रणजी ट्राफी: मुंबई मजबूत, उत्तर प्रदेश बैकफुट पर

By: | Last Updated: Friday, 10 January 2014 7:06 AM

नई दिल्ली: रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल मुकाबलों के दूसरे दिन, गुरुवार तक हालांकि किसी भी टीम को अभी निर्णायक बढ़त नहीं मिली है, लेकिन बेंगलुरू के चिन्नास्वामी स्टेडियम में कर्नाटक के गेंदबाजों ने उत्तर प्रदेश की दूसरी पारी में नौ विकेट चटकाकर जहां उसे बैकफुट पर धकेल दिया है, वहीं वानखेड़े स्टेडियम में शार्दुल ठाकुर ने अपनी धारदार गेंदबाजी से मुंबई को महाराष्ट्र के खिलाफ मजबूत स्थिति में ला दिया है.

 

चिन्नास्वामी स्टेडियम में अभिमन्यु मिथुन (70/4) और आर. विनय कुमार (49/3) की धारदार गेंदबाजी की बदौलत कर्नाटक ने उत्तर प्रदेश की पहली पारी में 221 रनों पर नौ विकेट झटक लिए हैं. कर्नाटक ने अपनी पहली पारी में 349 रन बनाए.

 

उत्तर प्रदेश के हीरो रहे परविंदर सिंह (92) का विकेट गिरने के साथ दिन का खेल समाप्त हुआ. उत्तर प्रदेश की टीम पहली पारी की तुलना में 128 रन पीछे है. परविंदर ने अपनी 181 गेंदों की पारी में 13 चौके लगाए. परविंदर और पीयूष चावला (56) ने 65 रनों पर छह विकेट गिरने के बाद स्कोर को 175 रनों तक पहुंचाया. चावला ने 99 गेंदों पर पांच चौके लगाए.

 

इससे पहले, कर्नाटक ने तीन शतकवीरों, रॉबिन उथप्पा (100), करुण नायर (100) और चिदंबरम गौतम (100) की बदौलत पहली पारी में 349 रन बनाए. उथप्पा और नायर ने जहां पहले ही दिन शतक बना लिए थे, वहीं पहले दिन 89 रनों पर नाबाद लौटे गौतम ने दूसरे दिन अपना शतक पूरा किया. उथप्पा ने 160 गेंदों पर 19 चौके लगाए जबकि नायर ने 246 गेंदों की मैराथन पारी में 14 चौके और एक छक्का लगाया. गौतम ने 118 गेंदों में 16 चौके लगाए.

 

उत्तर प्रदेश की ओर से अमित मिश्रा ने 106 रन देकर छह विकेट लिए. वानखेड़े स्टेडियम में चल रहे रणजी ट्रॉफी के एक अन्य क्वार्टर फाइनल मुकाबले में मुंबई ने पहली पारी में 402 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा करने के बाद महाराष्ट्र की पहली पारी में 219 रनों पर सात विकेट चटकाकर मैच पर अपनी पकड़ मजबूत कर ली.

 

मुंबई के लिए गुरुवार को नायक रहे शार्दुल ठाकुर. शार्दुल ने 62 रन देकर महाराष्ट्र के चार बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई. महाराष्ट्र की टीम पहली पारी की तुलना में अभी भी 183 रन पीछे है, जबकि उसके तीन विकेट ही सुरक्षित हैं.

 

महाराष्ट्र की ओर से अंकित बावने ने सबसे अधिक 84 रन बनाए. केदार जाधव ने भी 51 रनों की पारी खेली.

 

मैच के पहले दिन सात विकेट पर 306 रन के स्कोर से आगे खेलते हुए कप्तान जहीर खान ने 39 तथा इकबाल अब्दुल्ला ने नाबाद 49 रनों की अपनी बेहतरीन पारियों की बदौलत मुंबई को 400 के पार पहुंचाया, जबकि पहले दिन वीए इंदूलकर (82) और सूर्यकुमार यादव (120) ने टीम को मजबूत स्कोर की ओर अग्रसर किया था. यादव ने 139 गेंदों की अपनी पारी में 18 चौके लगाए.

 

महाराष्ट्र की तरफ से समद फल्लाह ने चार विकेट लिए अनुपम संखलेचा ने तीन विकेट हासिल किए.

 

इसके अलावा कोलकाता के ईडन गरडस में रेलवे और बंगाल के बीच चल रहे मुकाबले के दूसरे दिन जहां रेलवे के बल्लेबाजों ने शुरुआती झटकों से टीम को उबार लिया है, वहीं वडोदरा के मोती बाग स्टेडियम में पहली पारी के आधार पर 42 रनों की बढ़त ले चुके पंजाब ने मनन वोहरा और जीवनजोत सिंह जैसे धुरंधर सलामी बल्लेबाजों के विकेट गंवा दिए हैं, तथा तीसरे दिन क्रीज पर उसके बल्लेबाजों की मजबूती ही उसे जम्मू एवं कश्मीर पर निर्णायक बढ़त की ओर ले जा सकेगी.

 

ईडन में महेश रावत (नाबाद 105) के शानदार शतक और अरिंदम घोष (नाबाद 78) की उम्दा पारी की बदौलत रेलवे ने अपनी पहली पारी में पांच विकेट पर 233 रन बनाकर मेजबान बंगाल को करारा जवाब दिया है. बंगाल ने अपनी पहली पारी में 317 रन बनाए थे.

 

रेलवे एक समय 42 रन पर पांच विकेट के नाजुक मोड़ पर पहुंच चुका था, लेकिन रावत और घोष ने छठे विकेट के लिए 191 रनों की नाबाद साझेदारी कर रेलवे को काफी हद तक उबार लिया है.

 

रावत ने अपनी 125 गेंदों की पारी में 18 चौके और एक छक्का लगाया है जबकि घोष ने 167 गेंदों पर 11 चौके लगाए हैं.

 

इससे पहले, बंगाल ने अपनी पहली पारी में 317 रन बनाए. पहले दिन स्टम्प्स तक बंगाल ने आठ विकेट पर 274 रन बनाए थे. पहले दिन 60 रन पर नाबाद लौटे रिद्धिमान साहा (87) ने अपने निजी स्कोर में 27 रन और जोड़े.

 

रेलवे की ओर से अनुरीत सिंह ने चार विकेट लिए. मुरली कार्तिक को दो सफलता मिली.

 

वडोदरा के मोती बाग स्टेडियम में जहां पंजाब की पहली पारी में हरभजन सिंह (92) ने कप्तानी पारी खेलकर टीम को बेहतर स्कोर की ओर अग्रसर किया वहीं परवेज रसूल (103) ने भी जम्मू एवं कश्मीर के लिए गुरुवार को कप्तानी पारी खेली.

 

पंजाब ने अपनी पहली पारी में 304 रन बनाए थे जबकि जम्मू एवं कश्मीर की पहली पारी 277 रनों पर सिमट गई.

 

रसूल ने अपनी टीम को बढ़त दिलाने की पूरी कोशिश की लेकिन वह सफल नहीं हो सके. उनकी टीम की ओर से आदिल रिषी ने भी 65 रन बनाए.

 

पंजाब की ओर से संदीप ने चार विकेट लिए जबकि मनप्रीत गोनी और वीआरवी सिंह ने दो-दो सफलता हासिल की. हरभजन सिंह और युवराज सिंह ने भी एक-एक सफलता पाई.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: रणजी ट्राफी: मुंबई मजबूत, उत्तर प्रदेश बैकफुट पर
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017