Reserve Bank again warns against the risk of Bitcoin - रिजर्व बैंक ने बिटकॉइन के जोखिमों के प्रति आगाह किया

निवेशकों में बिटकॉइन के बढ़ते आकर्षण के बीच RBI ने खतरों से किया आगाह

बिटकॉइन एक प्रकार की डिजीटल करेंसी है. आम बोलचाल की भाषा में इसे इंटरनेट करेंसी भी कहा जाता है. इसको हम अपने घर या अपने जेब में नहीं रख सकते क्योंकि ये किसी तरह का नोट या कोई कॉइन नहीं है.

By: | Updated: 06 Dec 2017 09:47 AM
Reserve Bank again warns against the risk of Bitcoin

Bitcoin (virtual currency) coins placed on Dollar banknotes are seen in this illustration picture, November 6, 2017. REUTERS/Dado Ruvic/Illustration

मुंबई: बिटकॉइन के नई ऊंचाई पर पहुंचने से इसको लेकर निवेशकों का आकर्षण बढ़ रहा है. इसी के मद्देनजर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने जनता को बिटकॉइन के खतरे को लेकर चेतावनी दी है.


केंद्रीय बैंक ने इस बारे में इसके पहेल जारी की गई चेतावनी का ज़िक्र करते हुए कहा कि कई बिटकॉइन के मूल्यांकन में तेजी और इनिशियल कॉइन पेशकशों (आईसीओ) में तेज वृद्धि के मद्देनजर हम अपनी चिंता को फिर दोहराते हैं.


बताते चलें कि एक बिटकॉइन का दाम पिछले सप्ताह 11,000 डॉलर के ऊंचे स्तर पर पहुंच गया है, जिसने सबको हैरान कर दिया था. बिटकॉइन का किसी मौद्रिक प्राधिकरण द्वारा नियमन नहीं होता है. इसका सीधा मतलब है कि ये करेंसी किसी देश या बैंक की तरफ से जारी नहीं की गई है और इसका कोई लीगल टेेंडर नहीं है.


क्या है बिटकॉइन


बिटकॉइन एक प्रकार की डिजीटल करेंसी है. आम बोलचाल की भाषा में इसे इंटरनेट करेंसी भी कहा जाता है. इसको हम अपने घर या अपने जेब में नहीं रख सकते क्योंकि ये किसी तरह का नोट या कोई कॉइन नहीं है. इसे आप सिर्फ ऑनलाइन ही इस्तेमाल कर सकते हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Reserve Bank again warns against the risk of Bitcoin
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story रिपोर्ट: अगले साल वेतन वृद्धि बेहतर रहने की उम्मीद