बिहार: बीजेपी 160 और मांझी की पार्टी 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी

By: | Last Updated: Monday, 14 September 2015 1:10 AM
Deal Done. BJP, Jitan Ram Manjhi Agree on Seat-Sharing for Bihar

नई दिल्ली: आखिरकार बिहार में एनडीए में सीटों का बंटवारा हो गया है. बिहार में बीजेपी 160, एलजेपी 40, आरएलएसपी 23 और हिंदुस्तान आवाम मोर्चा 20 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. आज बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके सीटों का ऐलान किया.

 

माझी अड़े हुए थे कि उन्हें 25 सीटें चाहिए लेकिन आज अमित शाह के घर पर हुई मांझी की मुलाकात में 20 सीटों  की डील पर मुहर लगी. हालांकि, मांझी जब अमित शाह के घर से निकले तो काफी बुझे मन में दिखे.

जब अमित शाह से मुलाकात के बाद मांझी बाहर निकले तो उन्होंने मीडिया से बात नहीं की. उनके चेहरे पर वह खुशी नहीं थी जिसकी उम्मीद की जा सकती थी. कयास लगाए जा रहे हैं कि भले ही मांझी ने डील कर ली है, लेकिन उन्हें उतनी सीटें नहीं दी गई हैं, जो उनके चेहरे पर मुस्कान बिखेर सके.

 

एबीपी न्यूज़ संवाददाता विकास भदौरिया कहना है कि दोपहर एक बजे सीटों के बंटवारों को लेकर एलान किया जाएगा. हालांकि, किस फॉर्मूले के तहत बात बनी है, इसका खुलासा नहीं हो सका है. लेकिन जैसे ही मांझी अमित शह के घर से निकले, उनकी कार की एक दूसरी गाड़ी से टक्कर हो गई, हालांकि किसी को चोट नहीं पहुंची.

 

थोड़ी देर में बीजेपी कोर ग्रुप की बैठक पार्टी मुख्यालय में होगी. उसके बात सीटों के बंटवारे को लेकर एलान किया जाएगा.

 

इससे पहले, जीतन राम मांझी ने भी कहा था कि आज फैसला हो जाएगा. हालांकि, मांझी ने धमकी दी थी कि अगर उन्हें मनमुताबिक सीटें नहीं मिली तो उनकी पार्टी चुनाव से अलग हो जाएगी.

 

क्या है झगड़ा?

 

बिहार चुनाव में बीजेपी रामविलास की एलजेपी और उपेंद्र कुशवाहा की आरएलएसपी के साथ-साथ जीतन राम मांझी की हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा से गठबंधन कर लालू-नीतीश के गठबंधन से मुकाबला करना चाहती है, लेकिन सीटों के बंटवारे का पेंच राह में रुकावट है.

 

बीजेपी बड़ी मुश्किल से रामविलास और उपेंद्र कुशवाहा को मनाने में तो कामयाब रही, लेकिन जीतन राम मांझी ने मुश्किल खड़ी कर रखी है. दरअसल जीतन राम मांझी को मनमुताबिक सीटें नहीं मिल रही हैं.

बीजेपी ने पहले मांझी को 15 सीटों का ऑफर दिया, उसके बाद एक फॉर्मूले के तहत 22 सीटें दी गई. लेकिन मांझी 25 सीट से कम पर मानने को तैयार नहीं थे.

 

जीतन राम मांझी के मसले पर बीजेपी में कल दिन भर चलीं बैठकें चलीं. रात में भी अनंत कुमार, धर्मेंद्र प्रधान और भूपेंद्र यादव ने की बैठक.  सीट विवाद के बीच मांझी ने पटना जाने का कार्यक्रम रद्द कर दिया. अब बात बनने जाने की खबर है, हालांकि औचपारिक एलान का सबको इंतज़ार है.

 

मांझी की नाराज़गी की वजह?

मांझी सिर्फ इसलिए नहीं नाराज़ हैं कि उन्हें सीटें कम मिल रही है, बल्कि रामविलास पासवान को मिल रही ज्यादा तवज्जो से भी नाखुश हैं.

 

अमित शाह और राम विलास पासवान की मिठाई खिलाने वाली यही तस्वीरें जीतनराम मांझी को खटक रही हैं. सूत्रों के मुताबिक इन तस्वीरों को लेकर मांझी का कहना है कि गठबंधन में जिस तरह का सम्मान पासवान का है वैसा उनका नहीं.

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Deal Done. BJP, Jitan Ram Manjhi Agree on Seat-Sharing for Bihar
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017