BJP की धमाकेदार जीत ने भर दी शेयर बाजार के निवेशकों की झोली, सेंसेक्स-निफ्टी में रिकॉर्ड तेजी

PM Modi’s UP election victory spurs market, Nifty hits all-time high

नई दिल्ली: विधानसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी को मिली भारी जीत ने शेयर बाजार के निवेशकों की झोली भर दी है. अकेले बोम्बे स्टॉक एक्सचेंज यानी बीएसई पर निवेश की कीमत यानी मार्केट कैपिटलाइजेशन में डेढ़ लाख करोड़ रुपये से भी ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है.

बीजेपी की इस शानदार जीत के बाद रुपए की हालत में भी सुधार आया है, करीब साल भर के बाद पहली बार रुपए की वैल्यू फिर से 66 के स्तर के नीचे आ गई है. आज एक डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत 65 रुपये 81 पैसे के करीब रही.

चुनावी नतीजों के आने के बाद पहली बार जब मंगलवार को शेयर बाजार में कारोबार शुरू हुआ तो दोनों ही सूचकांक, बीएसई सेंसेक्स और एनएसई निफ्टी, भारी तेजी के साथ खुले. 30 शेयरों वाला सेंसेक्स जहां 500 प्वाइंट से ऊपर था, वहीं एनएसई निफ्टी खुलने के थोड़ी देर बाद ही कारोबार के दौरान अब तक के सबसे ऊंचे स्तर यानी 9122 पर पहुंच गया.

वैसे कारोबार के दौरान कुछ मुनाफावसूली भी हुई. फिर भी सेंसेक्स दो साल के सबसे ऊंचे स्तर यानी 29443 पर बंद हुआ. ये शुक्रवार के मुकाबले करीब 500 प्वाइंट ज्यादा है. दूसरी ओऱ निफ्टी पहली बार नौ हजार के ऊपर बंद होने में कामयाब रहा. निफ्टी में शुक्रवार के मुकाबले डेढ़ सौ प्वाइंट से भी ज्यादा की तेजी देखने को मिली.

आज बैंकिंग शेयरो में काफी उछाल देखने को मिला. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि उत्तर प्रदेश की नयी सरकार की पहली ही कैबिनेट बैठक में किसानों की कर्ज माफी पर फैसला होगा. चूंकि किसानों के कर्ज के डूबे कर्ज मे तब्दील होने की खासी आशंका रही है और कर्ज माफी की सूरत में सरकार से पैसा मिल जाएगा, इसीलिए बैंकों में लोगों ने जमकर खरीदारी की.

आपको बता दें कि बिजली समेत बुनियादी क्षेत्र की विभिन्न कंपनियों में भी निवेशकों ने गहरी दिलचस्पी ली, क्योंकि उम्मीद की जा रही है कि नई सरकार बड़े पैमाने पर बुनियादी सुविधाओं के लिए खर्च करेगी.

बाजार में तेजी का असर ये था कि बीएसई पर मंगलवार को जिन 3045 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, उसमे निवेश की कीमत यानी मार्केट कैपिटलाइजेशन 1 करोड़ 17 लाख 31 हजार 6 सौ 59 रुपये से बढ़कर 1 करोड़ 18 लाख 87 हजार 73 रुपये पर पहुंच गया. यानी एक ही दिन में निवेशकों को एक लाख 55 हजार करोड़ रुपये से भी ज्यादा का फायदा हुआ.

बाजार को उम्मीद है कि चुनावी नतीजों के आने के बाद आर्थिक सुधारों को रफ्तार मिलेगा. साथ ही अगले साल तक राज्य सभा में सत्तारुढ दल को बहुमत मिलने के आसार हैं जिससे महत्वपूर्ण आर्थिक विधेयक अटकेंगे नहीं. फिलहाल, अब सभी की नजर मगंलवार को फेडरल रिजर्व की बैठक पर है. बैठक में ब्याज दर बढ़ाने पर फैसला हो सकता है. अगर ऐसा हुआ तो अमेरिकी बाजार में ज्यादा कमाई होने की उम्मीद में विदेशी निवेशक यहां से पैसा निकालेंगे. इससे शेयर बाजार में कुछ कमजोरी दिख सकती है.

