ऑस्ट्रेलियाई टीम बस पर ‘पत्थर’फेंकने के आरोप में दो संदिग्ध हुए गिरफ्तार

ऑस्ट्रेलियाई टीम बस पर ‘पत्थर’फेंकने के आरोप में दो संदिग्ध हुए गिरफ्तार

By: | Updated: 13 Oct 2017 04:45 AM


गुवाहाटी: भारत के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच के बाद ऑस्ट्रेलियाई टीम बस पर ‘पत्थर’ फेंकने के आरोप में पुलिस ने दो संदिग्ध व्यक्तियों को हिरासत में लिया है. इस हमले में बस की खिड़की का शीशा टूट गया. मेहमान टीम के भारत के खिलाफ दूसरे टी20 में आठ विकेट से जीत दर्ज करके तीन मैचों की सीरीज 1-1 से बराबर करने के बाद यह घटना घटी.


घटना में हालांकि कोई खिलाड़ी घायल नहीं हुआ है क्योंकि खिड़की के पास वाली सीट पर कोई नहीं बैठा था और यह खाली थी. लेकिन इससे असम क्रिकेट संघ और बारसपारा में नवनिर्मित स्टेडियम में हुए मैच के लिये लगायी गयी राज्य पुलिस के सुरक्षा इंतजामों पर सवाल खड़े हो गए हैं.


असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने ट्वीट किया, ‘‘एक बेहतरीन मैच के बाद वास्तव में दुर्भाग्यपूर्ण घटना जिसका उद्देश्य गुवाहाटी की तेजी से खेल नगरी बनने की छवि को नुकसान पहुंचाना है. हम इसकी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं. हम इसके लिये माफी मांगते हैं. असम के लोग कभी इस तरह के व्यवहार का समर्थन नहीं करते. हम दोषियों को सजा देंगे.


 



उन्होंने कहा, ‘‘ हम दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के लिये वचनबद्ध हैं. जांच चल रही है और पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है. ’’ ऑस्ट्रेलिया के सीनियर बल्लेबाज आरोन फिंच ने अपने ट्विटर अकाउंट पर खिड़की के पत्थर से टूटे कांच की फोटो पोस्ट की और स्वीकार किया कि वे डर गये थे.



 


उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा, ‘‘होटल के लिये लौटती टीम की बस की खिड़की पर पत्थर से हुए हमले से काफी डर गये थे. ’’ केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भी इस घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की और कहा कि मेहमान खिलाड़ियों की सुरक्षा बेहद महत्वपूर्ण है. 


राठौड़ ने अपने ट्विटर अकाउंट पर पोस्ट किया, ‘‘गुवाहाटी में पत्थर फेंकने की घटना हमारे सुरक्षा उपायों को प्रतिबिंबित नहीं करती. ऑस्ट्रेलियाई टीम और फीफा सुरक्षा व्यवस्था से पूरी तरह से संतुष्ट हैं. भारत सुरक्षित मेजबान बना रहेगा. ’’ असम क्रिकेट संघ के सचिव प्रदीप बुरागोहेन ने सूचित किया कि यह घटना तब हुई जब टीम की बस होटल जा रही थी. ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे टी20 मैच में भारत को आठ विकेट से शिकस्त दी.



 


बुरागोहेन ने कहा, ‘‘हमने फूलप्रूफ सुरक्षा सुनिश्चित करने का हर प्रयास किया लेकिन पता नहीं यह कैसे हुआ. यह सब स्टेडियम के निकट भीड़भाड़ वाली सड़क पर नहीं बल्कि टीम के होटल के करीब हुआ. ’’ बुरागोहेन ने कहा, ‘‘पुलिस ने दो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया है और इस मामले की जांच कर रहे हैं. मैं आश्वस्त कर सकता हूं कि भविष्य में दोबारा इस तरह की घटना नहीं होगी. जब ऑस्ट्रेलियाई टीम हैदराबाद के लिये रवाना होगी तो कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की जायेगी.’’ 


भारत के सीनियर खिलाड़ी रविचंद्रन अश्विन ने इस घटना की निंदा की है और प्रशंसकों से और अधिक जिम्मेदारी दिखाने की बात की. अश्विन ने कहा, ‘‘ऑस्ट्रेलियाई टीम पर पत्थर फेंकने की घटना ने हमें गलत चीज के लिये सुर्खियों में ला दिया, हम सभी को जिम्मेदारी दिखानी होगी. हम सभी ऐसा कर सकते हैं. ’’



 


राज्य संघ को मीडिया बॉक्स में कुप्रबंधन के लिये भी पत्रकारों की आलोचनायें झेलनी पड़ी. उन्हें इंटरनेट जैसी सुविधाओं के लिये परेशानी से जूझना पड़ा लेकिन एसीए पर कोई असर नहीं पड़ा. मीडिया बॉक्स में इंटरनेट की सुविधा नहीं थी साथ ही करीब 250 पत्रकारों के लिये केवल एक टीवी था जबकि शौचालय में बिजली नहीं थी.


 


फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Cricket News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published: