शेयर बाजार: विधेयकों और आंकड़ों से उतार-चढ़ाव की संभावना

By: | Last Updated: Sunday, 10 May 2015 10:00 AM

मुंबई: देश के शेयर बाजारों में सोमवार से शुरू होने वाले आगामी कारोबारी सप्ताह में उतार-चढ़ाव की संभावना है. विशेषज्ञों के मुताबिक, निवेशकों का ध्यान आगामी सप्ताह में न्यूनतम वैकल्पिक कर (एमएटी) से संबंधित मुद्दों, महत्वपूर्ण आर्थिक आंकड़ों और महत्वपूर्ण विधेयकों को पारित कराने की सरकार की कोशिश पर टिका रहेगा.

 

जायफिन एडवाइजर्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी देवेंद्र नेवगी ने कहा, “कई मुद्दों पर अनिश्चितता के कारण बाजार में उतार-चढ़ाव रहने की उम्मीद है. निवेशकों का मुख्य ध्यान न्यूनतम वैकल्पिक कर (एमएटी) से संबंधित मुद्दों पर टिका रहेगा.”

 

निवेश लाभ पर एमएटी से विदेशी निवेशकों का मार्जिन घट जाने का अनुमान है. इसके कारण निवेशक भारतीय शेयर बाजार में निवेश करने से कतरा रहे हैं. आठ मई को समाप्त सप्ताह में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों ने भारतीय शेयर बाजारों में शुद्ध बिकवाली की. उन्होंने शेयर बाजारों में कुल 1.02 अरब डॉलर (6,553.44 करोड़ रुपये) मूल्य के शेयर बेचे.

 

नेवगी ने कहा, “बाजार पर बजट सत्र का भी महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ सकता है. निवेशक प्रमुख विधेयकों को पारित कराने के लिए सरकार की जद्दोजहद पर विशेष निगाह रखेंगे.”

 

लोकसभा का सत्र पहले शुक्रवार को समाप्त होने वाला था, लेकिन इसे बढ़ाकर बुधवार तक कर दिया गया है. इसी दिन राज्यसभा का सत्र भी पूरा होने वाला है.माना जा रहा है कि सरकार भूमि अधिग्रहण, वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) और विदेशों में जमा काले धन संबंधी विधेयकों को पारित कराने की विशेष कोशिश करेगी.

 

कोटक सिक्युरिटीज के प्राइवेट क्लाइएंट ग्रुप के प्रमुख दीपेन शाह ने कहा, “आगामी सप्ताह राज्यसभा में जीएसटी विधेयक से संबंधित घटनाक्रम, महंगाई दर के आंकड़े और ग्रीस से संबंधित घटनाक्रमों पर विशेष निगाह रहेगी.” अमेरिका में बेरोजगारी दर में तेज गिरावट पर फेडरल रिजर्व की प्रतिक्रिया का भी बाजार पर असर रह सकता है.

 

अमेरिका में रोजगार के बेहतर आंकड़ों के कारण फेडरल रिजर्व जल्द ही ब्याज दर बढ़ाने का फैसला कर सकती है, जिससे निवेशक उभरती अर्थव्यवस्था से अपनी पूंजी निकालकर अमेरिका में निवेश के लिए प्रोत्साहित हो सकते हैं. इसके कारण देश के बाजार में तेज गिरावट देखी जा सकती है.

 

जियोजीत बीएनपी पारिबा के फंडामेंटल रिसर्च के प्रमुख विनोद नायर ने कहा, “आगामी सप्ताह में चौथी तिमाही परिणामों और महत्वपूर्ण विधेयकों से संबंधित घटनाक्रम बाजार को प्रभावित करेंगे.”