First Published:

Related Stories

कल आधी रात में लॉन्च होगा जीएसटी, यहां पढ़ें 'मेगा इवेंट' का मिनट टू मिनट प्रोग्राम
कल आधी रात में लॉन्च होगा जीएसटी, यहां पढ़ें 'मेगा इवेंट' का मिनट टू मिनट...

नई दिल्ली: 15 अगस्त 1947 को जब देश को आजादी मिली थी उस वक्त आजादी के जश्न को मनाने के लिए संसद भवन के...

अब आएगा 200 का नोट ? RBI में शुरू हुई 200 रुपये के नोटों की छपाई !
अब आएगा 200 का नोट ? RBI में शुरू हुई 200 रुपये के नोटों की छपाई !

नई दिल्लीः देश में अब जल्द 200 रुपये का करेंसी नोट आ सकता है. आर्थित खबरों के पोर्टल ‘इकोनॉमिक...

GST  से छोटे कारोबारी को घाटा नहीं: यहां जानें 'कंपोजिशन स्कीम' के फायदे
GST से छोटे कारोबारी को घाटा नहीं: यहां जानें 'कंपोजिशन स्कीम' के फायदे

नई दिल्लीः जीएसटी लागू होने से सबसे ज्यादा छोटे व्यापारियों को फिक्र हो रही है. उन्हें लग रहा...

इंडिगो ने एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीदने के लिए दिलचस्पी दिखायी
इंडिगो ने एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीदने के लिए दिलचस्पी दिखायी

नई दिल्लीः विमानन बाजार की सबसे बड़ी कंपनी इंडिगो ने एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीदने के लिए...

GOOD NEWS: केंद्रीय कर्मियों के लिए आवास भत्ते में 33,000 रुपये तक की बढ़ोतरी
GOOD NEWS: केंद्रीय कर्मियों के लिए आवास भत्ते में 33,000 रुपये तक की बढ़ोतरी

नई दिल्लीः आवास भत्तों (HRA) में फेरबदल की वजह से 48 लाख केंद्रीय कर्मियों को हर महीने 11 सौ रुपये से 33...

Mcdonald के शौकीनों को झटकाः दिल्ली में 55 में से 43 मैक्डॉनल्ड्स रेस्टोरेंट बंद
Mcdonald के शौकीनों को झटकाः दिल्ली में 55 में से 43 मैक्डॉनल्ड्स रेस्टोरेंट बंद

नई दिल्लीः मैक्डॉनल्ड्स के बर्गर, फ्रेंच फ्राइस के शौकीनों के लिए आज बड़ी चिंता की खबर आई है....

एयर इंडिया पर अपना नियंत्रण बनाए रख सकती है सरकार
एयर इंडिया पर अपना नियंत्रण बनाए रख सकती है सरकार

 नई दिल्लीः सरकार एयर इंडिया का मालिकाना हक अपने पास ही रख सकती है. हालांकि इस बारे फैसला वित्त...

GST: बेहद आसान भाषा में जानें क्या है इनपुट टैक्स क्रेडिट?
GST: बेहद आसान भाषा में जानें क्या है इनपुट टैक्स क्रेडिट?

नई दिल्ली: इनपुट टैक्स क्रेडिट यानी सामान बनाने वाले कारोबारियों को सरकार की तरफ से मिलने वाली...

केंद्रीय कर्मियों के लिए भत्तों में फेरबदल पर कैबिनेट की मुहर, आवास भत्ता ज्यादा मिलेगा
केंद्रीय कर्मियों के लिए भत्तों में फेरबदल पर कैबिनेट की मुहर, आवास भत्ता...

नई दिल्लीः केंद्र सरकार के 48 लाख कर्मचारियों-अधिकारियों के साथ 55 लाख पेंशनर के लिए अच्छी खबर....

जीएसटी में सिर्फ एक दर क्यों नहीं ? यहां पढ़ें सबसे बड़े सवाल का जवाब
जीएसटी में सिर्फ एक दर क्यों नहीं ? यहां पढ़ें सबसे बड़े सवाल का जवाब

नई दिल्ली: दुनिया के कई देशों में जीएसटी यानी एक टैक्स की व्यवस्था पहले से चल रही है. वहां और...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017