अंतिम संस्कार से पहले 'जिंदा' हो गया बच्चा, अस्पताल ने बताया था 'डेड'

By: | Last Updated: Monday, 19 June 2017 9:20 AM
अंतिम संस्कार से पहले 'जिंदा' हो गया बच्चा, अस्पताल ने बताया था 'डेड'

नई दिल्ली : देश की राजधानी के अस्पताल में लापरवाही की हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. केंद्र सरकार के एक अस्पताल के कर्मचारियों ने एक नवजात को कथित तौर पर ‘मृत’ घोषित कर दिया, लेकिन अंतिम संस्कार के पहले उसे ‘जिंदा’ पाया गया.

बाद में दावा किया कि अस्पताल में गलतफहमी के कारण ऐसा हुआ

एक पुलिस अधिकारी ने पहले बताया था कि बच्चे की मौत हो गयी लेकिन, बाद में दावा किया कि अस्पताल में गलतफहमी के कारण ऐसा हुआ. पहचान नहीं बताए जाने का अनुरोध करते हुए अधिकारी ने बताया कि बच्चा जिंदा है.

यह भी पढ़ें : भाई की ‘बुरी आदतों’ से परेशान होकर हत्या, पत्थर से घायल कर गला दबाया

दरपुर की एक निवासी ने सुबह एक शिशु को जन्म दिया

घटना सफदरजंग अस्पताल में हुयी जब बदरपुर की एक निवासी ने सुबह एक शिशु को जन्म दिया. अस्पताल के कर्मचारियों को बच्चे में कोई हरकत नजर नहीं आयी. बच्चे के पिता रोहित ने कहा, ‘डॉक्टर और नर्सिंग कर्मचारियों ने बच्चे को मृत घोषित कर शव को एक पैक में बंद कर उस पर मोहर लगा दी और अंतिम संस्कार के लिए हमें थमा दिया.’

जब उसे खोला गया तो बच्चे की धड़कन चल रही थी

मां की हालत ठीक नहीं थी तो वह अस्पताल में ही भर्ती है जबकि पिता और परिवार के अन्य सदस्य शव को लेकर घर आए और अंतिम संस्कार की तैयारी शुरू कर दी. अचानक रोहित की बहन ने पैक में कुछ हरकत महसूस की और जब उसे खोला गया तो बच्चे की धड़कन चल रही थी और वह हाथ पैर चला रहा था.

यह भी पढ़ें : अस्पताल में पुलिस की आंखों में झोंकी मिर्च, हवाई फायरिंग कर कैदी को छुड़ा ले गए बदमाश

जहां से उसे फिर सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया

तुरंत पीसीआर को फोन किया गया और बच्चे को अपोलो अस्पताल भेजा गया जहां से उसे फिर सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया. स्तब्ध अभिभावकों ने मामले को लेकर पुलिस का दरवाजा खटखटाया है. रोहित ने कहा, ‘वे इतने गैर जिम्मेदार कैसे हो सकते हैं और जिंदा बच्चे को मृत घोषित कर सकते हैं?’

सफदरजंग अस्पताल प्रशासन ने मामले की जांच का आदेश दिया

उनका कहना है कि ‘अगर हमने समय रहते बंद पैक को नहीं खोला होता तो मेरा बच्चा वास्तव में मर गया होता. हमें सच्चाई कभी पता नहीं चलती. अस्पताल की तरफ से यह घोर लापरवाही है और दोषियों को दंडित किया जाना चाहिए.’ सफदरजंग अस्पताल प्रशासन ने मामले की जांच का आदेश दिया है.

यह भी पढ़ें : अपराध से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

500 ग्राम से कम वजन का बच्चा जीवित नहीं रहता

सफदरजंग अस्पताल में चिकित्सा अधीक्षक ए के राय ने बताया, ‘महिला ने 22 हफ्ते के एक समय पूर्व बच्चे को जन्म दिया. डब्ल्यूएचओ के दिशा-निर्देश के मुताबिक 22 हफ्ते के पहले और 500 ग्राम से कम वजन का बच्चा जीवित नहीं रहता. जन्म के बाद बच्चे में कोई हरकत नहीं थी और श्वसन प्रणाली भी नहीं चल रही थी.’