 

एमएटी से संबंधित मुद्दे, चौथी तिमाही के कमजोर परिणाम, तेल मूल्य में वृद्धि और अमेरिका में रोजगार के बेहतर आंकड़ों के कारण बाजार में बिकवाली का माहौल रहा.नेवगी ने हालांकि कहा कि पिछले कुछ सप्ताहों की बिकवाली के कारण बाजार में प्रवेश करना अपेक्षाकृत सस्ता हो गया है और घरेलू निवेशक चुन-चुन कर शेयर खरीद रहे हैं.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sensex
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

GST के बाद रेंस्टोरेंट बिल में दिख रहे हैं SGST, CGST अलग-अलगः जानें क्यों
GST के बाद रेंस्टोरेंट बिल में दिख रहे हैं SGST, CGST अलग-अलगः जानें क्यों

नई दिल्लीः जैसा कि आप जानते ही हैं कि 1 जुलाई से जीएसटी लागू हो चुका है यानी एक देश-एक टैक्स की...

सेंसेक्स में 300 अंकों का शानदार उछाल, निफ्टी फिर 10,000 के करीब
सेंसेक्स में 300 अंकों का शानदार उछाल, निफ्टी फिर 10,000 के करीब

नई दिल्लीः आज शेयर बाजार में शानदार उछाल के साथ कारोबार बंद हुआ है. सेंसेक्स और निफ्टी दोनों...

जेपी विवाद पर बोले वित्त मंत्री: 'जिन लोगों ने पैसा लगाया है, उन्हें फ्लैट मिलना चाहिए'
जेपी विवाद पर बोले वित्त मंत्री: 'जिन लोगों ने पैसा लगाया है, उन्हें फ्लैट...

नई दिल्लीः एनसीआर में जेपी इंफ्राटेक के प्रोजेक्ट्स में घर खरीदारों के लिए थोड़ी राहत की किरण...

हिमाचल के लोगों को तोहफाः सरकार ने डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया
हिमाचल के लोगों को तोहफाः सरकार ने डीए में 4 फीसदी बढ़ोतरी का ऐलान किया

हिमाचल: हिमाचल प्रदेश के सरकारी कर्मचारियों को आज राज्य सरकार ने तोहफा दिया है. हिमाचल प्रदेश...

नोटबंदी के बाद लोन हुए सस्ते, बैंकों की ब्याज दरें घटीं: पीएम मोदी
नोटबंदी के बाद लोन हुए सस्ते, बैंकों की ब्याज दरें घटीं: पीएम मोदी

नई दिल्ली: आज स्वतंत्रता दिवस पर देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि...

सहारा को झटकाः एंबी वैली प्रोजेक्ट की नीलामी शुरू, रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़ रुपये
सहारा को झटकाः एंबी वैली प्रोजेक्ट की नीलामी शुरू, रिजर्व प्राइस 37,392 करोड़...

नई दिल्लीः सहारा समूह के लिए आज बड़े झटके की खबर है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के 3 दिन बाद आज...

जेपी इंफ्रा की संपत्ति बेच अटकी परियोजनाएं पूरी करने की संभावनाएं खंगालने में जुटी सरकार
जेपी इंफ्रा की संपत्ति बेच अटकी परियोजनाएं पूरी करने की संभावनाएं खंगालने...

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे नोएडा और ग्रेटर नोएडा में जेपी इंफ्राटेक के घर...

जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी
जुलाई में थोक मंहगाई दर 1.88 फीसदी बढ़ी, खाने-पीने की चीजें हुईं महंगी

नई दिल्लीः देश के थोक मूल्य सूचकांक पर आधारित महंगाई दर जुलाई में बढ़कर 1.88 फीसदी रही. वाणिज्य...

AC रेस्टोरेंट के बिना एसी वाले एरिया से खाना पैक कराने पर भी 18% जीएसटी
AC रेस्टोरेंट के बिना एसी वाले एरिया से खाना पैक कराने पर भी 18% जीएसटी

नई दिल्ली: किसी होटल का एक हिस्सा अगर एयर कंडीशनर (एसी) है तो वहां से खाना पैक कराकर ले जाने या...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017