क्या करें जब अचानक चली जाए नौकरी और हो जाएं जॉबलेस ? ये टि्प्स हैं बहुत काम के

क्या करें जब अचानक चली जाए नौकरी और हो जाएं जॉबलेस ? ये टि्प्स हैं बहुत काम के

पिछले काफी समय से आईटी मे छंटनी का सिलसिला जारी है और दूसरे सेक्टर्स में भी नौकरी छिनने जैसे मामले लगातार सुनाई दे रहे हैं, ऐसे में क्या करें कि नौकरी जाने के बाद भी आपकी आर्थिक हालत आपके काबू में रहे, इसके लिए ये टिप्स बेहद कारगर हैं.

By: | Updated: 12 Oct 2017 08:07 PM
 ऩई दिल्ली :  भारत की सबसे पुरानी कंपनियों में से एक टाटा ग्रुप अपने हजारों कर्माचारियों को बेरोजगार करने वाला है. दरअसल टाटा ग्रुप ने सरकार को जानकारी दी है कि वो टाटा टेलीसर्विसेज (टीटीएसएल) के वायरलेस बिजनेस को बंद करने वाले हैं. ये प्रक्रिया लगभग 1 महीने में स्टार्ट हो जाएगी. इस कदम के बाद करीब 5101 कर्मचारी बेरोजगार हो जाएंगे.

टीटीएसएल अपने ज्यादातर कर्मचारियों के लिए एक्जिट प्लान तैयार कर चुकी है जिसमें कर्मचारियों के लिए 3 से 6 महीने के लिए नोटिस पीरियड का प्रावधान किया गया है. कुछ कर्मचारियों के लिए जहां पुराने कर्मचारियों के लिए वांलटरी रिटायरमेंट की घोषणा की गई है जबकि कुछ कर्मचारियों को ग्रुप की दूसरी कंपनियों में ट्रांसफर की बात भी कही गई है. इन घोषणाओं के बावजूद ऐसे समय में जॉब सेक्टर की हालत खराब है तो इन कर्मचारियों के लिए नई नौकरी ढूंढना मुश्किल होने वाला है.

जहां आजकल नौकरी खोने का खतरा लगातार लोगों के मन में बना रहता है, ऐसे में किसी को भी असमय नौकरी छूटने के बाद भी आर्थिक परेशानी न हो, इसके लिए यहां बताई गई बातों पर अमल करेंगे तो आसानी होगी-

अपने खर्चों को सीमित करें और नया बजट बनाएं-
ऐसे समय में जब आप अपनी नौकरी खोने वाले हैं और नई नौकरी मिलने की संभावनाएं बेहद कम हैं तो जरूरी है कि आप अपने खर्चों को कम करें. कहावत भी है कि पैर उतने ही फैलाएं जितनी चादर हो. ऐसे में जब आप की चादर सिकुड़ चुकी है तो पैर भी पीछें खींचें. ऐसे समय में अपने बजट में कमी करें और एक नया बजट बनाएं ताकि भविष्य में दिक्कत न हों.

प्रॉपर्टी बेचें, फैमिली या म्यूचल फंड से पैसा निकालें
जब आपके पास पैसे की कमी हो तो बैंक में जमा रकम अगर पूरी न पड़े तो अपनी किसी प्रॉपर्टी को बेचें. अगर म्यूचल फंड जैसी किसी योजना में इनवेस्ट कर रखा है तो वहां से निकालें. फैमिली में भी अगर कोई ऐसा है जो आपकी मदद कर सकता है तो उनकी तऱफ भी देखें. अपने फिक्स डिपॉजिट ,पीपीएफ या गोल्ड पर भी आपको लोन मिल सकता है.

नौकरी खोने के बाद अपना बजट मैनेज करने के साथ आपको नई ज़ॉब भी ढूंढनी ही पड़ेगी लेकिन इसके लिए इन बातों का ध्यान रखना भी जरूरी है

सबसे पहले अपनी कंपनी में ही अप्लाई करें-
ऐसे समय में जब आपको किसी बड़े ग्रुप से निकाले जाने का नोटिस मिल चुका है तो कोशिश करें कि अपने बॉस को सबसे पहले तैयार करें कि आप अपनी परफार्मेंस में सुधार कर सकते हैं और आपको मौका मिलना चाहिए. अगर वो तैयार नहीं होते हैं तो नई जॉब के लिए तलाश  के दौरान नई लोकेशन पर जाने के लिए भी तैयार रहें.

