अर्थशास्त्र के नोबेल विजेता रिचर्ड थेलर ने किया था नोटबंदी का समर्थन

जहां देश में नोटबंदी के बुरे असर को लेकर कई दिनों से हंगामा बरपा है वहीं इस खबर को काफी प्रचारित किए जाने की संभावना है कि अर्थशास्त्र के नोबेल विजेता ने पीएम नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के कदम को सराहा था.

Nobel Winner of Economics Richard Thaler once Supported The Demonetisation

नई दिल्ली: इस साल अर्थशास्त्र के नोबेल विजेता रिचर्ड थेलर ने भारत में पिछले साल की गयी नोटबंदी की तारीफ की थी. हालांकि जब उन्हें पता चला कि इसके बाद 2000 रुपये के नये नोट भी पेश किये जा रहे हैं तब उन्होंने इस पर क्षोभ भी जाहिर किया था. देश में जहां जीएसटी और नोटबंदी के बुरे असर को लेकर कई दिनों से हंगामा बरपा है वहीं इस खबर को अब काफी प्रचारित किए जाने की संभावना है कि इस बार के अर्थशास्त्र के नोबेल विजेता ने पीएम नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के कदम को सराहा था.

रिचर्ड थेलर ने अपने ट्वीट के जवाब में आई टिप्पणियों में 2000 रुपये के नए नोट पेश किये जाने की जानकारी मिलने पर लिखा था, ‘‘वाकई? निराशाजनक.’’ ये ट्वीट थेलर के नाम से जिस ट्विटर हैंडल से किये गये हैं वह आधिकारिक तौर पर प्रमाणित नहीं है, लेकिन नोबेल पुरस्कार के आधिकारिक फीड में उस हैंडल को टैग किया गया है. लिहाजा इसको आधिकारिक माना जा सकता है.

richard thellar

यूनिवर्सिटी ऑफ शिकागो में अर्थशास्त्र और व्यावहारिक विज्ञान के प्रोफेसर थेलर ने नोटबंदी के बारे में टिप्पणी करते हुए कहा था कि वह इस नीति के पुराने समर्थक हैं. उन्होंने आठ नवंबर 2016 को नोटबंदी से जुड़ी खबर का लिंक ट्वीट करते हुए लिखा था, ‘‘यह एक ऐसी नीति है जिसका मैं पुराना समर्थक हूं. यह कैशलेस सिस्टम की ओर पहला कदम है और भ्रष्टाचार कम करने की दिशा में अच्छी शुरुआत है.’’

रिजर्व बैंक के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन भी इस साल अर्थशास्त्र के लिए नोबेल पुरस्कार की दौड़ में शामिल थे. उन्होंने हाल ही में कहा था कि वह नोटबंदी के समर्थन में कभी नहीं थे.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Nobel Winner of Economics Richard Thaler once Supported The Demonetisation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017