मेरठ गैंगरेप: धर्मपरिवर्तन के आरोप पर राजनीति शुरु, बीजेपी के नेता पीड़ित परिवार से मिलने जाएंगे

By: | Last Updated: Tuesday, 5 August 2014 7:34 AM
Abduction, forced conversion and rape: Meerut girl narrates horrifying tale

नई दिल्ली: मेरठ में गैंगरेप और जबरन धर्म परिवर्तन का एक चौंकनेवाला मामला सामने आया है. मेरठ के खरखौदा से कुछ दिन पहले गायब हुई लड़की तीन दिन पहले घर लौट आई. लड़की ने बताया कि वो किसी तरह अपहरणकर्ताओं के चंगुल से छुटकर आई है. लड़की का आरोप है कि गांव के ही दो लोगों ने उसे मदरसे में टीचर की नौकरी दिलाने का झांसा देकर अगवा कर लिया था. उसे हापुड़, गढ और मुजफ्फरनगर के मदरसे में बंधक बनाकर रखा गया और इस दौरान उसका गैंगरेप भी हुआ.

 

पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इस घटना को लेकर इलाके के लोगों ने थाने में जमकर हंगामा भी किया. इलाके में तनाव बना हुआ है.

 

इस घटना पर अब राजनीति शुरू हो गई है. इस मामले पर किसने क्या कहा है, यहां पढें-

 

लक्ष्मीकांत वाजपेयी, यूपी के बीजेपी अध्यक्ष

यदि मेरठ के जिला प्रशासन ने दूध का दूध पानी का पानी नहीं किया तो यह मानकर चलना होगा कि मेरठ का प्रशासन सत्ता के दबाव में एक वर्ग विशेष के दबाव में काम करने को मजबूर है. यानि बिल्ली को आता देखकर कबूतर आंख मूंदकर बैठा है. एक छोटी से घटना अगर बड़ा रूप ले गई तो समाज के सेहत के लिए नुकसान देह होगा और जिम्मेदारी यूपी के प्रशासन की होगी.

 

मायावती, बसपा प्रमुख

यूपी में ये सब ठीक नहीं हो रहा है. बसपा इस कड़े शब्दों में निंदा करती है. सपा को इस मामले को गंभीरता से लेना चाहिए. जिसने ये गलत कार्य किया , धर्म परिवर्तन कराया, गैंगरेप कराया उनके खिलाफ सख्त कार्यवाही होनी चाहिए.

 

राजेंद्र चौधरी, समाजवादी पार्टी

इस मामले की जांच होगी. किसी ने अपराध किया है तो उसके खिलाफ कार्यवाही होगी. वहां के पुलिस ने कार्यवाही किया है और भी सख्त कार्यवाही होगी. पीड़ित पक्ष को न्याय मिलेगा. सपा किसी भी अन्याय को बर्दाश्त नहीं करेगा. धर्म परिवर्तन जैसी गंभीर बात को बिल्कुल भी नहीं. जो जो इसके लिए जिम्मेदार होंगे उनके खिलाफ कार्यवाही होगी.

 

विनय कटियार, बीजेपी नेता

यूपी में आएदिन ये घटनाएं हो रही हैं. इस पर कठोर कदम उठाने का समय आ गया है. संबंधित पक्ष से सरकार को बात करनी चाहिए. यूपी सरकार कने नीयत में खोट है जिसकी वजह से अपराधियों का मनोबल बढा़ हुआ है.

 

संजय राउत, शिवसेना

कानूना का राज है या नहीं है  बाद में बात करेंगे. महिला से मदरसे में रेप होता है, धर्म परिवर्तन होता है.. दिल्ली मुंबई में हुआ तो पूरा देश जा ग उठा. उस महिला को सम्मान मिलना चाहिए.