दिल्ली में उबर की टैक्सी में बलात्कार, रेप का आरोपी ड्राइवर अब भी फरार

By: | Last Updated: Sunday, 7 December 2014 2:32 AM
Woman professional raped by cab driver

नई दिल्ली: दिल्ली में एक लड़की ने ड्राइवर पर प्राइवेट टैक्सी में रेप का आरोप लगाया है. टैक्सी को बरामद कर लिया गया है लेकिन आरोपी अब भी फरार है. पीड़ित महिला के मुताबिक उसने अमेरिकी कंपनी उबर (Uber) के ऐप के जरिए टैक्सी मंगवाई थी. लेकिन ड्राइवर ने एक सुनसान जगह पर उसका रेप किया.

 

रेप की इस ङटना में सबसे बड़ा सुराग उबर का मोबाइल ऐप ही है लेकिन रेप के बाद ड्राइवर ने ऐप डिलीट करके पुलिस के लिए परेशानी खड़ी कर दी है. पुलिस ने टैक्सी तो बरामद कर ली है लेकिन आरोपी ड्राइवर फरार है. गुड़गांव में कंपनी का जो ऑफिस है उसके पास ड्राइवर के बारे में कोई जानकारी नहीं है. फोटो भी नहीं है.

 

महिला ने पुलिस को बताया-

गुड़गांव स्थित एक वित्त कंपनी से अपनी ड्यूटी खत्म कर घर लौट रही एक 25 वर्षीय महिला के मुताबिक उसने शुक्रवार की रात साढ़े नौ बजे वसंत विहार से इंद्रलोक के लिए टैक्सी बुलाई थी और रास्ते में उससे रेप किया गया. पीड़ित के मुताबिक आरोपी ड्राइवर ने रेप के बारे में पुलिस को बताने पर बड़े अंजाम की धमकी दी थी.

 

पुलिस ने शनिवार को मामले की जानकारी दी. घटना शुक्रवार रात की है.  पुलिस ने पीड़िता द्वारा दर्ज कराई गई शिकायत के हवाले से बताया, ‘शाम सात बजे अपनी शिफ्ट खत्म होने के बाद महिला अपने कुछ दोस्तों के साथ डिनर के लिए रेस्त्रां गई. उसके एक दोस्त ने उसे वसंत विहार तक छोड़ दिया, जहां से उसने इंद्रलोक जाने के लिए एक निजी कंपनी द्वारा चालित एक कैब को लिया.’ महिला कार की पीछे वाली सीट पर बैठी और रास्ते में उसकी आंख लग गई. जब वह उठी तो वह किसी सुनसान जगह पर थी और कार के दरवाजे बंद किए हुए थे और जब उसने शोर मचाने की कोशिश की तो चालक ने उसे पीटा और फिर उसके साथ रेप किया.

 

पुलिस ने बताया कि बाद में टैक्सी ड्राइवर ने महिला को उसके घर के पास छोड़ दिया, और उसे एक बार फिर धमकी दी कि अगर पुलिस से शिकायत की तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.

 

पुलिस ने बताया कि पीड़ित महिला गुड़गांव की एक वित्त कंपनी में पिछले तीन साल से विश्लेषक के तौर पर काम कर रही थी. उसने रात के तकरीबन 10.30 बजे पुलिस नियंत्रण कक्ष को फोन किया और अधिकारियों को अपने साथ हुए रेप की जानकारी दी.

 

पुलिस ने कहा कि सराय रोहिला थाने में रेप, जानबूझकर जख्मी करने और जान से मारने की धमकी देने के आरोपों में मामला दर्ज कर लिया गया है. पुलिस ने कहा कि उन्होंने कैब कंपनी और चालक की पहचान कर ली है और उसे पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है.

 

महिला ने अपनी शिकायत में पुलिस से कहा, “घर जाते समय रास्ते में कैब की पीछे की सीट पर बैठे हुए मुझे नींद आने लगी. कुछ मिनट बाद मैंने देखा कि कार एक सुनसान जगह पर रुकी हुई है और उसका ड्राइवर मेरे साथ छेड़छाड़ कर रहा है.”

 

महिला ने कहा, “मैंने कई बार टैक्सी का दरवाजा खोलने का प्रयास किया लेकिन मैं सफल नहीं हो पाई. ड्राइवर ने मुझे जान से मारने की धमकी दी और मेरे साथ रेप किया.

पीड़ित महिला उत्तरी दिल्ली के इंद्रलोक इलाके की रहने वाली है. महिला ने अपनी शिकायत में बताया कि उसने छेड़छाड़ का विरोध किया तो ड्राइवर ने उसे कई थप्पड़ मारे. टैक्सी ड्राइवर की पहचान गौरव (44) के रूप में हुई है.

 

आपकी राय: महिलाओं के लिए कितनी सुरक्षित है दिल्ली? राजधानी में हुई इस घटना के लिए आप किसे जिम्मेदार मानते हैं? #DelhiRape

नीचे कमेंट बॉक्स में अपनी राय दें.

 

 

पीड़ित महिला ने पुलिस को गाड़ी की फोटो भी सौंपी है. गाड़ी का नंबर डीएल 1 वाईडी 7910 है.

 

शुरुआती जांच में पता चला है कि ड्राइवर ने कंपनी के एप को ही डिलीट कर दिया ताकि उसका फोन नंबर, गाड़ी नंबर और फोटो ना मिल सके.

 

उबर ने इस घटना पर पहली प्रतिक्रिया दी है. कंपनी ने बयान जारी करके कहा है कि वो पुलिस को जांच में पूरा सहयोग करेंगे. कंपनी ने ड्राइवर का अकाउंट सस्पेंड कर दिया है.