रैनसमवेयर बनाने वाले साइबर क्रिमिनल्स को अब तक हुई इतनी कमाई !

By: | Last Updated: Tuesday, 16 May 2017 7:28 PM
रैनसमवेयर बनाने वाले साइबर क्रिमिनल्स को अब तक हुई इतनी कमाई !

नई दिल्लीः जिस रैनसमवेयर नाम के मालवेर ने पूरे विश्व में पैसे कमाने के लिए साइबर अटैक किया है उस रैनसमवेयर करनेवाले साइबर क्रिमिनल्स को उम्मीद से बहुत कम पैसे मिलने का प्रमाण सामने आया है जिससे साइबर अटैक करनेवाला ये ग्रुप जाहिर तौर पर सोच में पड़ गया होगा. साइबर एक्सपर्ट्स ने रिसर्च करके पता किया है जिन 3 बिटकॉइन एड्रेस पर पैसे मंगाए जा रहे है उनमें पिछले 3 दिनों में विश्व भर से केवल 240 ट्रांजैक्शन हो पाए हैं. इसमें से केवल 62000 यूएस डॉलर यानि करीब 43 लाख रुपये इन साइबर क्रिमिनल्स को मिल पाए जो उनकी उम्मीद से बेहद कम है.

ALERT: क्या अभी ATM से पैसे निकालना है खतरनाक ? जानें RBI ने क्या कहा !

इस रैनसमवेयर की शुरुआत कहां से हुई, किसने की और कैसे की, इस विषय पर रिसर्च कर रही एक टीम से बात करके एबीपी न्यूज़ ने इन सब सवालों के जवाब हासिल किए हैं.

रैनसमवेयर एक ऐसा साइबर अटैक जिसने दुनिया के करीब 99 देशों के साइबर स्पेस में हाहाकार मचा दिया है. कम्प्यूटर की भाषा में बात करें तो एक मालवेयर और एक फिशिंग इमेल के जरिए आपके कंप्यूटर को लॉक करके, डेटा डिलीट करने की धमकी देकर आप से पैसे वसूल ने के लिए बनाया गया ये रैनसमवेयर आज सबकी चिंता का सबब बन गया. इस साइबर अटैक के पीछे के लोगों को भरोसा था ऐसा करने से उन्हें करोड़ों, अरबों रुपयों की कमाई होगी. लेकिन वास्तव में ऐसा अब तक नहीं हो पाया. साइबर रिसर्च करनेवाली टीम सिंकलेचर ने रिसर्च कर पाता किया है कि पिछले तीन दिनों में इन लोगों को सिर्फ़ 36 बिटकॉइन मिल सके हैं जिनकी कीमत करीब 43 लाख रुपये ही बैठती है.

दुनिया के साइबर स्पेस पर हुआ अबतक का सबसे बडा मालवेर अटैक
उन एक्सपर्ट्स की मानें तो ये अबतक का सबसे बडा दुनिया के साइबर स्पेस पर हुआ मालवेर अटैक है. बताया जा रहा है कि इस साइबर अटैक की शुरुआत मार्च 2017 को हुई जब डार्क नेट पर मौजूद ‘SHADOW BROKER’ नाम के एक ग्रुप ने अमेरिका की नेशनल सिक्योरेटी एजेंसी के टूल साइबर स्पेस में लीक कर दिए. इसी लीक का इस्तमाल करके एक दूसरे क्रिमिनलस ग्रुप ने रैनसमवेयर तैयार किया और 13 मई को दुनिया में इसे फैला दिया.

डार्क नेट और साइबर क्रिमिनल्स ये कैसे करते है ये जानिए

साइबर एक्सपर्ट अक्षय ने डार्क नेट और रैनसमवेयर के बारे में बताया कि इन साइबर क्रिमिनल्स ने लॉक खोलने के लिए 300-600 यूएस डॉलर की मांग की और ये पैसे 19 मई तक देने कि लिए कहा और ऐसा नहीं करने पर डेटा डीलीट करने की धमकी दी. दुनिया भर के साइबर एक्सपर्ट इस पर उपाय खोजने में जुटे है और पैसे नहीं देनी की अपील कर रहे है. वहीं इस अटैक ने बड़ी बड़ी कंपनियों के साथ साथ सरकार दफ़्तरों को भी निशाना बनाया है हालांकि भारत में इसका असर फिलहाल ज़्यादा नहीं देखने को मिला है.

रैनसमवेयर बनाने वालों को अब तक निराशा तो हाथ लगी ही होगी. लेकिन साइबर एक्सपर्ट मानते है कि अगर अगले 2-3 दिनों में कोई उपाय नहीं मिला तो संभव है कि लोग 18 मई से पैसे भरना शुरु कर देंगे.

