इशरत जहां मामले के आरोपी डीएसपी एनके अमीन को बहाल किया

By: | Last Updated: Saturday, 6 June 2015 1:25 AM
Ishrat case accused DySP N K Amin reinstated by Gujarat govt

फ़ाइल फ़ोटो: इशरत जहां

अहमदाबाद: गुजरात के गृह विभाग ने साल 2004 और साल 2005 के सोहराबुद्दीन फर्जी मुठभेड़ मामले में आरोपी एनके अमीन को पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) के तौर पर राज्य अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एससीआरबी) में बहाली की है.

 

गृह विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘अमीन के निलंबन को खत्म कर दिया गया है और उन्हें एससीआरबी में डीएसपी नियुक्त किया गया है.’’

 

अमीन को सीबीआई की विशेष अदालत ने बीते आठ मई को खराब सेहत और दूसरे आरोपियों के साथ समानता के आधार पर उनको नियमित जमानत दी थी. सोहराबुद्दीन फर्जी मुठभेड़ मामले में अमीन को मार्च, 2013 में जमानत मिली थी.

 

क्या है इशरत जहां मामला?

15 जून 2004 को अहमदाबाद में एक मुठभेड में चार आतंकी मारे गए थे, जिनमें इशरत जहां नाम की एक कॉलेज जाने वाली छात्रा भी थी. उसका दूसरा साथी जावेद शेख था. दो अन्य आतंकी भी उसके साथ थे जिनके बारे में कहा जाता है कि वे पाकिस्तानी नागरिक थे.

 

इनके मरने के बाद कुछ लोगों ने यह आरोप लगाने शुरू किए कि यह लोग आतंकी नहीं थे और पुलिस ने इनको गोली मारकर मार दिया और मरे हुए लोगों के हाथ में हथियार थमा दिए. कुछ मानवाधिकार संगठन इस मामले को लेकर आतंकियों से ज्यादा उत्साह में आ गए और इस पूरे घटनाक्रम की जांच करने की मांग करने लगे.

 

अहमदाबाद पुलिस ने इशरत जहां और अन्य तीन लोगों को आतंकी बताकर मुठभेड़ में मार गिराया था. मजिस्ट्रेट जांच में मुठभेड़ को फर्जी पाया गया. तब पता चला कि सरकार से तमगे हासिल करने के लिए पुलिस ने फर्जी मुठभेड़ में उनकी हत्या की थी.

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Ishrat case accused DySP N K Amin reinstated by Gujarat govt
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: DySP N K Amin
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017