रिपोर्ट: अगले साल वेतन वृद्धि बेहतर रहने की उम्मीद

रिपोर्ट: अगले साल वेतन वृद्धि बेहतर रहने की उम्मीद

रोजगार क्षेत्र के लिये वर्ष 2017 चुनौतीपूर्ण रहने के बाद अब 2018 में योग्य प्रतिभाओं को 10 से 15 प्रतिशत तक की वेतनवृद्धि मिल सकती है. नोटबंदी के बाद कपड़ा और दूसरे परंपरागत क्षेत्रों में छटनी से रोजगार बाजार काफी चुनौतीपूर्ण बन गया था.

By: | Updated: 10 Dec 2017 08:12 PM
The expected increase in salary increments next year: report

नई दिल्ली: रोजगार क्षेत्र के लिये वर्ष 2017 चुनौतीपूर्ण रहने के बाद अब 2018 में योग्य प्रतिभाओं को 10 से 15 प्रतिशत तक की वेतनवृद्धि मिल सकती है. नोटबंदी के बाद कपड़ा और दूसरे परंपरागत क्षेत्रों में छटनी से रोजगार बाजार काफी चुनौतीपूर्ण बन गया था. रोजगार संबंधी सलाह सेवा देने वाली कंपनी मैनपावर ग्रुप के भारतीय आर्थिक परिदृश्य रिपोर्ट में यह बात कही गयी है.



मौजूदा साल के दौरान नोटबंदी के कारण कपड़ा उद्योग में चुनौतियां सामने आयीं. इन कारणों से रोजगार उद्योग के लिए यह साल मुश्किलों भरा रहा. रिपोर्ट के अनुसार, देश में रोजगार की नियुक्तियों में भी 2018 में सुधार जारी रहेगा. इस साल की अंतिम तिमाही में पहली तीन तिमाही की मंदी के बाद रोजगार नियुक्तियों में सुधार आया है. कंपनी के सर्वेक्षण में कहा गया है कि इस साल जनवरी-मार्च तिमाही में रोजगार दाताओं की रोजगार देने की योजना में 22 प्रतिशत गिरावट रही जो कि अप्रैल-जून में और 19 प्रतिशत घट गई. इसके बाद जुलाई-सितंबर तिमाही में रोजगार के अवसर 16 प्रतिशत घटे लेकिन अक्टूबर-दिसंबर तिमाही में रोजगार देने की नियोक्ताओं की योजना में 24 प्रतिशत का उछाल दर्ज किया गया.



विशेषज्ञों को उम्मीद है कि 2018 में नियुक्तियों में सुधार जारी रहेगा. मोबाइल विनिर्माण, वित्तीय प्रौद्योगिकी और स्टार्ट-अप्स सहित अन्य क्षेत्रों में नियुक्तियां बढ़ेंगी. इसके साथ ही वेतन वृद्धि भी 2017 में जहां 8-10 प्रतिशत रही वह 2018 में 10- 15 प्रतिशत तक रहेगी. विभिन्न आकलनों के अनुसार, 2017 में महज 20 प्रतिशत कंपनियों ने नयी नियुक्तियां की और 60 प्रतिशत कंपनियों ने कर्मचारियों की संख्या बरकरार रखा.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: The expected increase in salary increments next year: report
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story सेंसेक्स 36 हजार, निफ्टी 11 हजार के पार, निवेशकों की पूंजी 1 लाख करोड़ रु से ज्यादा बढ़ी