चेकिंग पर पुलिसवाले को पीटा

By: | Last Updated: Monday, 13 July 2015 5:13 PM

नई दिल्ली: दिल्ली में गुंडों के हौसले इतने बुलंद हैं कि वो पुलिस वालों पर हमला करने से भी नहीं हिचकते. गोकुलपुरी इलाके में ट्रैफिक नियम तोड़ने पर जब पुलिस वालों ने रोका तो गुंडों ने अपने साथियों को बुला लिया और पुलिस वालों की पिटाई कर दी. 

 

सड़क पर गुंडागर्दी की इस घटना को एक चश्मदीद ने अपने मोबाइल में कैद किया है. ट्रैफिक नियम तोड़ने पर जब ट्रैफिक पुलिस ने रोका तो ये लोग गुंडागर्दी पर उतर आए और पुलिस वालों की पिटाई कर दी. बाइक पर तीन लोग सवार थे और वो भी बिना हेलमेट के. ड्यूटी पर तैनात हेड कांस्टेबल जय भगवान और कांस्टेबल मनोज ने जब इन्हें रोका तो ये लोग पुलिस वालों को धौंस दिखाने लगे. इस बीच आरोपियों ने अपने साथियों को बुला लिया और फिर पुलिसवालों पर हमला बोल दिया.

 

पहले तो इन लोगों ने हेड कांस्टेबल जय भगवान को पीटना शुरू किया. लेकिन अचानक भीड़ से आवाज आई कि अरे इसने कुछ नहीं किया है. फिर ये गुंडे कांस्टेबल मनोज की तरफ लपके जो कुछ दूरी पर खड़ा था. गुंडों ने कांस्टेबल मनोज को बुरी तरह पीटना शुरु कर दिया. कांस्टेबल मनोज को जमीन पर गिराकर लात घूंसे बरसाने लगे.

 

कांस्टेबल मनोज जान बचाकर भागा. वो सड़क किनारे बने कमरे में जाकर छिप गया लेकिन इन गुंडों के सिर पर खून सवार था. ये लोग कांस्टेबल मनोज के पीछे भागे. तभी भीड़ में मौजूद कुछ लोगों ने इन गुंडों को आरजू मिन्नत कर रोका, तब जाकर कांस्टेबल मनोज की जान बच पाई.

 

पुलिस ने वारदात में शामिल आरोपी सागिर अहमद और उसके बेटे शाहनवाज को गिरफ्तार कर लिया है. एक नाबालिग आरोपी को भी हिरासत में लिया गया है. पुलिस बाकी आरोपियों की तलाश कर रही है. लेकिन इस घटना ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि दिल्ली में सड़क पर घूम रहे गुंडों को कानून का कोई खौफ नहीं है.

 

वीडियो देखने के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें-

 

Viral Video: चेकिंग पर पुलिसवाले को पीटा 

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Delhi Police_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: crime Delhi Police
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017