कांडा के ऑफिस पर छापा, हार्डडिस्क जब्त

कांडा के ऑफिस पर छापा, हार्डडिस्क जब्त

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml">
<b></b><b>नई दिल्ली: </b>पुलिस
धीरे-धीरे गोपाल कांडा पर
शिकंजा कसती जा रही है.
</p>
<p xmlns="http://www.w3.org/1999/xhtml"></p>
<p style="text-align: justify;">
गीतिका खुदकुशी केस में
आरोपी गोपाल कांडा के
गुड़गांव के दफ्तर से दिल्ली
पुलिस ने कम्प्यूटर की हार्ड
डिस्क और कुछ दस्तावेज बरामद
किए हैं. <br /><br />गीतिका एमडीएलआर
के इसी दफ्तर में काम करती थी.
दिल्ली पुलिस करीब तीन घंटे
पहले गोपाल कांडा को लेकर
उसके दफ्तर पहुंची थी. और तब
से ही सबूतों की तलाश जारी थी.
<br /><b><br />कहां-कहां छुपा कांडा</b><br /><br />कल
सुबह लुकाछिपी करते हुए
गोपाल कांडा ने पुलिस के
सामने सरेंडर किया था लेकिन
सरेंडर करने से पहले कांडा
कहां कहां रहा, ये जानकारी दे
रहा है एबीपी न्यूज.<br /><br />8
अगस्त को गुड़गांव के अपने घर
से कांडा अशोक विहार थाने
जाने के लिए निकला था. अशोक
विहार पहुंचा भी कांडा लेकिन
पुलिस स्टेशन नहीं आया. <br /><br />अशोक
विहार से वो सिरसा चला गया.
तीन दिन सिरसा में पड़ोस के
घर में रहा. दिल्ली पुलिस की
टीम ने जब सिरसा में छापेमारी
शुरू की तो वो जयपुर चला गया.
वहां बंटी बंसल के फार्म हाउस
पर रुका. बंटी बंसल गोपाल
कांडा के साले का दामाद है. <br /><br />पुलिस
ने जब बंटी बंसल से पूछताछ
शुरू की तो फिर कांडा जयपुर
से गुड़गांव वापस आ गया. इस
दौरान कांडा ने अपने मोबाइल
फोन का सिम कार्ड नेपाल भिजवा
दिया ताकि पुलिस नेपाल में
उसे ढूंढती रहे. <br /><br />शुक्रवार
को कांडा प्रशांत विहार
पहुंचा. वकीलों से बात की
जमानत के लिए लेकिन वकीलों ने
कहा कि कोई रास्ता नहीं है. फिर
कांडा वजीरपुर में रिची रिच
रेस्टोरेंट के पीछे
ट्रांसपोर्ट कंपनी में जाकर
छिप गया. वहीं से शनिवार की
सुबह जाकर उसने पुलिस के
सामने सरेंडर किया था. <br /><br /><b>क्या
है मामला</b><br /><br />एमडीएलआर
ग्रुप की डायरेक्टर गीतिका
शर्मा ने 5 अगस्त को खुदकुशी
कर ली थी. गीतिका ने अपने
सुसाइड नोट में हरियाणा के
गृह राज्य मंत्री गोपाल
कांडा और कंपनी की ही अफसर
अरुणा चड्डा पर धोखा देने का
आरोप लगाया था, जिसके बाद
गोपाल कांडा को मंत्री पद
छोड़ना पड़ा था. <br /><br />गोपाल
कांडा ने अपने बचाव में कहा
था कि उसके गीतिका के परिवार
से अच्छे संबंध रहे हैं.
गोपाल कांडा हरियाणा के
सिरसा से विधायक है. गीतिका
ने गोपाल कांडा की कंपनी में
केबिन क्रू से शुरुआत की थी
और कुछ ही साल में वो कंपनी की
डायरेक्टर बन गई थी. <br /><br />हालांकि
इसके बाद गीतिका एमडीएलआर
एयरलाइंस छोड़कर दुबई चली गई
थी. लेकिन गोपाल कांडा के
दबाव के बाद गीतिका को फिर
वापिस आना पड़ा. गीतिका
खुदकुशी केस में एफआईआर दर्ज
होने के बाद से ही गोपाल
कांडा गिरफ्तारी से बचता रहा.
<br /><br />हालांकि अरुणा चड्डा
पुलिस की गिरफ्त में आ गई थी.
दिल्ली पुलिस गोपाल कांडा की
तलाश में लगातार छापे मारती
रही लेकिन गोपाल कांडा हाथ
नहीं आया. इस बीच गोपाल कांडा
ने पहले निचली अदालत और फिर
हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत
की अर्जी भी दी. <br /><br />लेकिन
दोनों ही जगह गोपाल कांडा की
अर्जी खारिज कर दी गई.
गिरफ्तारी से बचने का कोई
चारा न देख गोपाल कांडा ने
आखिरकार दिल्ली के अशोक
विहार थाने में सरेंडर कर
दिया.
</p>
<p style="text-align: justify;">
http:// />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story जींद गैंगरेप-मर्डर केस में नया मोड़: आरोपी की लाश बरामद, केस की गुत्थी उलझी