शेयर बाजारों में नकद श्रेणी के कारोबार में शेयर ब्रोकरों की संख्या हुई कम

By: | Last Updated: Monday, 26 January 2015 12:07 PM

नई दिल्ली: देश के शेयर बाजारों में नकद वर्ग में काम करने वाले कुल शेयर ब्रोकर्स की संख्या घटकर 7,350 रह गई है जो कि हाल के वर्षों में सबसे कम है.

 

विशेषज्ञों के अनुसार शेयर बाजारों में अधिक से अधिक कारोबार अब आटोमोटिक तरीके से होने और खुदरा निवेशकों की भागीदारी कम होने से ब्रोकरों की संख्या में कमी आई है.

 

पूंजी बाजार नियामक सेबी के उपलब्ध ताजा आंकड़ों के मुताबिक शेयर बाजार में नकद श्रेणी में ब्रोकरों की संख्या 31 दिसंबर 2014 को 7,350 थी. इसके मुकाबले एक साल पहले दिसंबर अंत में यह संख्या 9,414 थी. इससे भी पिछले वर्ष यह संख्या कहीं अधिक 10,128 तक थी जो कि इससे पिछले वर्ष दिसंबर 2011 में 10,263 पर थी.

 

इसके साथ ही नकद वर्ग में कारोबार करने वाले सब-ब्रोकरों की मौजूदा संख्या तेजी से घटकर दिसंबर 2014 में 44,540 रह गई. एक साल पहले दिसंबर में यह 54,871 अंक पर थी.

 

सीएनआई रिसर्च के सीएमडी किशोर ओस्तवाल ने कहा, ‘‘कंप्यूटरीकृत सौदे :एल्गोरिदम ट्रेड्स: बढ़ रहे हैं और यही वजह है कि ब्रोकर्स का काम कम हो रहा है.’’ एल्गो ट्रेडिंग में एक तरह से काफी तीव्र गति से सौदे होते हैं. इसमें शेयर बाजारों में स्वत: ही सौदे हो जाते हैं.

 

नकद वर्ग में बड़ी संख्या में खुदरा निवेशक हालांकि बाजार से बाहर हो चुके हैं केवल विदेशी पोर्टफोलियो निवेशक :एफपीआई: ही हैं जो कि नकद श्रेणी में काम कर रहे हैं.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: share-market-broker
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: ABP broker bussiness experts share market
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017