उत्पीड़न की शिकार महिला पुलिस अधिकारी ने की डीआईजी को बर्खास्त करने की मांग

By: | Last Updated: Monday, 18 August 2014 3:58 AM

मेरठ: मेरठ में पुलिस प्रशिक्षण स्कूल के डीआईजी के खिलाफ कार्य स्थल पर यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए गठित एक समिति ने महिला उप निरीक्षक द्वारा लगाए गए आरोपों को सही पाया है.

 

चार सदस्यीय आंतरिक समिति ने डीआईजी देवी प्रसाद श्रीवास्तव पर अभियोग लगाया है. इस बीच, महिला अधिकारी ने कहा कि समिति ने अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंप दी है और डीआईजी को तत्काल बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए.

 

महिला उप निरीक्षक ने कहा, ‘‘अधिकारी को कार्यालय में बने रहने का कोई अधिकार नहीं है.’’ समिति के सदस्यों में लखनउ पुलिस मुख्यालय के अतिरिक्त डीएसपी नित्यानंद राय, गैर सरकारी संगठन ‘सुरक्षा’ की सदस्य शालिनी माथुर, सरकारी कर्मचारी मिथिलेश वर्मा और अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक सुतापा सान्याल शामिल हैं.

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने डीआईजी के खिलाफ आरोप सामने आने के बाद उन्हें निलंबित (सस्पेंड) कर दिया था. हालांकि बाद में यह निलंबन वापस ले लिया गया था.

Crime News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Woman police officer demands dismissal of DIG who’s been found guilty of molestation
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017