शेयर बाजारों में गिरावट जारी, सेंसेक्स व निफ्टी एक माह से अधिक के निचले स्तर पर

By: | Last Updated: Friday, 20 March 2015 1:20 PM

मुंबई: भारतीय शेयर बाजार लगातार तीन दिन की गिरावट के चलते आज एक माह से अधिक के निचले स्तर पर आ गए. बिकवाली के दबाव में बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 208.59 अंक के नुकसान से 28,261.08 और नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 63.75 अंक टूटकर 8,570.90 अंक पर आ गया.

 

कंपनियों के तिमाही नतीजे अगले महीने आने शुरू होंगे. उससे पहले बड़ी कंपनियों के शेयरों में बिकवाली से बाजार में गिरावट आई.

 

रीयल्टी, बिजली, एफएमसीजी, टिकाउ उपभोक्ता सामान, स्वास्थ्य सेवा, वाहन, पूंजीगत सामान, बैंकिंग, धातु व तेल एवं गैस कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई. स्माल कैप और मिड कैप में भी क्रमश: 2.14 प्रतिशत व 1.49 प्रतिशत की गिरावट आई.

 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स आज 28,465.44 अंक पर नुकसान के साथ खुलने के बाद अंत में 208.59 अंक या 0.73 प्रतिशत के नुकसान से 28,261.08 अंक पर बंद हुआ. यह इसका एक माह से अधिक का निचला स्तर है.

 

कारोबार के दौरान यह 28,242.40 से 28,484.36 अंक के दायरे में रहा. यह 9 फरवरी के बाद सेंसेक्स का सबसे निचला स्तर है.उस दिन सेंसेक्स 28,227.39 अंक पर बंद हुआ था. इस तरह तीन सत्रों में सेंसेक्स 475.30 अंक या 1.65 प्रतिशत का नुकसान दर्ज कर चुका है. साप्ताहिक आधार पर लगातार दूसरे हफ्ते सेंसेक्स नुकसान में रहा.

 

इसी तरह नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 63.75 अंक या 0.74 प्रतिशत के नुकसान से 8,600 अंक से नीचे 8,570.90 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 8,563 से 8,627.90 अंक के दायरे में रहा.

 

सेंसेक्स एक माह के निचले स्तर पर, निफ्टी 8,600 से नीचे आया

 

शेयर बाजारों में गिरावट का सिलसिला आज लगातार तीसरे दिन भी जारी रहा. बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स जहां 209 अंक के नुकसान से एक माह के निचले स्तर पर आ गया, वहीं नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 8,600 अंक से नीचे आ गया.

 

कंपनियों के तिमाही नतीजे अगले महीने आने शुरू होंगे. उससे पहले बड़ी कंपनियों के शेयरों में बिकवाली से बाजार में गिरावट आई.

 

रीयल्टी, बिजली, एफएमसीजी, टिकाउ उपभोक्ता सामान, स्वास्थ्य सेवा, वाहन, पूंजीगत सामान, बैंकिंग, धातु व तेल एवं गैस कंपनियों के शेयरों में गिरावट आई.

 

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स आज 28,465.44 अंक पर नुकसान के साथ खुलने के बाद अंत में 208.59 अंक या 0.73 प्रतिशत के नुकसान से 28,261.08 अंक पर बंद हुआ.

 

कारोबार के दौरान यह 28,242.40 से 28,484.36 अंक के दायरे में रहा. यह 9 फरवरी के बाद सेंसेक्स का सबसे निचला स्तर है. इस तरह तीन सत्रों में सेंसेक्स 475.30 अंक का नुकसान दर्ज कर चुका है. साप्ताहिक आधार पर लगातार दूसरे हफ्ते सेंसेक्स नुकसान में रहा.

 

इसी तरह नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी 63.75 अंक या 0.74 प्रतिशत के नुकसान से 8,600 अंक से नीचे 8,570.90 अंक पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान यह 8,563 से 8,627.90 अंक के दायरे में रहा.

 

कोटक सिक्योरिटीज के प्रमुख (पीसीजी शोध) दीपेन शाह ने कहा, ‘‘बाजार को महत्वपूर्ण विधेयकों मसलन भूमि अधिग्रहण विधेयक आदि पर घटनाक्रमों का इंतजार है. इसके अलावा बाजार को चौथी तिमाही के नतीजों की भी प्रतीक्षा है.’’

 

सेंसेक्स की कंपनियों में एनटीपीसी में सबसे ज्यादा नुकसान रहा. फार्मा कंपनियों के शेयर भी बिकवाली दबाव में रहे. इस बीच, अस्थायी आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों ने कल शुद्ध रूप से 1,428.72 करोड़ रुपये के शेयर खरीदे.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: SENSEX_nifty_bussiness
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017