व्हाट्सएप पर सुसाइड नोट लिख पटेल आंदोलन से जुड़े युवक ने की खुदकुशी

By: | Last Updated: Sunday, 27 September 2015 2:22 AM
suicide in Patel agitation for reservation

नई दिल्ली: पाटीदार (पटेल) समाज के एक युवक की आत्महत्या से गुजरात के राजकोट में सनसनी फैली हुई है. आत्महत्या से पहले कथित सुसाइड नोट के चलते आत्महत्या को पाटीदार आरक्षण आंदोलन के साथ जोड़ कर देखा जा रहा है.

 

राजकोट के उमेश  पटेल नाम क युवक की लाश पुलिस को वावडी इलाके में एक कारखाने से बरामद है. शहर के गोंडल रोड इलाके में रहने वाले उमेश ने  पाइप से लटककर अपने आपको फांसी लगाई.

 

आत्महत्या की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहोची और लाश को पोस्टमॉटम के लिए भेजा. ख़ुदकुशी करने के पहले उमेश ने अपने समाज से जुड़े लोगो को व्हाट्सएप के जरिए सुसाइड नोट भी भेजा.

इस कथित सुसाइड नोट में आंदोलन का भी जिक्र किया है साथ ही आरक्षण की मांग के बारे में भी लिखा है,  उसमे यह भी लिखा गया है कि आंदोलन के दौरान हुई हिंसा में मारे गए (शहीद हुए) समाज के लोगों  को यह श्रद्धांजलि है. पुलिस इस कथित सुसाइड  नोट की जांच कर रहे है. इसके साथ ही पुलिस मौत की वजह जानने के लिए पोस्टमार्टम रिपोर्ट का भी इंतजार कर रही है.

 

युवक न सुसाइड नोट में क्या लिखा?

 

”में उमेश पटेल  मेरे पास जमींन नहीं है मकान नहीं है पूंजी नहीं है और मै आरक्षण की मांग करू तो मुझे लाठी खानी पडती है. मैं गुजरात का पुत्र नहीं हूं  मेरे जैसे कई पाटीदार भाई बहन है जो निसहाय है.  मेरा न तो कोई भाई है या फिर बहन. 

 

मेरे माता -पिता की मैं एक ही संतान हु. मेरे भाई को तो आप के भ्रष्टाचार ने मार डाला. अब मेरे निसहाय मां-बाप की जिम्मेदारी कौन लेगा. यह चिठ्ठी लिखने तक तो वक्त हाथ नहीं चल रहा. फिर भी कितनी मज़बूरी होगी की जब यह हाथ चला होगा जब तक सरकार गरीब पटीदारों के सामने नहीं देखेगी तब तक ऐसे बेटों को खोना पड़ेगा और यह सब जवाबदेही सरकार की रहेगी. यह चिठ्ठी सरकार तक पहोचने के लिए मेरी गुजारिश है.

 

मेरे सब पाटीदार भाईओ की में माफ़ी मांगता हुं कि इस आंदोलन में मै आप के साथ न रह सका. जिसके लिए मुझे माफ़ करें. मेरी यह क़ुर्बानी (बलिदान) विफल न जाय वार्ना मेरा जीवन ही नहीं मेरी मौत भी बेकार जायेगी. सरकार कोई ठोस कदम नहीं उठाएगी तो हर 26 तारीख को एक बेटा ऐसे ही मरेगा, मेरे शहीद  भाइओ के लिए यह श्रद्धांजलि  है.”

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: suicide in Patel agitation for reservation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Patel Reservation suicide
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017