पहले करीब एक घंटे तक निगरानी में रखा जाता है

उन्होंने कहा, ‘हमने जांच करने का आदेश दिया है कि क्या बच्चे को मृत घोषित करने और उसे अभिभावकों को सौंपने से पहले सही से जांच की गयी कि वह जीवित था.’ एक डॉक्टर के मुताबिक ऐसे बच्चों को मृत घोषित करने के पहले करीब एक घंटे तक निगरानी में रखा जाता है.

First Published:

Related Stories

नोएडा: एटीएम बैलेंस देख बनाया मर्डर का प्लान, ईंट से कुचलकर की हत्या
नोएडा: एटीएम बैलेंस देख बनाया मर्डर का प्लान, ईंट से कुचलकर की हत्या

नोएडा: पुलिस ने थाना फेस-2 के नया गांव में रहने वाले एक शख्स की हत्या के आरोप में एक बदमाश को...

यूनिसेक्स सैलून की आड़ में सेक्स रैकेट, 10 लड़कियां सहित 12 गिरफ्तार
यूनिसेक्स सैलून की आड़ में सेक्स रैकेट, 10 लड़कियां सहित 12 गिरफ्तार

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस ने रोहिणी में यूनिसेक्स सैलून की आड़ में सेक्स रैकेट चलाने के आरोपों...

बच्ची ने किया बिस्तर पर पेशाब, सौतेले पिता ने ले ली जान
बच्ची ने किया बिस्तर पर पेशाब, सौतेले पिता ने ले ली जान

फरीदाबाद: हरियाणा के जिला फरीदाबाद में बिस्तर पर पेशाब को लेकर सौतेले पिता ने अपनी बेटी की...

बिहार: पूर्व जेडीयू नेता की हत्या के मामले में छह को उम्रकैद
बिहार: पूर्व जेडीयू नेता की हत्या के मामले में छह को उम्रकैद

शेखपुरा: बिहार के शेखपुरा जिला की एक कोर्ट ने जेडीयू के पूर्व लोकल नेता संजीत कुमार की हत्या के...

महिला यात्री के साथ दुर्व्यवहार पड़ा भारी, उबर ने चालक को हटाया
महिला यात्री के साथ दुर्व्यवहार पड़ा भारी, उबर ने चालक को हटाया

तिरूवनंतपुरम : कैब सेवा प्रदाता कंपनी उबर ने महिला के साथ कथित तौर पर दुर्व्यवहार के मामले में...

मेरठ : कश्मीरी छात्रों पर देश विरोधी नारेबाजी का आरोप, पुलिस जांच में जुटी
मेरठ : कश्मीरी छात्रों पर देश विरोधी नारेबाजी का आरोप, पुलिस जांच में जुटी

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में परतापुर क्षेत्र के दिल्ली हाइवे पर स्थित कालका डेंटल कालेज...

यूपी : 'चिप' वाले 5 पेट्रोल पम्पों पर गिरी गाज, तेल चोरी में डीलरशिप निरस्त
यूपी : 'चिप' वाले 5 पेट्रोल पम्पों पर गिरी गाज, तेल चोरी में डीलरशिप निरस्त

लखनऊ : उत्तर प्रदेश में राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश के कई जिलों में डिस्पेंसर यूनिट में ‘चिप’...

होटल में पड़ा छापा तो मिले 25 'जाली' पासपोर्ट, दो लोग हुए गिरफ्तार
होटल में पड़ा छापा तो मिले 25 'जाली' पासपोर्ट, दो लोग हुए गिरफ्तार

मुंबई : होटलों और गेस्ट हाउसों में रूटीन जांच के दौरान साकीनाका पुलिस को बड़ी मात्रा में...

यूपी : खेत 'मापने' गई सरकारी टीम पर हमला, महिला सहित 3 गिरफ्तार
यूपी : खेत 'मापने' गई सरकारी टीम पर हमला, महिला सहित 3 गिरफ्तार

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद जिले की मैनाठेर थाना क्षेत्र में बुधवार को चकरोड की पैमाइश...

दुष्कर्म के आरोपियों को पकड़ने के लिए पीड़िता के सामने रख दी 'हवस' की शर्त
दुष्कर्म के आरोपियों को पकड़ने के लिए पीड़िता के सामने रख दी 'हवस' की शर्त

लखनऊ : यूपी के रामपुर में एक शर्मसार कर देने वाली घटना सामने आई है. यहां पुलिस के एक अधिकारी ने...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017