कल की बड़ी गिरावट के बाद आज शेयर बाजार पर नजर, एक दिन में निवेशकों के सात लाख करोड़ डूबे

By: | Last Updated: Tuesday, 25 August 2015 1:43 AM
sensex  huge fall

मुंबईः शेयर बाजार कल सुबह सप्ताह के पहले दिन की शुरुआत में ही धड़ाम हो गया. बाजार खुलते ही सेंसेक्स में 1000 अंक तक की बड़ी गिरावट से बाजार में हड़कंप मच गया.  तकरीबन दो घंटे के बाद भी बाजार की हालत में कोई खास सुधार नहीं नजर आ रहा है, डॉलर के मुकाबले रुपया 66.49 रुपये पर जा पहुंचा है.  दुनिया भर के शेयर बाजारों में गिरावट का असर भारतीय शेयर बाजार में भी देखा जा रहा है.

 

महज एक दिन में निवेशकों के सवा सात लाख करोड़ रुपये  डूब गए.

 

 

रुपया 2 साल के सबसे निचले स्तर पर पहुंचा

डॉलर के मुकाबले रूपया दो साल के सबसे निचले स्तर तक पहुंच गया . एक डॉलर की कीमत करीब साढ़े 66.49 रुपये तक पहुंच गई है. विदेशों में अमेरिकी मुद्रा के कमजोर होने के कारण पूंजी के निकास के बरकरार रहने के कारण ऐसा हुआ.

 

आयातकों और बैंकों द्वारा डालर की मजबूत मांग तथा घरेलू इक्विटी बाजारों में भारी नुकसान के कारण स्थानीय मुद्रा पर दबाव बढ़ गया.फोरेक्स डीलरों ने यह जानकारी दी. वैश्विक आर्थिक मंदी की चिंताओं के बीच विदेशों में प्रमुख वैश्विक मुद्राओं के मुकाबले डालर के कमजोर पड़ने के बावजूद रूपये में गिरावट आयी.

 

RBI गवर्नर ने कहा- घबराएं नहीं, हम बाकियों से बेहतर हालत में

स्टाक और रूपये में भारी गिरावट के बीच, आरबीआई के गवर्नर रघुराम राजन ने कहा कि कई अन्य देशों के मुकाबले देश बेहतर स्थिति में है. राजन ने कहा, ‘मैं बाजारों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि मैक्रोइकोनोमिक्स कारक नियंत्रण में हैं, देश के पास 380 अरब डालर का विदेशी मुद्रा भंडार है.’

 

बता दें कि प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह लगभग 9.27 बजे 827.41 अंकों की गिरावट के साथ 26,538.66 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 267.80 अंकों की गिरावट के साथ 8,032.15 पर कारोबार करते देखे गए. आज सुबह सेंसेक्स 1000 से ज्यादा अंक तक नीचे जा गिरा.

 

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 635.67 अंकों की गिरावट के साथ 26,730.40 पर खुला.वहीं, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 244.00 अंकों की गिरावट के साथ 8,055.95 पर खुला.

 

मोदी पर विपक्ष का निशाना

शेयर बाजारों में आई गिरावट पर कांग्रेस महा सचिव दिग्विजय सिंह ने ट्वीट करते हुए लिखा,  ”डॉलर के मुकाबले रुपया 66.49 रुपया जा लुढ़का और शेयर बाजार 1000 अंक जा लुढ़का, इसके बाद भी प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि हम अच्छा काम कर रहे हैं.”

 

वहीं आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता आशुतोष ने ट्विट कर लिखा, ”भारत की अर्थव्यवस्था बेहद बुरे दौर से गुजर रही है, मोदी सरकार लोगों को  विश्वास में नहीं ले पा रही है, सरकार केवल बड़ी बातें कर रही है कोई काम नहीं कर रही है.”

 

इन पांच वजहों से धराशाई हुई  शेयर बाजार

 

1. चीन की अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी पड़ने की आशंका बढ़ गई है. शुक्रवार को अतंर्राष्ट्रीय बाजार में कॉपर और एल्युमिनियम के भाव 6 साल पहले के स्तर पर चले गए थे. हाल के बरसों में चीन के कारखानों में तेजी से प्रोडक्शन बढ़ रहा था और खासकर कॉपर की मांग उसी वजह से बढ़ रही थी. इसलिए कॉपर के दाम गिरने को बड़ा संकेत माना जाता है.

2. दो हफ्ते पहले चीन ने अपनी मुद्रा युआन का मूल्य कम किया था. वो सबसे बड़ा संकेत था कि चीन के उद्योग धीमे पड़ रहे हैं और सरकार मुद्रा का मूल्य कम करके एक्सपोर्ट बढ़ाने की कोशिश कर रही है. लेकिन उसके बावजूद बाजार संभल नहीं पाए तो अब पैनिक घर कर गया है. वही पैनिक सोमवार को शेयर बाजार खुलते ही दिखा. अंतर्राष्ट्रीय निवेशक चीन की कंपनियों के शेयर बेचकर बाहर निकल रहे हैं.
 

