सीरीज़ हारने के बावजूद वापसी करने पर ऑस्ट्रेलिया की निगाहें

सीरीज़ हारने के बावजूद वापसी करने पर ऑस्ट्रेलिया की निगाहें

By: | Updated: 27 Sep 2017 05:58 PM

बेंगलुरू: वनडे सीरीज भले ही उनके हाथों से निकल गयी हो लेकिन आस्ट्रेलियाई कप्तान डेविड वार्नर ने आज कहा कि उनकी टीम भारत के खिलाफ वापसी करने की कोशिश करना नहीं छोड़ेगी और आगामी एशेज से पहले लय में आना चाहेगी.

मौजूदा विश्व चैम्पियन को मेजबानों के हाथों शुरूआती तीन मैचों में हार से पांच मैचों की सीरीज गंवानी पड़ी.

लेकिन स्टीव स्मिथ की अगुवाई वाली टीम अंतिम दो वनडे और फिर तीन टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में एशेज से पहले प्रभावित करना चाहेगी जो 23 नवंबर से ब्रिसबेन में शुरू हो रही है.

वार्नर ने कल यहां होने वाले चौथे वनडे की पूर्व संध्या पर प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘सीरीज हारना निराशाजनक है क्योंकि हम अपने देश के लिये खेलते हैं और हम यही करना पसंद करते हैं जिसमें हमें बहुत मजा आता है. सम्मान दाव पर है.’’

उन्होंने कहा, ‘‘निश्चित रूप से इसके बाद हमें तीन टी20 मैच भी खेलने हैं. और हम इसमें अच्छा करने की कोशिश करेंगे. हमें बचे हुए वनडे मुकाबलों और टी20 मैचों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा ताकि एशेज से पहले हम लय में आ सकें. ’’ इस गंवायी श्रृंखला के बारे में वार्नर ने कहा कि मेहमान टीम को इस बार भारत में परिस्थितियों से सांमजस्य बिठाने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है.

उन्होंने कहा, ‘‘अपनी बात करूं तो यह भारत में पहली वनडे सीरीज है. इसलिये पहली बार यहां आकर दो नयी सफेद गेंद से वनडे खेलना बहुत अलग था. पहले दो मैच काफी अलग रहे. ’’

वार्नर ने कहा, ‘‘कोलकाता में गेंद स्विंग कर रही थी. सफेद गेंद के हिसाब से देखा जाये तो यह मेरे लिये शायद सबसे कठिन हालात थे. यह इंग्लैंड में जो स्विंग करती है, उससे ज्यादा स्विंग कर रही थी. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप परिस्थितियों के हिसाब से अपना खेल बदलते हो. पिछला मैच शायद पारंपरिक तरीके से खेला गया था. वहां गेंद इतनी स्विंग नहीं कर रही थी. विकेट बल्लेबाजी के लिये अच्छा था और मैंने इसका फायदा उठाया. ’’ वार्नर कल अपना 100वां वनडे खेलेंगे जबकि कप्तान स्टीव स्मिथ ने मौजूदा सीरीज के दूसरे वनडे के दौरान यह उपलब्धि हासिल की थी.

उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरे लिये और मेरे परिवार के लिये शानदार उपलब्धि है. मैं आज जो कुछ भी हूं, मुझे उस पर गर्व है. एमसीजी में 90,000 लोगों के सामने टी20 खेलकर और वनडे प्रारूप में दो मैचों में आस्ट्रेलिया का प्रतिनिधित्व करने के बाद, मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं यहां इतनी तेजी से पहुंच जाऊंगा. लेकिन मैंने अपने करियर के शुरूआती चरण में काफी कुछ सीखा है.’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Sports News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published: