‘टाइम’ के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में पीएम मोदी, पेटीएम फाउंडर का नाम

By: | Last Updated: Thursday, 20 April 2017 11:30 PM
PM Narendra Modi, Paytm founder name in Time 100 most influential people list this year

नई दिल्ली: दुनिया की सबसे प्रतिष्ठित पत्रिकाओं में से एक ‘टाइम’ ने ‘दुनिया के 100 सर्वाधिक प्रभावशाली लोगों’ की लिस्ट जारी की है. इस लिस्ट में भारत से सिर्फ 2 लोगों का नाम शामिल है. इसमें एक नाम तो देश के पीएम नरेंद्र मोदी का है और दूसरा नाम जानकर आप जरूर हैरान हो जाएंगे.

टाइम पत्रिका की इस साल के लिए जारी ‘दुनिया के 100 सर्वाधिक प्रभावशाली लोगों’ की सालाना सूची में भारत की ओर से सिर्फ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पेटीएम के फाउंडर विजय शंकर शर्मा को जगह मिली है. इस सूची में सिर्फ 2 भारतीय ही शामिल हैं.

पत्रिका ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरिजा मे को भी अपनी सूची में जगह दी है. इस सूची में दुनिया भर के कलाकारों, नेताओं और प्रमुख हस्तियों को जगह मिली है जिन्हें उनके इनोवेशन, उनकी महत्वाकांक्षा, समस्याओं को हल करने में उनकी प्रतिभा को लेकर सम्मानित किया गया है.

पीएम मोदी 
देश के पीएम मोदी का प्रोफाइल लेखक पंकज मिश्रा ने लिखा है. उन्होंने कहा कि डोनाल्ड ट्रंप के अमेरिका का राष्ट्रपति बनने की कल्पना से भी काफी पहले मई 2014 में मोदी दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के प्रधानमंत्री बन गए. इसमें कहा गया है कि मुस्लिम विरोधी हिंसा में उनकी संदिग्ध भूमिका को लेकर कभी अमेरिका ने उन पर पाबंदी लगा दी थी और स्वदेश में भी उनका राजनीतिक रूप से बहिष्कार किया गया था. लेकिन इस हिंदू राष्ट्रवादी ने परंपरागत मीडिया को पीछे छोड़ते हुए ट्विटर का इस्तेमाल किया और वैश्विकरण में पीछे छूटता महसूस कर रहे लोगों से सीधे तौर पर बात की. उन्होंने स्वार्थी संभ्रांत वर्ग को हटाकर भारत को फिर से महान बनाने का वादा किया.

प्रोफाइल में कहा गया है कि सत्ता में आने के करीब 3 साल बाद भारत की आर्थिक, भू राजनीतिक और सांस्कृतिक सर्वोच्चता के बारे में मोदी की दूरदृष्टि साकार होने से कोसों दूर है. लेकिन हिंदू राष्ट्रवादियों का उनका विस्तारित परिवार धर्मनिरपेक्ष और उदार बुद्धिजीवियों और गरीब मुसलमानों को बलि का बकरा बना रहा है. इसमें कहा गया, ‘‘फिर भी मोदी का आभामंडल कम नहीं हुआ है. वह राजनीतिक रूप से आकर्षित करने, डर की भावना से खेलने और नीचे धकेल दिए जाने या अवरूद्ध गतिशीलता का सामना कर रहे लोगों की सांस्कृतिक असुरक्षा से खेलने की कला में माहिर हैं. वहीं हाल के उत्तर प्रदेश विधानसभा में शानदार चुनावी जीत ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि निर्वाचित शक्तिशाली लोग संभ्रांत वर्ग के खिलाफ वैश्विक विद्रोह का फायदा उठाने वालों में प्रमुख हैं. जारी

पेटीएम के फाउंडर विजय शंकर शर्मा

43 वर्षीय विजय शंकर शर्मा के लिए इंफोसिस के सह संस्थापक नंदन नीलेकणी ने लिखा है कि जब भारत सरकार ने अप्रत्याशित रूप से नवंबर में देश के 86 फीसदी करेंसी नोटों को रद्द कर दिया, तब शर्मा ने परिस्थिति का फायदा उठाया. शर्मा का डिजिटल भुगतान स्टार्टअप पेटीएम ने रोजमर्रा के सामान और सेवाओं के लिए लोगों को अपने इस्तेमाल के लिए आकर्षित किया. नंदन नीलेकणी ने लिखा है कि साल 2016 के अंत तक पेटीएम के 17.7 करोड़ उपयोगकर्ता थे जबकि वर्ष की शुरूआत में यह आंकड़ा 12.2 करोड़ था.

