भाषा के बैरियर को तोड़ लोगों के दिलों को जोड़ेगी वीडियो सर्विस स्काईप

By: | Last Updated: Wednesday, 28 May 2014 8:26 AM

नई दिल्ली: कहा जाता है कि चाहें दुनिया भर में लोगों की जुबान भले ही अलग-अलग हो लेकिन इंसान होने के कारण एक-दूसरे के हाव-भाव समझ एक दूसरे के दिल मिल ही जाते हैं. अब तक कोई ऐसी तकनीक नहीं आई थी जिससे दो अलग-अलग बोली बोलने वाले लोग एक दूसरे से आसानी से बात कर सकें.

 

लेकिन अब वीडियो सर्विस स्काइप ने लोगों के दिलों को मिलने और भाषा की वजह से आने वाली बाधाओं को पार करने के लिए नई तकनीक विकसित की है.

 

माइक्रोसॉफ्ट रिसर्च कॉरपोरेट के उपाध्यक्ष पीटर ली ने स्काइप के ट्रांसलेटर और किसी भी भाषा को पहचाने जा सकने वाली तकनीक को दिखाती एक वीडियो यू ट्यूब पर पोस्ट की है.

 

स्काईप ट्रांसलेटर की वीडियो देखने के लिए क्लिक करें-