सेंसेक्स 60 अंक चढ़ा, चार माह की बड़ी बढ़त हासिल

By: | Last Updated: Friday, 19 February 2016 7:04 PM
sensex update

मुंबई: बंबई शेयर बाजार में आज अंतिम घंटे में चली लिवाली से सेंसेक्स शुरुआती नुकसान से उबरकर 60 अंक की मामूली बढ़त के साथ बंद हुआ. बैंकों और अन्य बड़ी कंपनियों के शेयरों में उछाल से सेंसेक्स ने अक्तूबर के बाद साप्ताहिक आधार पर सबसे बड़ी बढ़त दर्ज की.

शुरआती कारोबार में यूरोपीय बाजारों में तेजी से भी यहां धारणा को बल मिला. नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 7,200 अंक के पार निकल गया. सेंसेक्स और निफ्टी दोनों ने चार महीने यानी अक्तूबर के बाद सबसे बड़ी साप्ताहिक बढ़त दर्ज की है.

इस सप्ताह के दौरान जहां सेंसेक्स 723.03 अंक या 3.14 प्रतिशत चढ़ा वहीं निफ्टी में 229.80 अंक या 3.29 प्रतिशत का लाभ रहा. इससे पिछले दो सत्रांे में सेंसेक्स 457.25 अंक चढ़ा था.

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स आज 23,640.32 अंक पर नीचे खुलने के बाद कच्चे तेल की कीमतों में कमजोरी से और टूटा. हालांकि, बाद में इसने मजबूती के साथ वापसी की. अंतिम चरण में चली लिवाली तथा सट्टेबाजों की शॉर्ट कवरिंग से सेंसेक्स 59.93 अंक या 0.25 प्रतिशत के लाभ के साथ 23,709.15 अंक पर बंद हुआ. उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में निफ्टी भी 7,200 अंक के स्तर को पार कर गया. निफ्टी अंत में 19 अंक या 0.26 प्रतिशत के लाभ के साथ 7,210.75 अंक पर बंद हुआ.

सेंसेक्स के 30 शेयरों में 18 लाभ में रहे. एसबीआई का शेयर 3.20 प्रतिशत चढ़कर 164.65 रपये पर पहुंच गया. बैंक ने कारोबार वृद्धि के लिए बांडांे के जरिये 3,000 करोड़ रपये जुटाए हैं. अन्य कंपनियों में हीरो मोटोकार्प, एशियन पेंट्स, बजाज आटो, एनटीपीसी, भारती एयरटेल और महिंद्रा एंड महिंद्रा के शेयर लाभ में रहे.

वहीं दूसरी ओर मारति सुजुकी, भेल, कोल इंडिया, एक्सिस बैंक, डॉ रेड्डीज लैब, एचडीएफसी लि., सनफार्मा, अडाणी पोर्ट्स, सिप्ला, एचडीएफसी बैंक और हिंदुस्तान यूनिलीवर के शेयरों में नुकसान रहा.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: sensex update
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017