जानें इस साल टाइम की लिस्ट में क्या है खास?
गौरतलब है कि पिछले साल टाइम के 100 सर्वाधिक प्रभावशाली लोगों की सूची में जगह बनाने वाले भारतीयों में आरबीआई गवर्नर रघुराम राजन, टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा, एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा, गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई और फ्लिपकार्ट के संस्थापक बिन्नी बंसल और सचिन बंसल शामिल थे. वहीं, इस साल की सूची में अमेरिका के नये राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंब, उनकी बेटी इवांका ट्रंप और उनके पति जारेद कुशनर, पोप फ्रांसिस, चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग और उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन भी शामिल हैं.

First Published:

Related Stories

एयर इंडिया पर अपना नियंत्रण बनाए रख सकती है सरकार
एयर इंडिया पर अपना नियंत्रण बनाए रख सकती है सरकार

 नई दिल्लीः सरकार एयर इंडिया का मालिकाना हक अपने पास ही रख सकती है. हालांकि इस बारे फैसला वित्त...

GST: बेहद आसान भाषा में जानें क्या है इनपुट टैक्स क्रेडिट?
GST: बेहद आसान भाषा में जानें क्या है इनपुट टैक्स क्रेडिट?

नई दिल्ली: इनपुट टैक्स क्रेडिट यानी सामान बनाने वाले कारोबारियों को सरकार की तरफ से मिलने वाली...

केंद्रीय कर्मियों के लिए भत्तों में फेरबदल पर कैबिनेट की मुहर, आवास भत्ता ज्यादा मिलेगा
केंद्रीय कर्मियों के लिए भत्तों में फेरबदल पर कैबिनेट की मुहर, आवास भत्ता...

नई दिल्लीः केंद्र सरकार के 48 लाख कर्मचारियों-अधिकारियों के साथ 55 लाख पेंशनर के लिए अच्छी खबर....

जीएसटी में सिर्फ एक दर क्यों नहीं ? यहां पढ़ें सबसे बड़े सवाल का जवाब
जीएसटी में सिर्फ एक दर क्यों नहीं ? यहां पढ़ें सबसे बड़े सवाल का जवाब

नई दिल्ली: दुनिया के कई देशों में जीएसटी यानी एक टैक्स की व्यवस्था पहले से चल रही है. वहां और...

क्या जीएसटी से छोटे कारोबारियों का नुकसान है? यहां दूर होंगी सारी चिंताएं
क्या जीएसटी से छोटे कारोबारियों का नुकसान है? यहां दूर होंगी सारी चिंताएं

नई दिल्लीः जीएसटी लागू में होने में अब बेहद कम वक्त बचा है और इससे सबसे ज्यादा फिक्र छोटे...

लाखों केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफाः 7वें वेतन आयोग के भत्तों को सरकार की मंजूरी
लाखों केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफाः 7वें वेतन आयोग के भत्तों को सरकार...

नई दिल्लीः देश के 47 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को आज सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है. केंद्र सरकार ने...

SPICEJET की मेगा मॉनसून सेलः 699 रुपये में भर लें हवाई उड़ान
SPICEJET की मेगा मॉनसून सेलः 699 रुपये में भर लें हवाई उड़ान

नई दिल्ली: गर्मियों की छुट्टी खत्म होने के बाद अब एयरलाइन कंपनियों ने मानसून के लिए सस्ते हवाई...

Reliance चेयरमैन मुकेश अंबानी का सालाना वेतन 15 करोड़ रुपये पर कायम
Reliance चेयरमैन मुकेश अंबानी का सालाना वेतन 15 करोड़ रुपये पर कायम

नई दिल्ली: रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर मुकेश अंबानी का सालाना वेतन...

1 जुलाई से इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए PAN को आधार से लिंक करना अनिवार्य
1 जुलाई से इनकम टैक्स रिटर्न भरने के लिए PAN को आधार से लिंक करना अनिवार्य

नई दिल्ली: सरकार ने आने वाली एक जुलाई से टैक्सपेयर के मौजूदा आधार नंबरों को पैन कार्ड से जोड़ना...

यात्रियों के टिकट कैंसिलेशन के जरिए 2016-17 में रेलवे ने कमाए 14.07 अरब रुपये
यात्रियों के टिकट कैंसिलेशन के जरिए 2016-17 में रेलवे ने कमाए 14.07 अरब रुपये

नई दिल्लीः रेलवे को टिकटों की बिक्री के साथ टिकट कैंसिलेशन से भी शानदार कमाई हो रही है....

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017