अपने रिज्यूमे को अपडेट करें-
अपनी कंपनी में प्रयास के बावजूद नई नौकरी न मिलने पर सबसे पहले अपने रिज्यूमे की तरफ देखें कि इसमें किस तरह के सुधार की जरूरत है. अपने रिज्यूमे को अपडेट करें साथ ही पूरी तैयारी के साथ नई नौकरी को पाने के लिए उतर पड़ें.

पुराने सगे संबधियों से मदद लें -
ओल्ड इज गोल्ड की कहावत भी काफी कही जाती है. ऐसे समय में आपके पुराने रिश्ते आपके काफी काम आ सकते हैं. आप अपने पुराने साथियों, टीचर्स और दोस्तों के साथ संपर्क में रहें. जरूरी नहीं कि ये लोग तुरंत ही मदद करें लेकिन देर सबेर कुछ नतीजा मिल सकता है.

पार्ट टाइम नौकरी का रास्ता चुनने में न हिचकें-
ऐसे समय में जब आपके पास कोई नौकरी न हो तो परेशान होना लाजिमी है लेकिन अगर ऐसे में आपको कुछ ऐसी नौकरी भी मिल सकती हैं जो आपकी क्षमताओं के अनुरूप नहीं होगी. ऐसी नौकरी अगर न करना चाहें तो पार्ट टाइम नौकरी करनें में कोई हिचकिचाहट न रखें. आप ट्यूशन कर सकते हैं, लिखने का शौक है तो किताबें लिख सकते हैं. पार्ट टाइम टीचिंग की जॉब भी बुरी नही हैं.

अपनी कमियों की तरफ देखें खुद में सुधार करें-
ऐसा समय हमें खुद की ओर निहारने का वक्त देता है. इस समय में हमें अपनी कमियों की तरफ गंभीरता से देखना चाहिए और कोशिश करनी चाहिए कि अपनी स्किल्स को हम और ज्यादा बेहतर कर सकें

इस दौरान ये काम बिल्कुल भी न करें -

तनाव और डिप्रेशन से बचें-
ऐसे समय में ज्यादा तनाव लेने से बचें. तनाव आपकी परफार्मेंस पर असर डाल सकता है. ऐसे में तनाव से बचें और धैर्य से काम लें. इस समय में पूरा फोकस जॉब पाने की तरफ होना चाहिए.

क्रेडिटर्स को भरोसे में लें-
अपने क्रेडिटर्स से बिल्कुल भी छिपने की कोशिश न करें. अगर आपके ऊपर बैंक का लोन है तो उस बैंक के लोगों से मिलें. उनके बीच अपनी बात रखें. बैंक वाले भी आपकी इस ईमानदारी से खुश होगें.

जल्दबाजी में फैसला लेने से बचें-
जल्दबाजी में कोई फैसला न करें. अगर परेशान होकर आप जल्दबाजी में कोई ऐसी जॉब हासिल कर लेते हैं जो आपके भविष्य के लिए नुकसानदेह रही तो ये बेरोजगार होने से ज्यादा बड़ा नुकसान होगा. इसलिए जल्दबाजी में कोई भी फैसला करने से बचें.

अपने पुराने संगठन की बुराई करने से बचें -
बेशक आप अपनी नौकरी गवां चुके होंगें लेकिन ऐसे में अपने पुराने संगठन या बॉस की बुराई करने से बचें. ऐसा करने से आपको नई नौकरी मिलने में खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. हर कंपनी एक वफादार कर्मचारी की तलाश में रहती है और इस बात की जरा सी भी भनक अगर किसी संगठन को मिल गई तो आपके नई नौकरी मिलने की राह कठिन हो जाएगी. अक्सर लोग हताशा में सोशल मीडिया पर अपने पूर्व एंप्लॉयर की आलोचना करने लगते हैं जो उनके लिए नई नौकरी पाने की राह में निगेटिव भी साबित हो सकता है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story रिपोर्ट: अगले साल वेतन वृद्धि बेहतर रहने की उम्मीद