डब्ल्यूटीओ में भारत के रुख से अमेरिका निराश

By: | Last Updated: Saturday, 26 July 2014 4:19 PM

वाशिंगटन: अमेरिका ने आज वैश्विक व्यापार सुविधा नियमों में सुधारों को लेकर भारत के रुख के प्रति निराशा व्यक्त करते हुये कहा है कि प्रतिबद्धताओं से पीछे हटने की वजह से विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) संकट के कगार पहुंच गया है.

 

जिनेवा में कल विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) के 160 सदस्यों की बैठक में भारत ने खाद्य सुरक्षा के लिए खाद्यान्न के सार्वजनिक भंडारण की समस्या का स्थायी समाधान होने तक व्यापार सुविधा की समयसारिणी पर रोक लगाने की मांग की है.

 

इस बैठक में पिछले साल दिसंबर में बाली में हुए व्यापार सुविधा (टीएफ) समझौते को लेकर बनी सहमति को अंतिम रूप दिया जाना था.

 

भारत का सीधा नाम लिये बिना अमेरिका ने व्यापार सुविधा समझौते के मोर्चे पर प्रगति में आ रही कमी को लेकर अपनी गहरी नाखुशी जाहिर की है.

 

विश्व व्यापार संगठन में भारत के रुख का क्यूबा, वेनेजुएला और बोलिविया ने समर्थन किया.

 

अमेरिका के व्यापार प्रतिनिधि माइक फ्रोमैन ने कहा, ‘‘हम इसको लेकर काफी निराश हैं कि व्यापार सुविधा के मामले में प्रतिबद्धताओं से पीछे हटने के कारण डब्ल्यूटीओ संकट के कगार पर पहुंच गया है.’’

Business News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: wto_america
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017