3. शुक्रवार को अमेरिकी शेयर बाजार में 2011 के बाद की सबसे बड़ी गिरावट आई तो चीन की सरकार ने अपने पेंशन फंड को शेयर बाजार में निवेश करने की इजाजत दे दी. ये दुनिया का सबसे बड़ा पेंशन फंड है. लेकिन सोमवार सुबह बाकी निवेशकों में शेयर बेचने की ऐसी होड़ लगी कि चीन के पेंशन फंड का पैसा भी बाजार को संभालने में नाकाम रहा. इसलिए पैनिक बढ़ गया और शांघाई स्टॉक एक्सचेंज का इंडेक्स 8 फीसदी से ज्यादा लुढक गया.
 

 

4. कच्चे तेल के दाम भी अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 6 साल पहले के स्तर पर पहुंच गए हैं. चीन से लगातार बढ़ रही मांग अब गायब हो चुकी है इसलिए कच्चे तेल के दाम लुढ़कते जा रहे हैं और दुनिया भर में अर्थव्यवस्था की रफ्तार धीमी पड़ने की आशंका बढ़ गई है.

 

5. बाकी एशियाई देशों की करेंसी की तरह रुपया भी लुढ़क गया है. अमेरिका में ब्याज दरें बढ़ने की उम्मीद है. विदेशी निवेशक अमेरिकी बॉन्ड का रुख करेंगे. इसिलिए चीन अभी अपनी मुद्रा की कीमत और घटा सकता है. डॉलर के मजबूत होने से रुपया और कमजोर होगा और विदेशी निवेशकों को भारत में अभी कोई बढ़त के आसार वैसे भी नहीं दिख रहे हैं. क्योंकि मॉनसून पर सवाल बना हुआ और जीएसटी जैसे कानून अटके पड़े हैं.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sensex huge fall
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: fall nifty sensex sharemarket
First Published:

Related Stories

सरकारी बंगलों-फ्लैट में रहने वालों की जेब पर बढ़ा बोझः बढ़ गई लाइसेंस फीस
सरकारी बंगलों-फ्लैट में रहने वालों की जेब पर बढ़ा बोझः बढ़ गई लाइसेंस फीस

नई दिल्ली: केन्द्र सरकार के कर्मचारियों और अधिकारियों को मिलने वाली आवासीय सुविधा अब से महंगी...

इंफोसिस 13 हजार करोड़ रु के अपने शेयर वापस खरीदेगा
इंफोसिस 13 हजार करोड़ रु के अपने शेयर वापस खरीदेगा

नई दिल्लीः ‘विशाल’ मुसीबत से उबरने की कोशिश में लगी इंफोसिस ने अपने निवेशकों को कुछ राहत देने...

SBI ने मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर खाताधारकों से वसूले 235.06 करोड़ रुपये
SBI ने मिनिमम बैलेंस नहीं रखने पर खाताधारकों से वसूले 235.06 करोड़ रुपये

नई दिल्लीः देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने खातों में तय मासिक औसत जमा राशि...

Good News: देश का विदेशी मुद्रा भंडार 393.612 अरब डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर
Good News: देश का विदेशी मुद्रा भंडार 393.612 अरब डॉलर की रिकॉर्ड ऊंचाई पर

नई दिल्ली: देश के लिए विदेशी मुद्रा के मोर्चे से अच्छी खबर आई है. देश का विदेशी मुद्रा भंडार 11...

नोटबंदी के बाद नए करदाताओ को लेकर आयकर विभाग की सफाई
नोटबंदी के बाद नए करदाताओ को लेकर आयकर विभाग की सफाई

नई दिल्लीः नोटबंदी के बाद टैक्स देने वालों की गिनती में हुई बढ़ोतरी को लेकर उठ रहे सवालों पर...

RBI ने 50 रुपये के नए नोट लाने का एलान किया
RBI ने 50 रुपये के नए नोट लाने का एलान किया

नई दिल्लीः आरबीआई ने 50 रुपये के नए नोट जारी करने का एलान किया है. 50 रुपये का नया नोट फ्लोरिसेंट...

सेंसेक्स 270 अंक गिरकर 31524 पर बंदः 9850 के नीचे फिसला निफ्टी
सेंसेक्स 270 अंक गिरकर 31524 पर बंदः 9850 के नीचे फिसला निफ्टी

नई दिल्लीः आज का दिन घरेलू बाजारों के लिए बेहद खराब साबित हुआ है. इंफोसिस के सीईओ और एमडी विशाल...

विशाल सिक्का का इंफोसिस के एमडी-सीईओ पद से इस्तीफा, शेयर 7% तक टूटे
विशाल सिक्का का इंफोसिस के एमडी-सीईओ पद से इस्तीफा, शेयर 7% तक टूटे

भारत की दूसरी सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा कंपनी इन्फोसिस के सीईओ और एमडी विशाल सिक्का ने अपने...

2 बैंकों ने दिया ग्राहकों को झटकाः घटा दी सेविंग खातों पर ब्याज दरें
2 बैंकों ने दिया ग्राहकों को झटकाः घटा दी सेविंग खातों पर ब्याज दरें

नई दिल्लीः अब बैंक भी ब्याज दरें घटाकर ग्राहकों को झटका दे रहे हैं. आज देश के दूसरे सबसे बड़े...

दिवालियेपन के कगार पर पहुंची जेपी इंफ्रा के घर खरीदारों के लिए दावा ठोकना हुआ आसान
दिवालियेपन के कगार पर पहुंची जेपी इंफ्रा के घर खरीदारों के लिए दावा ठोकना...

नई दिल्लीः जेपी इंफ्राटेक की परियोजनाओं में घर के लिए पैसा लगाने के लिए राहत की खबर. सरकार ने...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017