पुलिस ने माना कि हवालात में रखी गई थी बालिका

By: | Last Updated: Wednesday, 10 April 2013 9:42 PM

<p style=”text-align: justify;”>
<b>लखनऊ: </b>रेप
की शिकार एक बालिका को ही
हवालात में डाल देने की घटना
पर सर्वोच्च न्यायालय
द्वारा संज्ञान लेने के बाद
उत्तर प्रदेश पुलिस के सुर
बदल गए हैं. <br /><br />अपर पुलिस
महानिदेशक कानून-व्यवस्था
ने आज शाम स्वीकार किया कि
बालिका को थाने की हवालात में
बंद किया गया था और ऐसा करने
वाली थानाध्यक्ष जयश्री
चौहान व उप निरीक्षक सरिता
द्विवेदी को निलंबित कर दिया
गया है. <br /><br />इसके अतिरिक्त
अन्य अज्ञात पुलिसकर्मियों
के खिलाफ भी मुकदमा दर्ज
कराया गया है. पुलिस
महानिदेशक ए.सी. शर्मा ने
बुधवार को दोषी
पुलिसकर्मियों के खिलाफ
रिपोर्ट दर्ज कराने के
निर्देश दिए.<br /><br />गौरतलब है कि
मीरपुर रेप कांड की पीड़ित
जिस बच्ची को मेडिकल परीक्षण
कराने के नाम पर पुलिस ने
हवालात में डाला था, उसकी
पुलिस ने पिटाई भी की थी. यह
आरोप पीड़िता ने लगाए थे.<br /><br />पुलिस
ने रेप के मुख्य आरोपी
हरेंद्र उर्फ बच्चन पुत्र
रामपाल को मंगलवार को
गिरफ्तार किया था. अनुसूचित
जाति एवं जनजाति आयोग के अपर
निदेशक कौशलेंद्र कुमार के
नेतृत्व में पहुंची टीम ने भी
अपने स्तर पर कार्रवाई शुरू
की थी.<br /><br />एसएसपी गुलाब सिंह
ने बताया मामला संज्ञान में
आते ही महिला थाने की एसओ व
महिला दरोगा को लाइन हाजिर और
ड्यूटी पर तैनात दो महिला
पुलिसकर्मियों को निलंबित
किया गया. बुधवार को सर्वोच्च
न्यायालय द्वारा प्रदेश
सरकार को नोटिस देने पर पुलिस
महकमे ने कड़ी कार्रवाई कर
दी. <br /><br />अपर पुलिस महानिदेशक
अरुण कुमार ने बुधवार को
एनेक्सी में पत्रकारों को
बताया कि फिलहाल उक्त बालिका
की चिकित्सीय जांच में रेप की
पुष्टि नहीं हुई है और न कोई
जख्म पाए गए हैं. लेकिन वह यह
नहीं बता पाए कि दुराचार की
शिकार बालिका को पुलिस वालों
ने पीटा क्यों था? उन्होंने
कहा कि मामले की जांच की जा
रही है. <br />
</p>

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: पुलिस ने माना कि हवालात में रखी गई थी बालिका
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017