विमान गुमशुदी : पुणे निवासी पीड़ित परिवार ने मांगा जवाब

विमान गुमशुदी : पुणे निवासी पीड़ित परिवार ने मांगा जवाब

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM
पुणे: मलेशिया एयरलाइन्स के लापता विमान एमएच 370 में सवार पुणे निवासी एक महिला के पति ने मलेशिया सरकार और एयरलाइन्स को इमेल भेज कर विभिन्न मुद्दों पर जवाब मांगा है.

 

महिला यात्री, क्रांति (44) के पति प्रहलाद शिरसाट ने आईएएनएस से शनिवार को कहा, "पहला और सबसे जरूरी सवाल यह है कि आखिर मलेशिया सरकार और उसके एयरलाइन्स ने सात से आठ घंटे बाद घोषित किया कि उसका विमान एमएच 370 लापता है? जब 239 सवारों के साथ बोइंग 777 राडार से अचानक लापता हो गया तो आखिर क्यों नहीं क्षेत्र और दुनिया में खतरे का अलार्म बजाया गया."

 

शुक्रवार को भेजे गए इमेल में सिद्धार्थ ने पूछा है, "यदि विमान के बारे में यह अनुमान लगाया गया कि वियतनाम के राडार पर वह हाजिर हो गया और उनके राडार पर विमान का पता नहीं चला तो क्यों नहीं खतरे की चेतावनी दी गई? जब विमान को सुबह 6:30 बजे बीजिंग हवाई अड्डे पर उतरना था और इससे पहले चीन की वायु सीमा में उसे घंटों तक उड़ान भरना था तो चीन ने भी चेतावनी क्यों नहीं जारी की?"

 

अपनी पत्नी को लेकर गहरी चिंता में डूबे सिद्धार्थ मलेशिया सरकार या अन्य सभी सरकारों पर 'यात्रियों के परिजनों से कुछ छिपाने' का आरोप लगाने से भी पीछे नहीं रह रहे हैं. उन्होंने सभी पर एक दूसरे का बचाव करने का आरोप भी लगाया.

 

सिद्धार्थ ने सवाल किया है, "सोशल मीडिया पर कहा जा रहा है कि विमान दिएगो गार्सिया में उतर गया. क्या आपने अमेरिका के सैनिक अड्डे की जांच की? या फिर आप उसी पर भरोसा कर रहे हैं जो अमेरिका कह रहा है."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story हैदराबाद में एमबीए छात्रा ने प्रेमी संग वीडियो कॉल करते हुए लगाई फांसी