बंधक को छुड़ाने पहुंचा दरोगा खुद बना गया बंधक, रिवाल्वर भी छीनी

By: | Last Updated: Wednesday, 16 April 2014 8:39 AM

मथुराः उत्तर प्रदेश के मथुरा जनपद में बीते दिन एक गांव में कुछ लोगों ने पहले तो रीपर (गेहूं का भूसा निकालने की मशीन) की मरम्मत करने आए पंजाब के मशीन विक्रेता एवं उसके साथी को बंधक बना लिया और फिर शिकायत पर पहुंचे पुलिस के दरोगा तथा सिपाही को बुरी तरह पीट कर उनकी सर्विस रिवाल्वर छीन ली.

 

बाद में जिला मुख्यालय से भारी संख्या में आए पुलिस दल ने उन लोगों को गांव वालों से मुक्त कराया. हमलावर पुरुष फरार हो गए और गांव में सिर्फ महिलाएं ही रह गईं.

 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अखिलेश कुमार मीणा ने बताया कि थाना कोसीकलां के गांव नगला उटावर निवासी मुबारिक ने पिछले दिनों पंजाब के पटियाला निवासी सुखविन्दर सिंह से एक कृषि यंत्र रीपर खरीदा था.

 

कुछ दिन बाद रीपर में खराबी आने की शिकायत पर उसने अपने छोटे भाई गुरजीत को एक हेल्पर सतवंत उर्फ सोनू के साथ सर्विस के लिए भेज दिया. वे दोनों 13 अप्रैल को उटावर पहुंचे और मशीन चलाई. इस बीच मामूली बात पर दोनों पक्षों में तकरार हो गई और मुबारक ने अपने घरवालों के साथ मिलकर उन दोनों को मारपीट कर बंधक बना लिया. उसने उनसे उनकी कार, तीस हजार रुपए तथा अन्य सामान भी छीन लिया.

 

मंगलवार को किसी प्रकार उनकी पकड़ से मुक्त होकर गुरजीत ने अपने भाई को घटना की जानकारी दी. भाई ने मथुरा पुलिस से संपर्क किया. इस पर कोसीकलां की गोपाल बाग पुलिस चौकी से एक दरोगा को सिपाही सहित भेजा गया. लेकिन मुबारक और गांव वालों ने उससे रिवाल्वर छीन ली और बंधक बना लिया.

 

इस बीच सिपाही ने भागकर वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित किया जिसके बाद भारी संख्या में पहुंची कुमुक की सहायता से दरोगा व अन्य बंधक को छुड़ाया गया.

 

एसएसपी ने बताया कि मुबारक व उसके छह अन्य साथियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी खोज की जा रही है.

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: बंधक को छुड़ाने पहुंचा दरोगा खुद बना गया बंधक, रिवाल्वर भी छीनी
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017