एआईआर ने शुरु की एसएमएस अलर्ट सेवा

एआईआर ने शुरु की एसएमएस अलर्ट सेवा

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

<p style="text-align: justify;">
<b>नई
दिल्ली:</b> ऑल इंडिया रेडियो
ने शुरु की है एसएमएस एलर्ट
सेवा. एआईआर की एसएमएस सेवा
मुफ्त होगी. इसी हफ्ते ये
सेवा सूचना एवं प्रसारण
मंत्रालय ने शुरू की. एआईआर
के श्रोताओं के लिए ये सेवा
कार्यक्रमों की सूचना के लिए
शुरू की गई है.
</p>
<p style="text-align: justify;">
इसे छह महीने पहले पाइलट
प्रोजेक्ट के तौर पर शुरु
किया गया था, जिसके तहत इसे दो
लाख सब्सक्राइबर्स मिले थे.
अब मंत्रालय ने इसे आम कर
दिया है, उम्मीद जताई जा रही
है कि इस महीने के अंत तक
उपभोक्ताओं की संख्या पांच
लाख तक पहुंच जाएगी.
</p>
<p style="text-align: justify;">
सेवा लेने के लिए किसी भी
श्रोता या उपभोक्ता तो
इंग्लिश में ये संदेश SMS ‘AIRNEWS’
‘their name’ लिखकर इस नंबर पर
भेजना होगा 08082080820. सेवा लेने के
लिए इस नंबर (08082080820) पर मिस्ड
कॉल भी दी जा सकती है. एसएमएस
एलर्ट सेवा में ऑल इंडिया
रेडियो द्वारा प्रसारित
खबरों, समाचारों,
कार्यक्रमों और जनसेवाओं के
संदेश मिलेंगे.
</p>
<p style="text-align: justify;">
ऑल इंडिया रेडियो ने मुफ्त
में भेजे जाने वाले इन
संदेशों के लिए आने वाले खर्च
को मंत्रालयों और विभागों के
संदेशों को भेजने और
जनसूचनाओं को भेजने से पूरा
करने की उम्मीद जताई है.
</p>
<p style="text-align: justify;">
वैसे 2014 के आम चुनावों से पहले
यूपीए सरकार भारत निर्माण के
लिए टीवी, रेडियो, प्रिंट और
आउटडोर मीडिया के 11 लाख
स्पाट्स पर इसे प्रचारित कर
रही है. सोमवार को भारत
निर्माण की इंटरएक्टिव
वेबसाइट भी लॉन्च की गई.
</p>
<p style="text-align: justify;">
यूपीए सरकार की प्रचार योजना
में दो चरणों में अबतक 32,612 और
36,00 स्पाट्स प्रसारित किए जा
चुके हैं. 7.50 लाख उपभोक्तओं तक
यूपीए सरकार ट्विटर और
फेसबुक के जरिए पहुंच रही है.
प्रिंट मीडिया में भी 27,000
जगहों पर सूचनाएं 700 अखबारों
में दोनों चरणों में छपवाई जा
चुकी हैं. इसके साथ ही
सामुदायिक रेडियो को भी इस
कैम्पेन में शामिल किया गया
है.
</p>
<p style="text-align: justify;">
यूपीए सरकार टीवी, रेडियो,
प्रिंट के अलावा डिजीटल
सिनेमा में भी भारत निर्माण
का प्रचार किया जा रहा है. <br />
</p>

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story इस कैरेक्टर की वजह से क्रैश हो रहे हैं iPhone के एप