तिहरे हत्याकांड के 3 आरोपियों को फांसी की सजा

By: | Last Updated: Friday, 6 September 2013 11:23 AM

<p style=”text-align: justify;”>
<span style=”line-height: 1.3em;”><b>लखनऊ/नई
दिल्ली:</b> राजधानी दिल्ली की
रोहिणी कोर्ट ने नौ वर्ष पहले
हुए तिहरे हत्याकांड के तीन
दोषियों को फांसी की सजा
सुनाई है. वर्ष 2004 की इस घटना
में उत्तर प्रदेश के मथुरा
रिफाइनरी के पूर्व प्रबंधक
के घर लूटपाट के दौरान उनकी
पत्नी, बेटा और पोते की हत्या
कर दी गई थी. वारदात को तीन
आरोपियों ने अंजाम दिया था.</span>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<span style=”line-height: 1.3em;”></span><span style=”line-height: 1.3em;”>मामले
की सुनवाई के दौरान अदालत ने
पाया कि हत्या के तीनों
आरोपियों में से एक प्रबंधक
के घर के सदस्यों से भलीभांति
परिचित हो गया था. इसके साथ ही
वह मुंहबोला भाई बन बैठा. इसी
क्रम में उसने अपने दो
साथियों के साथ तिहरे
हत्याकांड को अंजाम दिया था.
आरोपियों में उत्तर प्रदेश
के बुलंदशहर की कालोनी
सलेमपुर निवासी कलवा,
सिकंदराबाद का विजयपाल व
गाजियाबाद का वीरेंद्र उर्फ
मिंटू शामिल था.</span>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<span style=”line-height: 1.3em;”></span><span style=”line-height: 1.3em;”>घटना
के अनुसार जुगल किशोर दिल्ली
के रोहिणी सेक्टर सात में
सपरिवार रहते थे. वह मथुरा
रिफाइनरी के प्रबंधक पद से
वर्ष 2007 में सेवानिवृत्त हुए
थे. उनके परिवार में 55 साल की
पत्नी मृदुला, 29 वर्षीय पुत्र
राजेश और नौ वर्षीय पौत्र
अंकित घटना के समय घर में थे.
जुगल किशोर स्वयं मथुरा में
काम पर थे.</span>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<span style=”line-height: 1.3em;”></span><span style=”line-height: 1.3em;”>पांच
फरवरी 2004 को उनके घर तीन
मेहमान सुरेश उर्फ कलवा,
वीरेंद्र उर्फ मिंटू और
विजयपाल आए. तीनों रिश्ते में
भाई हैं. इनमें कलवा मृदुला
के बुलंदशहर स्थित मायके के
पड़ोस में रहता था और वह
अक्सर उसके घर आता जाता था.
जुगल किशोर के परिवार के
सदस्य कलवा से भलीभांति
परिचित थे.</span>
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
<span style=”line-height: 1.3em;”></span><span style=”line-height: 1.3em;”>वारदात
के दिन मृदुला इन तीनों
मुंहबोले भाइयों की
खातिरदारी में जुटी थी, पौत्र
अंकित स्कूल गया था. वह
रोहिणी इलाके में एक निजी
स्कूल में पढ़ता था. दोपहर
करीब 12 बजे जुगल किशोर ने
पत्नी को अपने दफ्तर से फोन
किया तो पत्नी ने बताया कि घर
में तीन मेहमान आए हैं, वह
उनके लिए खाना बना रही है.
इसके बाद इन तीनों कलयुगी
मुंहबोले भाइयों ने मिलकर
मृदुला और राजेश की हत्या कर
दी. इसके बाद लूटपाट की. इस बीच
स्कूल से अंकित अपने घर
पहुंचा तो इन लोगों ने अंकित
की भी हत्या कर दी और फरार हो
गए.</span>
</p>

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: तिहरे हत्याकांड के 3 आरोपियों को फांसी की सजा
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017