चलती बस में किशोरी से गैंगरेप, बस से बाहर फेंका

चलती बस में किशोरी से गैंगरेप, बस से बाहर फेंका

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

सिंगरौली: देश को हिलाकर रख देने वाले निर्भया प्रकरण की तर्ज पर जिले के बैढन थाना क्षेत्र के जलहथनी गांव में कल एक नाबालिग किशोरी से चलती बस में तीन लोगों द्वारा गैंगरेप करने और फिर उसे बस से बाहर फेंक देने की घटना ने एक बार फिर लोगों को झकझोर दिया है.

 

पुलिस का कहना है कि मामले में बस चालक सहित सभी चारों आरोपियों को आज तड़के गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की जा रही है. पीड़िता के बयान के अनुसार, बस चालक ने उससे बलात्कार नहीं किया था, लेकिन पुलिस ने मामले में उसकी भूमिका को देखते हुए उसे भी गिरफ्तार किया है.

 

पुलिस ने आरोपियों के नाम बस चालक बाबूनंदन बैस और बलात्कार करने वाले वीरबलि बैस, राजबलि बैस और शुक्लाप्रसाद बैस बताए हैं. उन्होने बताया कि चलती बस से फेंकने के कारण सिर पर आई चोटों और गैंगरेप की वजह से पीड़ित को गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती किया गया है.

 

सड़क किनारे 15 साल की इस घायल एवं बेहोश किशोरी को जब गांव वालों ने देखा, तो वे भौंचक्के रह गए और उन्होंने पीड़िता को तत्काल अस्पताल में भर्ती कराया.

 

उधर, पुलिस अधीक्षक डी कल्याण चक्रवर्ती ने बताया कि घटना सिंगरौली जिले के बैढन थाना क्षेत्र के ग्राम जलहथनी के निकट की है. जलहथनी निवासी पीड़िता, बलियरी में अपनी बुआ के घर आई थी. कल दोपहर बाद लगभग साढ़े तीन बजे जब वह अकेले अपने घर जलहथनी जा रही थी.

 

उन्होंने बताया कि बलियरी मोड़ पर जब वह बस के इंतजार में रुकी हुई थी, तभी बारात लेने जा रही ‘सिद्दीकी ट्रैवल्स’ की बस वहां से गुजरी तो पीड़िता ने उसे रोका. बस में चालक सहित चार लोग सवार थे, जिसमें ज्यादातर बस का स्टाफ ही था. जलहथनी की ओर जा रही बस में पीड़िता बैठ गई.

 

पीड़िता जब बेहोशी की हालत में ग्रामीणों को मिली, तो उन्होंने उसे होश में लाने की कोशिश की. होश में आने पर किशोरी ने उन्हें अपनी आपबीती बताई.

 

पीड़ित ने उन्हें बताया कि बस में सवार होने के बाद पहले तो सब ठीक-ठाक रहा, लेकिन कुछ देर में धीरे-धीरे तीन लोग उसके पास आकर बैठ गए और छेड़छाड़ करने लगे. वे अश्लील बातें कर रहे थे. जब वह चिल्लाने लगी तो आरोपियों ने उसका मुंह दबा दिया.

 

पीड़िता ने पुलिस को भी दिए अपने बयान में बताया है कि बैढन से लगभग 12 किलोमीटर दूर सुनसान एवं जंगली इलाके में बस रोककर तीन आरोपी उसे जबरन नीचे खींचकर जंगल में ले गए, जहां उन्होंने उससे गैंगरेप किया और विरोध करने पर पिटाई की.

 

इसके बाद दो लोग उसे उठाकर बस तक ले आए और बस चल पड़ी. जलहथनी से दो किलोमीटर पहले ही उसे चलती बस से नीचे फेंक दिया गया, जिससे उसके सिर पर चोट लगी और वह बेहोश हो गई.

 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि शिकायत के बाद घटना में प्रयुक्त सिद्दीकी ट्रैवल्स की बस भी जब्त कर ली गई है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story शादी में मिला गिफ्ट खोला तो हुआ जोरदार धमाका, दूल्हे की मौत, दुल्हन जख्मी