शीना मर्डर केस: 3 दिन और सीबीआई के कब्जे में पीटर

By: | Last Updated: Monday, 23 November 2015 12:04 PM

मुंबई : शीना बोरा हत्याकांड में गिरफ्तार पीटर मुखर्जी और उनकी पत्नी इंद्राणी ने 2012 में मुंबई के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी से संपर्क कर शीना की फोन करने की जगह पता लगाने में मदद मांगी थी.

 

संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) देवेन भारती के अनुसार दंपति ने शीना के मोबाइल फोन की जगह पता लगाने के लिए टेलीफोन पर उनसे बात की थी जिस समय वह अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (अपराध) थे.

 

उस समय अपराध शाखा की अगुवाई कर रहे और लापता लोगों का पता लगाने के लिए नोडल अधिकारी भारती ने कहा, ‘‘आरोपी दंपति ने मुझसे इस बारे में फोन पर बात की थी.’’ उन्होंने ज्यादा ब्योरा नहीं दिया.

 

सीबीआई सूत्रों ने कहा कि पीटर से पूछताछ के दौरान यह बात सामने आई.

 

दावा किया गया कि दंपति ने बाद में भारती द्वारा पूछताछ के लिए निर्धारित किये गये अधिकारी से कहा था कि मामले को वापस लिया जा सकता है क्योंकि लापता जन का पता चल गया है लेकिन इससे सवाल पैदा हुए कि उस अधिकारी ने उनके दावे की सत्यता की पुष्टि करने की कोशिश क्यों नहीं की.

 

पिछले सप्ताह सीबीआई ने 59 वर्षीय पूर्व मीडिया कारोबारी पीटर को गिरफ्तार किया था और उन पर हत्याकांड में हत्या और आपराधिक षड्यंत्र का आरोप दर्ज किया था.मुम्बई की अदालत ने शीना हत्या मामले में पीटर मुखर्जी की सीबीआई हिरासत 26 नवम्बर तक बढ़ाई.

 

पीटर मुखर्जी ने पूछताछ के दौरान अपने और अपनी पत्नी इंद्राणी द्वारा ब्रिटेन और भारत में किये गए निवेशों का खुलासा किया लेकिन धन का स्रोत नहीं बताया.

 

 

 

 

 

 

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Peter Mukerjea live 3 days with cbi in Sheena Bora murder case
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017