मुंबई के होटल में 'मिड डे' की चार पत्रकारों से बदसलूकी, CCTV में कैद हुई पूरी घटना

By: | Last Updated: Friday, 21 February 2014 4:07 AM
मुंबई के होटल में ‘मिड डे’ की चार पत्रकारों से बदसलूकी, CCTV में कैद हुई पूरी घटना

नई दिल्ली: ये तस्वीरे हैं उस सीसीटीवी कैमरे की जो मुंबई के होटल अदिति में लगे हैं. इन तस्वीरों से साफ पता चलता है कि कुछ लोग इन महिलाओं से अभद्र तरीके से बात कर रहे हैं. ये चारों महिलाएं मुंबई के दैनिक अखबार मिड डे की पत्रकार हैं. लेकिन इनके पिछे बैठे लोगों ने ना केवल इन महिलाओं को घूरना शुरू किया बल्कि विरोध करने पर गाली गलौज भी करनी शुरू कर दी.

 

यह घटना 18 फरवरी दोपहर दो बजे की है जब मिड डे पांच पत्रकार ऑफिस के पास में स्थित एक वेजेटेरियन रेस्त्रां में लंच करने गए थे. ये लोग जिस टेबल पर बैठे उसके पास में वाले टेबल पर छ: लोग और पहले से ही बैठे हुए थे. ये लोग उस समय इरिटेट हो गए जब वेटर ने उन्हें उनकी टेबल थोड़ी सी हटाने के लिए कही.

 

उन्हीं में से एक महिला पत्रकार के मुताबिक, उसके बाद वे लोग उन्हें घूरते रहे. जब एक पत्रकार ने उन्हें असभ्य हो गया तो वे सब उन्हें लगभग 15 मिनट तक गालियां देते रहे. सभी पत्रकार यह सुनकर इसलिए चुप रहे क्योंकि वे लोग कोई सीन क्रिएट नहीं करना चाहते थे. उसके बाद एक आदमी उनकी तरफ पलटा और धमकी दी कि वह इस इस शहर में हमारा जीना दुश्वार कर देगा.

 

चुंकि उस रेस्त्रां में मोबाइल नेटवर्क नहीं था इसलिए ये पत्रकार पुलिस को फोन नहीं कर पाए. हालांकि इन पांच पत्रकारों में एक से एक पुरूष पत्रकार ने जब उन्हें रोकने की कोशिश की तो उनका कहना था- तुम चार लड़कियों के साथ बैठे हों इसलिए तुम्हें ज्यादा स्मार्ट बनने की कोशिश नहीं करनी चाहिए.

 

पुरूष पत्रकार ने बताया, जब उन्हें मां बहन की गालियां देनी शुरू की तो मैंने सिर्फ इसलिए रिस्पांस नहीं किया क्योंकि वे बहुत ही गुस्से में ऐसा कर रहे थे और हो सकता था कि वे हमसे फीजिकली लड़ने लगें. मैंने पुलिस को कॉल करने की कोशिश की लेकिन नेटवर्क नहीं होने की वजह से फोन नहीं लगा.

 

जब इन महिला पत्रकारों ने ये मामला पुलिस में दर्ज कराया तो आरोपियों ने खुद सरेंडर कर दिया. लेकिन आरोपियों के सरेंडर के बाद पुलिस उनकी आवाभगत में लग गई. जब उन्हे जमानत मिली तो थाने का इंस्पेक्टर उन्हे पुलिस स्टेशन के बाहर तक छोड़ने आया. और आरोपियों से हाथ मिलाकर उन्हे विदा किया.

 

अगले दिन जब पुलिस अधिकारियों की आरोपियों के साथ हाथ मिलाते हुए तस्वीरे मिड डे अखबार में छपी तो मुंबई के नए पुलिस आयुक्त राकेश मारिया ने हाथ मिला रहे पुलिस वालों के खिलाफ कार्रवाई की बात कही. मुंबई पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने कहा- महिला पत्रकारों से बदसलूकी के आरोपियों की आवभगत करनेवाले पुलिसवालों के खिलाफ कार्रवाई होगी.

 

सवाल ये है कि आखिर मुंबई पुलिस का ये कौन सा चेहरा है?