लावारिस शव से बदसुलूकी, दो पुलिसवाले निलंबित

लावारिस शव से बदसुलूकी, दो पुलिसवाले निलंबित

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

<p style="text-align: justify;">
<b>लखनऊ:</b> एबीपी न्यूज़ की
खबर का हुआ है असर. उत्तर
प्रदेश में लावारिस शव से
बदसलूकी के मामले में
संतकबीरनगर जिले के थाने में
तैनात दो पुलिसवालों को
निलंबित कर दिया गया है.
</p>
<p style="text-align: justify;">
एबीपी न्यूज़ ने सोमवार को
खबर दिखाई थी कि संतकबीरनगर
जिले से एक लावारिस शव को
बस्ती में पोस्टमार्टम हाउस
लाया गया था. पोस्टमार्टम के
बाद पुलिसवालों ने शव को अमहट
पुल से नदी में फेंकवा दिया
था.
</p>
<p style="text-align: justify;">
अमहट पुल पर सफेद कपड़ों में
लिपटे शव को एक शख्स ने नदी
में फेंक दिया और ये सब हुआ
यूपी पुलिस के इशारे पर.
</p>
<p style="text-align: justify;">
वाकया है यूपी के बस्ती का.
यहां रविवार की शाम पास के
संतकबीरनगर जिले से एक
लावारिस शव को पोस्टमार्टम
हाउस लाया गया था. पहले तो शव
को गले में रस्सी बांधकर
घंटों तक खुले में रखा गया और
आरोप है कि बाद में पुलिस ने
एक रिक्शेवाले के जरिए शव को
अमहट पुल से नदी में फेंकवा
दिया. ये है यूपी पुलिस का एक
लावारिस शव से बर्ताव.
</p>
<p style="text-align: justify;">
पोस्टमॉर्टम के बाद शवों के
अंतिम संस्कार के लिए 1500
रुपये दिए जाने का प्रावधान
है. शव को नदी में फेंकवाने
वाले पुलिसवाले ने दावा किया
कि अंतिम संस्कार का कम पैसा
मिलने की वजह से उसने ऐसा
किया.
</p>
<p style="text-align: justify;">
एबीपी न्यूज़ पर जैसे ही खबर
को दिखाया गया प्रशासन में
हड़कंप मच गया. संतकबीरनगर के
एसपी ने दो आरोपी पुलिसवालों
को निलंबित कर दिया.
</p>
<p style="text-align: justify;">
यूपी में इससे पहले भी
लावारिस शवों से अमानवीय
व्यवहार के मामले सामने आ
चुके हैं. सवाल ये है कि यूपी
में प्रशासन की नाक के नीचे
अंतिम संस्कार के इंसानी हक
की अनदेखी क्यों की जा रही है.
</p>
<p style="text-align: justify;">
<br />
</p>
<p style="text-align: justify;">
http:// />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story लखनऊ: रोडरेज में वरिष्ठ पत्रकार नवलकांत सिन्हा पर जानलेवा हमला, दो गिरफ्तार