जेब को झटकाः सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर 7.23 रु महंगा, नॉन सब्सिडाइज्ड LPG के दाम 73.5 रुपये बढ़े

जेब को झटकाः सब्सिडी वाला रसोई गैस सिलेंडर 7.23 रु महंगा, नॉन सब्सिडाइज्ड LPG के दाम 73.5 रुपये बढ़े

अब दिल्ली में सब्सिडी वाले सिलेंडर (14.2 किलो) के दाम बढ़कर 487.18 रुपये हो गए हैं जो कि पहले 479.77 रुपये थे. वहीं गैर सब्सिडाइज्ड गैस सिलेंडर के दाम 73.5 रुपये की बढ़ोतरी के बाद 524 रुपये से बढ़कर 597.50 रुपये हो गए हैं.

By: | Updated: 01 Sep 2017 06:34 PM

नई दिल्लीः आपकी रसोई का बजट एक बार फिर बढ़ने वाला है. आज घरेलू रसोई गैस या एलपीजी के दाम में करीब 14 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी गई है. सब्सिडी वाला एलपीजी सिलेंडर 7.23 रुपये महंगा हो गया है जबकि गैर-सब्सिडी वाले सिलेंडर के दाम में 73.5 रुपये की भारी बढ़ोतरी की गई है. सरकार की योजना है कि चालू वित्त वर्ष के आखिर तक एलपीजी सिलेंडर पर सब्सिडी पूरी तरह खत्म कर दी जाए. बढ़े हुए दाम आज से ही लागू हो गए हैं.


जानें एलपीजी सिलेंडर के नए दाम
अब दिल्ली में सब्सिडी वाले सिलेंडर (14.2 किलो) के दाम बढ़कर 487.18 रुपये हो गए हैं जो कि पहले 479.77 रुपये थे.
वहीं गैर सब्सिडाइज्ड गैस सिलेंडर के दाम 73.5 रुपये की बढ़ोतरी के बाद 524 रुपये से बढ़कर 597.50 रुपये हो गए हैं.


इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसी) ने रसोई गैस सिलेंडर के बढ़े हुए नए दामों की घोषणा की है. ऑयल मार्केटिंग कंपनियां हर महीने की पहली तारीख को औसत तेल कीमतों और पिछले महीने के फॉरेन एक्सचेंज रेट के आधार पर एलपीजी और एटीएफ के दामों में बदलाव करती हैं. इससे पहले 1 अगस्त को एलपीजी सिलेंडर के दाम में 2 रुपये की बढ़ोतरी की गई थी.


LPG सिलेंडर 2 रुपये महंगा, बिना सब्सिडी वाली गैस 40 रुपये सस्ती


एटीएफ, केरोसिन के दाम भी बढ़ाए गए
इसी के साथ ऑयल मार्केटिंग कंपनियों ने एटीएफ (एविएशन टर्बाइन फ्यूल) के दाम भी 4 फीसदी बढ़ा दिए हैं.
एटीएफ या जेट फ्यूल के दाम 1910 रुपये बढ़ाकर 50,020 रुपये प्रति किलोलीटर हो गए हैं जो कि पहले 48,110 रुपये थे.
इसके अलावा पीडीएस (सार्वजनिक वितरण प्रणाली) के तहत मिलने वाले केरोसिन यानी मिट्टी के तेल में भी 25 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई है.


पिछले साल जुलाई से अब तक 68 रुपये महंगी हुई रसोई गैस
पिछले साल जुलाई में सरकार ने हर महीने सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर पर 2 रुपये बढ़ाने की पॉलिसी लागू की थी और इसी के बाद से अब तक सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर 68 रुपये महंगा हो चुका है. जुलाई 2016 में रसोई गैस का दाम 419.18 रुपये था. वहीं 1 जुलाई को रसोई गैस सिलेंडर के दाम में 32 रुपये का इजाफा हुआ था. रसोई गैस सिलेंडर के जीएसटी के दायरे में आने के बाद इसपर टैक्स बढ़ा था और इसीलिए एकसाथ एलपीजी 32 रुपये महंगी हुई थी.


वहीं पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान 31 जुलाई को लोकसभा में जानकारी दी थी कि सरकार ने तेल कंपनियों को हर महीने रसोई गैस के दाम 2 रुपये की बजाए 4 रुपये बढ़ाने के लिए कहा है जिससे मार्च 2018 तक रसोई गैस पर सब्सिडी पूरी तरह खत्म हो सके.


झटका: अब मोदी सरकार खत्‍म करेगी LPG सब्सिडी, हर महीने बढ़ेंगे दाम


एक साल में 12 सब्सिडाइज्ड सिलेंडर
सरकार एक वित्त वर्ष में कंज्यूमर को 14.2 किलोग्राम वाले 12 सिलेंडर सब्सिडी दरों पर उपलब्ध कराती है. इससे ज्यादा सिलेंडर लेने पर ग्राहक को गैर सब्सिडी वाले सिलेंडर की कीमत अदा करनी होती है.


देश में कुल एलपीजी ग्राहक
गैर सब्सिडी सिलेंडर के ग्राहकों की संख्या 2.66 करोड़ है जबकि सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर के देश में 18.11 करोड़ ग्राहक हैं. इसमें 2.6 करोड़ वो गरीब महिलाएं भी शामिल हैं जिन्हें प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत पिछले एक साल में मुफ्त गैस कनेक्शन मुहैया कराए गए हैं.


 

GOOD NEWS: गरीबों के लिए रसोई गैस सिलेंडर पर सब्सिडी जारी रहेगी

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story महज 312 रुपये में करें हवाई सफर, GoAir दे रहा है भारी छूट