सस्ते कर्ज के दलदल में फांसकर महिलाओं से कराया जा रहा है देह व्यापार

सस्ते कर्ज के दलदल में फांसकर महिलाओं से कराया जा रहा है देह व्यापार

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

नई दिल्ली: मजबूर इंसान को जिंदगी में पता नहीं क्या-क्या झेलना पड़ता है. ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें उधार पैसे लेकर काम चलाने वाली औरतों की आबरू खतरे में है. पहले तो कर्जदाता उन्हें अपने जाल में फांसते हैं और फिर लुटते हैं उनकी असमत! कर्ज देने वाले ये लोग अब महिलाओं को सेक्स के लिए मजबूर कर रहे हैं. पैसों की तंगी से जूझ रही कई महिलाएं इस शातिर गैंग की करतूत का शिकार बन चुकी हैं.

 

यह मामला आयरलैंड का है. सस्ते ब्याज पर उधार लेकर अब तक कई महिलाओं का जिंदगी तबाह हो चुकी है. ऐसे गैंग की करतूत का पर्दाफाश होने के बाद पुलिस ने छापामारी करके बहुत से गैंग्स का भंडाफोड़ किया लेकिन अभी भी कई गैंग चल रहे हैं. महिलाओं ने सस्ते ब्याज पर लोन लिया लेकिन अचानक ब्याज दरें बढ़ा दी गईं जिसके चलते महिलाएं कर्ज चुकाने की स्थिति में नहीं रहीं. इसके बाद आरोपियों ने महिलाओं का पीछा करना शुरू किया और उनके बच्चों के लिए मिलने वाली सरकारी सहायता का पैसा भी छीनने लगे.

 

मिरर में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक आयरलैंड के दक्षिण पूर्वी इलाकों में ये गैंग ज्यादा सक्रिय हैं. अब तक छह पीड़ित महिलाओं की पहचान की जा चुकी हैं जिन्हें पैसे नहीं चुका पाने की स्थिति में सेक्स के लिए मजबूर किया गया. आरोपी बड़े ही शातिर ढंग से इस कांड को अंजाम दे रहे हैं. मजदूर वर्ग की ये महिलाएं किसी तरह अपनी रोजी चलाती हैं लेकिन पैसे उधार लेने के बाद उनकी मुश्किलें जाती है. लगातार बढ़ रही ब्याज दरों के कारण रकम ज्यादा हो जाती है जिसके बाद महिलाएं उसे चुका नहीं पातीं.

 

इसके बाद गैंग अपना असली खेल शुरू करते हैं. वे महिलाओं को पैसे चुकाने के दूसरे तरीके सुझाते हैं. ये लोग महिलाओं से पैसे के बदले जिस्म का सौदा करने को कहते हैं. ये महिलाओं को कहते हैं कि वो उनकी जिस्मानी जरूरतें पूरी करके कुछ पैसे चुका सकती हैं. यही नहीं, पैसे देने वाले गैंग का सरगना महिलाओं को पूरा पैसा माफ करने का लालच भी देता है. इसके बदले में वो उन्हें वेश्यावृत्ति के लिए भी मजबूर करता है, लेकिन ऐसा करने के बाद भी उनका कर्ज पूरी तरह माफ नहीं होता.

 

इस रैकेट के चंगुल में फंस चुकी महिलाएं करीब साढ़े तीन लाख रुपए चुका कर कर्ज मुक्त हो सकती हैं. ये गैंग बीते पांच सालों से अधिक समय से सक्रिय हैं. इसकी भनक लगने के बाद स्थानीय सामाजिक कार्यकर्ता और पुलिस ने गैरकानूनी तरीके से पैसा, ड्रग्स और वेश्यावृत्ति के धंधों को बंद कराने में जुट गई. कार्रवाई से परेशान होकर आरोपी शातिरों ने नेताओं और पुलिस पर हमले शुरू कर दिए. उन्होंने उनकी कारें जला दीं. फिलहाल इन शातिरों के गुप्त खातों की जांच में भी एजेंसियां जुटी हुई हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story शादी में मिला गिफ्ट खोला तो हुआ जोरदार धमाका, दूल्हे की मौत, दुल्हन जख्मी