजनिक कर उससे कर्ज वसूलने के अपने सारे रास्ते बंद कर लिए हैं.

नीरव ने ये भी दावा किया है कि पीएनबी उसकी कंपनियों के ऊपर बाकी कर्ज को बढ़ा-चढ़ाकर पेश कर रही है. पीएनबी मैनेजमेंट को 15-16 फरवरी को लिखी गई एक चिट्ठी में मोदी ने कहा है कि उसकी कंपनियों पर बैंक का बकाया 5000 करोड़ रुपये से कम है.

सीबीआई ने भी किया था आगाह
वहीं इससे पूर्व के घटनाक्रम में सीबीआई ने नीरव मोदी से कहा था कि वो जिस भी देश में हैं, वहां के भारतीय दूतावास से तुरंत सम्पर्क करे जिससे उसके वापस आने के इंतजाम किए जा सकें. 12 हजार 800 करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले में सीबीआई नीरव मोदी और उसके मामा मेहुल चौकसी को लेकर जांच कर रही है. सीबीआई के अलावा प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी इस मामले में केस दर्ज किया है. प्रवर्तन निदेशालय अभी तक नीरव मोदी की करोड़ों की संपत्ति जब्त कर चुका है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Nirav Modi in Hong Kong, India sends provisional arrest order to HK Govt
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story प्राइवेट सेक्टर के कर्मचारियों के लिए गुड न्यूज़, फोन बिल जैसे रीइंबर्समेंट पर नहीं लगेगा GST