व्यापम घोटाला: ट्रेनी सब-इंस्पेक्टर अनामिका कुशवाहा ने तालाब में कूदकर की खुदकुशी

By: | Last Updated: Monday, 6 July 2015 4:07 AM
vyapam_mp_sup_inspector_suicide

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले में एक के बाद एक मौतों का सिलसिला थम नहीं रहा है. व्यापम घोटाले में एक बार फिर बड़ी खबर आई है. एमपी में व्यापम से भर्ती हुई ट्रेनी महिला सब-इंस्पेक्टर अनामिका कुशवाहा की मौत हो गई है.

 

मध्य प्रदेश के सागर में महिला ट्रेनी सब-इंस्पेक्टर अनामिका कुशवाहा ने खुदकुशी की है. पुलिस ने खुदकुशी का ही केस दर्ज किया है. पुलिस एकेडमी के पास ट्रेनिंग कॉलेज के पास के तालाब में डूब कर अनामिका ने जान दे दी.

 

इस केस में ब़ड़ा खुलासा ये हुआ है. आईजी सागर रेंज केपी खरे ने एबीपी न्यूज़ से कहा है  कि अनामिका कुशवाहा को ससुराल से मानसिक प्रताड़ना मिल रही थी. पति पत्नी में मतभेद था. रिश्तों में तनाव था. अनामिका के पिता का आरोप है कि दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था. पति ने कल रात से अपना फोन बंद कर रखा था.

 

व्यापम महज़ घोटाला नहीं, RSS का अपने लोगों को अंदर घुसाने का मामला है: दिग्विजय 

एबीपी न्यूज़ संवाददाता बृजेश सिंह राजपूत ने बताया कि अनामिका के दोस्तों के मुताबिक वह काफी समय से दवाब में थीं.

 

भिंड की अनामिका की भर्ती पिछले साल व्यापम से ही हुई थी. वह 2014 बैच की भर्ती थीं. मई में उनकी ज्वॉइनिंग हुई थी और शादीशुदा भी थीं. दिग्विजय सिंह ने सवाल उठाया है कि ये 46 वीं मौत या 47वीं?

 

मध्य प्रदेश के व्यापम घोटाले को लेकर हंगामा मचा हुआ है. 40 से ज्यादा लोगों की मौत सवालों के घेरे में है. घोटाले के आरोपी पूर्व लक्ष्मीकांत शर्मा जेल में हैं लेकिन जेल में ऐश चल रही है.

 

राजस्थान पत्रिका अखबार राजस्थान पत्रिका अखबार के मुताबिक जब उनका रिपोर्टर भोपाल की जेल में पहुंचा तो लक्ष्मीकांत शर्मा और उनके भाई समेत व्यापम के 8 आरोपी जेलर के साथ उनके एसी रूम में गप मार रहे थे.

 

अखबार के मुताबिक, जेलर के ठीक सामने व्यापम घोटाले का मुख्य आरोपी जगदीश सागर बैठा हुआ था. जगदीश सागर के पास में पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा का पूर्व ओएसडी ओपी शुक्ला बैठा हुआ था. इन्हीं के बगल में पूर्व मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा और उनके भाई उमाकांत शर्मा जेलर साहब से गप मार रहे थे.

 

सवाल यह भी है कि आखिर अनामिका ने अगर खुदकुशी नहीं की तो उनकी मौत तालाब में डूबकर कैसे हुई? एक ट्रेनी सब-इंस्पेक्टर को ट्रेनिंग के दौरान तैराकी का प्रशिक्षण भी दिया जाता है.

 

क्या है व्यापम घोटाला?

मध्य प्रदेश के सबसे बड़े व्यापम भर्ती घोटाले से जुड़े 40 से ज्यादा आरोपियों की संदिग्ध मौत हो चुकी है. यही वजह है कि कांग्रेस मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर हमलावर है और सीबीआई जांच की मांग कर रही है. व्यापम के तहत सरकारी नौकरियों और मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए हुआ था एक बहुत बड़ा फर्जीवाड़ा.

व्यापम घोटाला: सब इंस्पेक्टर अनामिका ने की खुदकुशी!  

55 केस, 2,530 आरोपियों और 1,980 गिरफ्तारियों के साथ इसे खूनी घोटाला भी कहा जाने लगा है.

 

इस घोटाले से सबसे पहले पर्दा तब उठा जब 7 जुलाई, 2013 को मध्य प्रदेश के इंदौर में पीएमटी की प्रवेश परीक्षा में कुछ छात्र फर्जी नाम पर परीक्षा देते पकड़े गए.

 

इसके साथ ही पुलिस ने इसके मास्टरमाइंड डॉक्टर जगदीश सागर को गिरफ्तार किया. डॉक्टर जगदीश सागर की गिरफ्तकारी के बाद पता चला कि मध्य प्रदेश का व्यावसायिक परीक्षा मंडल यानी व्यापम का दफ्तर इस धंधे का अहम अड्डा है.

 

संबंधित खबरें-

DEPTH INFORMATION: क्या है व्यापम घोटाला ? 

व्यापम महज़ घोटाला नहीं, RSS का अपने लोगों को अंदर घुसाने का मामला है: दिग्विजय 

अक्षय सिंह: विजयवर्गीय ने मौत की वजह हार्ट अटैक बताया, तो दिग्गी ने पोस्टमार्टम पर उठाए सवाल 

व्यापम की रिपोर्टिंग में पत्रकार अक्षय सिंह की मौत 

व्यापम में आरोपियों की मौत की संख्या एसआईटी ने 25 से बढाकर 33 की  

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: vyapam_mp_sup_inspector_suicide
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017