बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाया, आजीवन कारावास

By: | Last Updated: Tuesday, 29 October 2013 12:06 AM

<p style=”text-align: justify;”>
<b>अंबाला:</b>
अंबाला की एक स्थानीय अदालत
ने एक दम्पति और दो अन्य को
अपने पुत्र और उसके परिवार के
सदस्यों को आत्महत्या के लिए
उकसाने के लिए आजीवन कारावास
की सजा सुनायी है.<br /><br />परमजीत
सिंह ने वर्ष 2012 में यमुनानगर
में अपनी पत्नी और तीन बच्चों
के साथ एक ट्रेन के सामने
कूदकर आत्महत्या कर ली थी.<br /><br />न्यायाधीश
विमलेश तंवर ने दोषियों
बलदेव सिंह, उसकी पत्नी
गुरचरण कौर, पुत्र चरणजीत
सिंह और उसकी पत्नी परमजीत
कौर परर 10-10 हजार रूपये का
जुर्माना भी लगाया.
</p>
<p style=”text-align: justify;”>
अभियोजन के अनुसार परमजीत और
उसका परिवार दोषियों के साथ
एक ही मकान में रहता था लेकिन
उसके पिता बलदेव चाहते थे कि
वह घर छोड़ दे. इसको लेकर
परमजीत तनाव में रहता था
क्योंकि उसके पास इसका कोई
विकल्प नहीं था. इस कारण उसने
आत्महत्या कर ली.<br /><br /><br /><br />
</p>

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाया, आजीवन कारावास
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017