सूरत रेप कांड: अभी तक नहीं हुई बच्ची की पहचान, 5 भाषाओं में 1200 पोस्टर शहर में लगाए | surat rape case full update in hindi

सूरत रेप कांड: अभी तक नहीं हुई बच्ची की पहचान, 5 भाषाओं में 1200 पोस्टर शहर में लगाए

गुजरात के सूरत में 6 अप्रैल को एक बच्ची की लाश मिली थी. करीब 11 साल की इस बच्ची के शरीर पर चोट के 86 निशान थे. सूरत पुलिस काफी प्रयास कर रही है लेकिन अभी तक बच्ची की शिनाख्त नहीं हो पाई है.

By: | Updated: 17 Apr 2018 03:01 PM
surat rape case full update in hindi
सूरत: गुजरात के सूरत में 6 अप्रैल को एक बच्ची की लाश मिली थी. करीब 11 साल की इस बच्ची के शरीर पर चोट के 86 निशान थे. सूरत पुलिस काफी प्रयास कर रही है लेकिन अभी तक बच्ची की शिनाख्त नहीं हो पाई है साथ ही ये भी पता नहीं चल पा रहा है कि आखिर इस बच्ची का गुनाहगार कौन है.

सीसीटीवी खोलेगा राज?
जिस जगह पर बच्ची का शव मिला था उससे करीब 800 मीटर दूर एक इमारत है जिसमें सीसीटीवी लगा हुआ है. पुलिस ने इस सीसीटीवी की 11 दिनों की फुटेज अपने कब्जे में ली है. पुलिस को उम्मीद है कि इस सीसीटीवी की फुटेज से जरूर कुछ ना कुछ सुराग मिल पाएगा.

कहीं दूर से लाकर फेंका शव?
पुलिस सूत्रों के मुताबिक, ऐसा भी संभव है कि हत्या कहीं और की गई हो और फिर शव को यहां फेंका गया हो. घटनास्थल से करीब 2 किलोमीटर दूर नेशनल हाईवे 6 है. हो सकता है कि बच्ची को ट्रक या किसी अन्य जरिए से हाइवे के रास्ते यहां लाया गया हो और यहां सुनसान इलाका देख कर फेंक दिया गया हो.

पोस्टरों से मिलेगी मदद
पुलिस को लगा रहा है कि बच्ची बंगाल या उडीसा की हो सकती है इसलिए पुलिस ने बंगाली और उडिया समेत 5 भाषाओं में 1200 पोस्टर शहर भर में लगाए हैं. साथ ही पुलिस ने अंग्रेजी, हिन्दी और गुजराती में भी पोस्टर लगाए हैं.

इलाके भर में दहशत
जहां पर बच्ची की लाश मिली थी उस इलाके के लोगों में दहशत बैठ गई है. कॉलोनी के जिन घरों में बच्चियां हैं वह लोग खास तौर पर डरे हुए हैं. एक महिला ने कहा कि जितनी देर बच्चे बाहर खेलते हैं उतनी देर बॉल्कनी से उनको देखा जाता है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: surat rape case full update in hindi
Read all latest Crime News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story हर 15 मिनट में एक बच्चा होता है यौन अपराध का शिकार: क्राई