RELIANCE बनी दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी एनर्जी कंपनी: टॉप-10 में 2 भारतीय कंपनियां

RELIANCE बनी दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी एनर्जी कंपनी: टॉप-10 में 2 भारतीय कंपनियां

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी ऊर्जा कंपनी बन गयी है. रिलायंस ने पिछले साल की तुलना में इस मामले में पांच स्थानों की छलांग लगायी है. उससे आगे रूस की गैस फर्म गेज़प्रॉम और जर्मनी की ई.ऑन है.

By: | Updated: 25 Sep 2017 10:49 PM

नई दिल्ली: रिलायंस इंडस्ट्रीज जहां देश की सबसे बड़ी और सबसे अमीर कंपनी तो है ही, अब इसने वैश्विक बाजार में ऐसा मुकाम हासिल कर लिया है जिसे जानकर आपको गर्व होगा. रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिडेट दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी ऊर्जा कंपनी बन गयी है. रिलायंस ने पिछले साल की तुलना में इस मामले में पांच स्थानों की छलांग लगायी है. उससे आगे रूस की गैस फर्म गेज़प्रॉम और जर्मनी की ई.ऑन है.


रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी जो देश के सबसे अमीर उद्योगपति भी हैं ने हाल ही में देश में रिलायंस जियो के नए स्मार्टफोन को लॉन्च किया था. रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रुप की रिलायंस जियो देश की सबसे तेजी से बढ़ती टेलीकॉम कंपनी बन गई है.


रूस की गेज़प्रॉम बनी नंबर 1 एनर्जी कंपनी
रूस की गेज़प्रॉम ने अमेरिका की तेज और गैस क्षेत्र की दिग्गज एक्सॉन मोबिल की 12 साल की बादशाहत को खत्म करते हुये सूची में पहला स्थान प्राप्त किया है. इस साल सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी जर्मनी की ई.ऑन है. वह 112 स्थान की छलांग लगाकर 114वें से सीधे दूसरे स्थान पर पहुंच गयी है.


प्लैट्स की शीर्ष 250 ग्लोबल एनर्जी कंपनी रैंकिंग के मुताबिक सरकारी कंपनी इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिस्ट में टॉप 10 में स्थान बनाने में कामयाब रही. इंडियन ऑयल को सातवां स्थान मिला है. 2016 में वह 14वें और 2015 में 66वें स्थान पर थी.


भारतीय कंपनियों में से इन कंपनियों ने बनाई लिस्ट में जगह
ऑयल और नैचुरल गैस कॉर्पोरेशन (ओएनजीसी) को 2017 की सूची में 11वां स्थान मिला है जबकि 2016 में 20वें स्थान पर थी. रैकिंग में शामिल दूसरी कंपनियों में भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (39वें स्थान पर), हिंदुस्तान पेट्रोलियम (48वें स्थान पर), पावर ग्रिड कॉर्प (81वें स्थान पर) और गेल इंडिया (106वें स्थान पर) हैं.


प्लैट्स ने अपने में बयान में कहा, "उर्जा क्षेत्र से जुड़ी 14 भारतीय कंपनियां एस एंड पी ग्लोबल प्लैट्स शीर्ष 250 एनर्जी कंपनी रैंकिंग में स्थान पाने में कामयाब रही हैं, जो पिछले बार की तुलना में एक कम है." दुनिया की सबसे बड़ी तेल ऑयल रिफाइनरी का मालिकाना हक रखने वाली रिलायंस को पिछले साल इस लिस्ट में आठवां स्थान प्राप्त हुआ था. कोल इंडिया लिमिडेट इकलौती ऐसी भारतीय कंपनी है जिसकी रैंकिंग में गिरावट आयी है. वर्ष 2017 में कोल इंडिया को 45वां स्थान मिला है जबकि 2016 में वह 38वें स्थान पर काबिज थी.


एसएंडपी ग्लोबल प्लैट्स हर साल 250 टॉप एनर्जी कंपनियों की लिस्ट निकालती है. इन कंपनियों को चार प्रमुख मैट्रिक्स जैसे ऐसेट की वर्थ, रेवेन्यू, प्रॉफिट और निवेशित पूंजी पर रिटर्न का इस्तेमाल करते हुए वित्तीय प्रदर्शन के आधार पर कंपनियों को स्थान देता है. सूची में शामिल सभी कंपनियों की प्रॉपर्टी 5.5 अरब डॉलर से अधिक है.


त्योहारी सीजन में फिलहाल चांदी नहीं 'सोना' खरीदिए: आज फिर गिरे सोने के दाम


हर घर में बिजली योजना की शुरुआत, पीएम बोले- 'सौभाग्य योजना' से हर भारतीय का चमकेगा भाग्य


खरीफ फसलों के उत्पादन में आ सकती है कमी, कम बारिश से बुवाई अब तक कम


SBI ने दी बड़ी राहत: मिनिमम बैलेंस की लिमिट 5000 से घटाकर 3000 रुपये की

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story देवरिया, मथुरा, दलसिंहसराय, गया जैसे 40 शहरों में अब खुलेंगे कॉल सेंटर