'नोट पर महात्मा गांधी के अलावा कोई नहीं आना चाहिए'

By: | Last Updated: Tuesday, 12 August 2014 4:29 AM

मुंबई: रिजर्व बैंक के गवर्नर रघुराम राजन ने आज कहा कि वह चाहेंगे कि विकसित देशों की राजनैतिक व्यवस्था अपनी खस्ताहाल अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन देने के लिए मौद्रिक नीतियों पर निर्भर रहने की बजाय और अधिक काम करें.

 

राजन ने आज यहां एक कार्यक्रम में कहा, ‘‘औद्योगिक देशों में मेरे साथी (अपनी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए) काफी प्रयास कर रहे हैं और मैं मौद्रिक नीति को कम करने और अर्थव्यवस्था के अन्य हिस्सों को अधिक काम करने को तरजीह दूंगा. इसमें राजनैतिक व्यवस्था भी है जिसे और काम करना होगा. अगर हम काफी प्रयास करते हैं तो हम संकट की संभावना को बढ़ाते हैं.’’

 

भारत रत्न के लिए विभिन्न नामों की चर्चा के बीच रिजर्व बैंक गवर्नर रघुराम राजन ने आज कहा कि नोट पर महात्मा गांधी के अलावा कोई नहीं आना चाहिए. राजन ने कहा, ‘‘अनेक महान भारतीय हैं लेकिन गांधी निश्चित तौर पर सबसे उपर हैं. अनेक महान भारतीय हैं जो नोट पर आ सकते हैं. लेकिन मेरा मानना है कि तकरीबन सभी अन्य लोग विवादास्पद होंगे.’’

 

उन्होंने यह बात रुपये पर प्रसिद्ध वैज्ञानिक होमी भाभा और कवि रवींद्रनाथ टैगोर की तस्वीरें प्रकाशित किए जाने के संबंध में पूछे गए सवाल पर कही. राजन ने विश्वास जताया कि भारत का विदेशी मुद्रा भंडार और मजबूत मैक्रो इकॉनोमिक बुनियादी ढांचा वैश्विक वित्तीय बाजार अस्थिर होने की दशा में प्रतिरोधक के तौर पर काम करेंगे.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: None other than Mahatma Gandhi should there be on Indian notes
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ??? ?????? ?????? ???? ??????? ?????
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017