शहरीकरण में दक्षिणी राज्य, केंद्रशासित प्रदेश आगे

By: | Last Updated: Wednesday, 16 July 2014 3:47 PM
south_cities_urbanaisation_union_teriteries

नई दिल्ली: वर्ष 2001 में देश की शहरी आबादी कुल आबादी की 27.8 प्रतिशत थी, जो 2011 में बढ़कर 31.1 प्रतिशत हो गई है. इसमें 3.3 प्रतिशत वृद्धि हुई है. यह जानकारी केन्द्रीय शहरी आवास और गरीबी उपशमन मंत्री एम. वैंकेया नायडू ने बुधवार को लोकसभा में दी.

 

नायडू ने कहा कि इस अवधि में देश के शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोगों की संख्या में नौ करोड़ से अधिक वृद्धि हुई है. उन्होंने बताया कि चार दक्षिणी राज्यों और छह संघशासित प्रदेशों, गुजरात, गोवा, हरियाणा, नगालैंड, सिक्किम और त्रिपुरा में शहरीकरण बढ़ा है.

नायडू ने एक गैर तारांकित प्रश्न के जवाब में देश में शहरीकरण से जुड़ी जानकारी दी.

 

नायडू ने बताया कि दक्षिणी राज्यों में शहरी आबादी में केरल में 21.7 प्रतिशत, अविभाजित आन्ध्र प्रदेश में 6.1 प्रतिशत, कर्नाटक में 4.7 प्रतिशत और तमिलनाडु में 4.4 प्रतिशत का इजाफा हुआ है.

 

केन्द्र शासित प्रदेशों में शहरी आबादी में दमन और दीव में 39 प्रतिशत, लक्षद्वीप में 33.6 प्रतिशत, दादरा और नगर हवेली 23.8 प्रतिशत, चंडीगढ़ में 7.5 प्रतिशत, दिल्ली 4.3 प्रतिशत, और पुडुचेरी में 1.7 प्रतिशत वृद्धि हुई है.

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: south_cities_urbanaisation_union_teriteries
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017