RBI ने लॉन्च किया अपना एपः मिलेगी सारी जानकारी आपके फोन पर

RBI ने लॉन्च किया अपना एपः मिलेगी सारी जानकारी आपके फोन पर

नई दिल्लीः आरबीआई ने आज लोगों के लिए एक बड़ा ऐलान किया है. आरबीआई ने अपनी वेबसाइट www.rbi.org.in का एप वर्जन लॉन्च कर दिया है यानी अब आपके स्मार्टफोन पर आपको आरबीआई की सारी खबरें, नए नोटिफिकेशन और ट्वीट आदि मिल पाएंगे जिनसे आरबीआई के नए-नए फैसलों की जानकारी मिल पाएगी.

आरबीआई ने जो एप लॉन्च किया है इस मोबाइल एप को एंड्रॉएड के साथ आईओएस प्लेटफॉर्म पर भी प्ले स्टोर के जरिए डाउनलोड किया जा सकेगा. एंड्रॉइड फोन, आईफोन पर आप प्ले स्टोर पर रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया टाइप करके इस एप को डाउनलोड कर सकते हैं.

क्या है आरबीआई एप की खासियत?

  • आरबीआई की इस एप के जरिए आपको आरबीआई के सारे प्रेस रिलीज, आईएफएससी/एमआईसीआर कोड, बैंकों की छुट्टियों की जानकारी के साथ-साथ आरबीआई की क्रेडिट पॉलिसी के तहत बदलने वाले रेट की भी तुरंत जानकारी मिल पाएगी. 4 मुख्य करेंसी का रेफरेंस रेट भी आपको इसी एप के साथ पता चलता रहेगा.
  • एप को ओपन करते ही जो पहला पेज आपके सामने आएगा उसमें सबसे ऊपर आपको 3 लोगों को जागरूक करने वाले संदेश दिखेंगे, इसके तहत नए 2000 और 500 के नए करेंसी नोट्स के नए डिजाइन दिखेंगे. इसके साथ ही ‘आरबीआई कहता है’ सीरीज के तहत आरबीआई का केवाईसी से जुड़ा संदेश दिखेगा. इनमें किसी को भी क्लिक करने पर आपको इस पूरी खबर का टेक्स्ट और जन-जागरुकता से जुड़े सारे संदेश दिखेंगे.
  • इसके अलावा यूजर इसमें पुश नोटिफिकेशन का ऑप्शन भी शुरू कर सकता है जिससे आरबीआई की किसी भी नई रिलीज, नए फैसले का आपको इंस्टेंट अलर्ट अपने फोन पर मिल जाएगा.

इस एप को और यूजर फ्रेंडली बनाने और रोचक बनाने के लिए यूजर्स ई-मेल के जरिए फीडबैक और अपने सुझाव भी भेज सकते हैं. इस तरह इस एप के जरिए आप आरबीआई के हर फैसले से जुड़े रह सकते हैं जिसका सीधा असर आपकी जेब पर पड़ता है और आपको उसे जानना चाहिए.

First Published: Friday, 10 March 2017 9:00 PM

Related Stories

फॉर्चून टॉप-50 लिस्ट में भारत से शामिल अकेली कॉर्पोरेट लीडर बनी एसबीआई चीफ अरुंधति भट्टाचार्य
फॉर्चून टॉप-50 लिस्ट में भारत से शामिल अकेली कॉर्पोरेट लीडर बनी एसबीआई चीफ...

मुंबई: भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) की प्रमुख अरुंधति भट्टाचार्य को फॉर्चून की टॉप 50 महान नेताओं...

आयकर विभाग की जांच में 49,247 करोड़ रुपये का खुलासाः वित्त राज्यमंत्री
आयकर विभाग की जांच में 49,247 करोड़ रुपये का खुलासाः वित्त राज्यमंत्री

नई दिल्लीः इनकम टैक्स विभाग काले धन पर लगाम लगाने के लिए लगातार कड़े कदम ले रहा है और इसी कड़ी...

CBIC का नया नाम सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेज एंड कस्टम्स होगा
CBIC का नया नाम सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेज एंड कस्टम्स होगा

नई दिल्लीः पूरे देश को एक बाजार बनाने वाली व्यवस्था वस्तु व सेवा कर यानी जीएसटी के मद्देनजर अब...

1 अप्रैल तक शनिवार-रविवार को भी खुले रहेंगे बैंक, आरबीआई का निर्देश
1 अप्रैल तक शनिवार-रविवार को भी खुले रहेंगे बैंक, आरबीआई का निर्देश

मुंबई : भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने सार्वजनिक क्षेत्र के सभी बैंकों और कुछ निजी बैंकों को 25...

सेबी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज को एफएंडओ ट्रेडिंग करने से बैन किया
सेबी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज को एफएंडओ ट्रेडिंग करने से बैन किया

नई दिल्ली:  स्टॉक मार्केट रेगुलेटर ने सेबी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज और 12 दूसरी कंपनियों पर शेयरों...

1 अप्रैल से बदल जाएंगे इन्कम टैक्स, बैंक और प्रॉपर्टी से जु़ड़े ये बड़े नियम !
1 अप्रैल से बदल जाएंगे इन्कम टैक्स, बैंक और प्रॉपर्टी से जु़ड़े ये बड़े नियम !

नई दिल्लीः 1 अप्रैल आने वाला है और नए वित्त वर्ष के साथसाथ आपकी रोजमर्रा की जिंदगी में भी कई...

5000 और 10,000 के नोट लाने की कोई योजना नहीं: सरकार
5000 और 10,000 के नोट लाने की कोई योजना नहीं: सरकार

नई दिल्लीः कई दिनों से बाजार में खबरे चल रही थीं कि सरकार 5000 और 10,000 रुपये का नया नोट लाने वाली है....

तेजी के बाद सेंसेक्स 29500 के करीब, निफ्टी 9100 के ऊपर बंद
तेजी के बाद सेंसेक्स 29500 के करीब, निफ्टी 9100 के ऊपर बंद

नई दिल्लीः भारतीय शेयर बाजार में आज तेजी के साथ कारोबार खत्म हुआ है. सेंसेक्स और निफ्टी 0.25 फीसदी...

लोकसभा में आज पेश किए जाएंगे GST से जुड़े चार विधेयक, एक जुलाई से होगा लागू
लोकसभा में आज पेश किए जाएंगे GST से जुड़े चार विधेयक, एक जुलाई से होगा लागू

नई दिल्ली: लोकसभा में आज देश में एक टैक्स वाले कानून जीएसटी से जुड़े चार विधेयक पेश किए जाएंगे....

केवल संसद तय कर सकती है कि जनता का धन कैसे खर्चा जाए: अरुण जेटली
केवल संसद तय कर सकती है कि जनता का धन कैसे खर्चा जाए: अरुण जेटली

नई दिल्ली: अक्सर ये सवाल उठते रहते हैं कि जनता के धन को राजनीतिक पार्टियां कैसे खर्च करती हैं...