सावधान: जानिए- साइबर हमले से बचने के उपाय, कंप्यूटर लॉग इन से पहले पढ़ लें

दुनिया भर में रेनसमवेयर वायरस ने मचाया कोहराम, जानें आप कैसे बच सकते हैं?

सावधान: जानिए, Ransomware से बचने के टिप्स, अटैक को कैसे पहचानेंगे और तुरंत क्या करेंगे

First Published:

Related Stories

GST के फायदे जानते हैं आप? इन वस्तुओं-सर्विसेज पर घटेगा टैक्स, होंगी सस्ती
GST के फायदे जानते हैं आप? इन वस्तुओं-सर्विसेज पर घटेगा टैक्स, होंगी सस्ती

नई दिल्लीः 1 जुलाई से देश में जीएसटी लागू होने वाला है और पूरे देश में एक टैक्स व्यवस्था हो...

IT सेक्टर में रोजगार पर ग्रहण नहीं: 2016-17 में 1.7 लाख नई नौकरियां
IT सेक्टर में रोजगार पर ग्रहण नहीं: 2016-17 में 1.7 लाख नई नौकरियां

नई दिल्लीः सरकार ने आज दावा किया कि सूचना तकनीक यानी आईटी के क्षेत्र में 3 सालों के दौरान 6 लाख नई...

पाक चौकी पर हमले की खबर से गिरा बाजारः आखिरी मिनटों में सेंसेक्स 200 अंक टूटा
पाक चौकी पर हमले की खबर से गिरा बाजारः आखिरी मिनटों में सेंसेक्स 200 अंक टूटा

नई दिल्लीः आज सुबह से भारतीय बाजार में तेजी का माहौल था लेकिन दोपहर 3 बजे के करीब भारतीय सेना के...

पूजन सामग्री पर GST नहीं: स्मार्टफोन भी नहीं होंगे महंगे
पूजन सामग्री पर GST नहीं: स्मार्टफोन भी नहीं होंगे महंगे

नई दिल्लीः सरकार ने साफ किया कि जीएसटी लागू होने के बाद हवन सामग्री समेत पूजन सामग्री पर जीएसटी...

अप्रैल में मारुति SWIFT रही सबसे ज्यादा बिकने वाली हैचबैक कार, ALTO को पीछे छोड़ा
अप्रैल में मारुति SWIFT रही सबसे ज्यादा बिकने वाली हैचबैक कार, ALTO को पीछे छोड़ा

नई दिल्ली: मारुति सुजुकी देश की सबसे ज्यादा बिकने वाली कारों की मैन्यूफैक्चर्र कंपनी है और कार...

बाजार में उछाल: सेंसेक्स 106 अंक ऊपर 30570 पर, निफ्टी 9450 के पास बंद
बाजार में उछाल: सेंसेक्स 106 अंक ऊपर 30570 पर, निफ्टी 9450 के पास बंद

नई दिल्लीः हफ्ते के पहले कारोबारी दिन आज भारतीय शेयर बाजार की चाल सुस्त पड़ गई. वैसे बाजार...

22 मई से भारतीय रेल के बेड़े में शामिल होगी तेजसः प्लेन जैसी खूबियों से लैस ट्रेन
22 मई से भारतीय रेल के बेड़े में शामिल होगी तेजसः प्लेन जैसी खूबियों से लैस...

नई दिल्लीः देश की अब तक की सबसे आधुनिक ट्रेन तेजस सोमवार से भारतीय रेल के बेड़े में शामिल हो...

मोदी सरकार के 3 सालः रोजगार के मोर्चे पर सरकार कितनी सफल?
मोदी सरकार के 3 सालः रोजगार के मोर्चे पर सरकार कितनी सफल?

नई दिल्लीः केंद्र की मोदी सरकार के 3 साल पूरे होने में बस 5 दिन बाकी हैं. विकास की राह पर ले जाकर...

सोने में फिर आई गिरावट, चांदी की चमक बढ़ी, 32,200 रुपये पर पहुंची
सोने में फिर आई गिरावट, चांदी की चमक बढ़ी, 32,200 रुपये पर पहुंची

नई दिल्ली: लगातार चढ़ने के बाद आज घरेलू सर्राफा बाजार में सोने के दाम फिर गिरे हैं. विदेशों में...

जानें- GST से कैसे बदलेगा आपका बजट, 1 जुलाई से क्या होगा सस्ता क्या होगा महंगा ?
जानें- GST से कैसे बदलेगा आपका बजट, 1 जुलाई से क्या होगा सस्ता क्या होगा महंगा ?

नई दिल्ली:  पूरे देश में जीएसटी यानी एक देश-एक बाजार की टैक्स दरें तय हो गई है. जीएसटी लागू होने...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017