फ्रीडम251 बनाने वाली कंपनी रिंगिंग बेल्स पर धोखाधड़ी का आरोप

By: | Last Updated: Saturday, 27 February 2016 5:30 PM
FREEDOM 251 sued by bpo company

नई दिल्लीः रिंगिंग बेल्स 251 रुपए में फोन लॉन्च कर सुर्खियों में आ गया है. भारत ही नहीं इसके विदेशों में भी चर्चे हैं. कंपनी को इस फोन के लिए 7 करोड़ से भी ज्यादा की बुकिंग प्राप्त हई है जिसमें पहले लॉट में 25 लाख लोगों को फोन देने का भरोसा भी दिया गया है. पंरतु लॉन्च से लेकर अब तक कंपनी पर आए दिन कोई न कोई अरोप लगते रहे हैं. सबसे पहले इंडियन सेल्यूलर एसोसिएशन ने इलजाम लगाया और की फोन का निर्माण लागत 3,500 रुपए से ज्यादा है.

1

इसके बाद भाजपा सांसद द्वारा इस पर जांच की मांग की गई. वहीं आज नोएडा की ही एक और कंपनी ने रिंगिंग बेल्स पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है.

 

नोएडा की डाटा सेंटर और बिजनेस प्रोसेस आउट सोर्सिंग कंपनी सायफ्यूचर ने रिंगिंग बेल्स पर धोखाधड़ी का आरोप लगाया है. सायफ्यूचर को रिंगिंग बेल्स द्वारा उसके स्मार्टफोन ब्रांड के लिए कॉल सेंटर सपोर्ट का टेंडर मिला था. इस एग्रीमेंट के माध्यम से सायफ्यूचर को रिंगिंग बेल्स के स्मार्टफोन के लिए हेल्प डेस्क आॅपरेशन को देखना था. इसमें फ्रीडम 251 के लॉन्च और लॉन्च के बाद का ऑपरेशन भी शामिल था. परंतु कंपनी का कहना है कि फ्रीडम 251 के लॉन्च हो जाने के बाद जब पेमेंट की बारी आई तो रिंगिंग बेल्स ने उस पर झूठे आरोप लगाकर अनुबंध को खत्म कर दिया.

 

इस बारे में सायफ्यूचर के फाउंडर और सीईओ अनुज बैराथी का कहना है कि ‘हम रिंगिंग बेल्स कंपनी के बारे में पहले से ही संशय में थे लेकिन उनके द्वारा हमें हर तरह का आश्वासन दिया गया. इसके बाद हमने सर्विस देने के लिए अनुबंध किया. इनको सर्विस देने के लिए हमने 100 से ज्यादा नए प्रोफेशनल्स को हायर भी किया. इस दौरान शुरुआत के दो-तीन दिन जब फ्रीडम 251 लॉन्च हुआ तो हमें लाखों कॉल आए और कंपनी इस सर्विस से खुश भी थी लेकिन जैसे ही पेमेंट की बात आई उन्होंने पहले तो टालना शुरू कर दिया और बाद में हम पर इल्जाम लगाकर इस अनुबंध को खत्म कर दिया.

 

उन्होंने कहा कि ‘इस अनुबंध के तहत एक साल लॉकिंग समय तय किया गया था कि इस बीच इसे तोड़ा नहीं जा सकता था. वहीं शर्त यह भी थी कि यदि खराब सेवा या किसी अन्य कारण से कंपनी बीच में अनुबंध खत्म करती है तो कम से कम 30 दिन का नोटिस देगी और इस बीच सभी तरह की पेमेंट का निबटारा भी करेगी. पंरतु उन्होंने कोई नोटिस नहीं दिया और अब फोन कॉल तक नहीं उठा रहे हैं. ऐसे में हम पुलिस केस करने की योजना बना रहे हैं.’

 

हालां​कि इस आरोप को रिंगिंग बेल्स ने सिरे से नकार दिया है. इस बारे में रिंगिंग बेल्स के प्रेसिडेंट अशोक चड्डा का कहना है कि हम इन अरोपों से सहमत नहीं हैं. हमें हेल्पलाइन नंबर से सम्बंधित हजारों शिकायतें मिलीं. उपभोक्ताओं ने सीधा कंपनी में कॉल कर हेल्पलाइन नंबर कनेक्ट न होने सम्बंधि शिकातय की. टेलीकॉम कंपनियों द्वारा इस बात की पुष्टि की जा चुकी है कि प्रति घंटा 12 लाख से ज्यादा कॉल आते हैं और यह बीपीओ कंपनी इतने कॉल हैंडल करने में सक्षम नहीं है. ऐसे में हमने परिस्थितियों को देखते हुए उपभोक्ताओं को बेहतर सेवा देने की कोशिश की है.

 

गौरतलब है कि रिंगिंग बेल्स ने हाल में विश्व का सबसे सस्ता एंडरॉयड स्मार्टफोन भारत में पेश किया है. इस फोन के लॉन्च होने से अब तक कई तरह के आरोप लगे हैं. वहीं केंद्रीय संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी हाल में दिए एक बयान में कहा था कि उनके विभाग की रिंगिंग बेल्स कंपनी पर नजर बनी हुई है. कंपनी ने गत सप्ताह मात्र 251 रुपये (करीब चार डॉलर) में फ्रीडम 251 स्मार्टफोन पेश किया था. मंत्री ने कहा कि दूरसंचार विभाग ने इस बात की जांच की है कि क्या इस मूल्य में फोन दिया जा सकता है. कंपनी से यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया कि बाद में कोई अनियमितता न हो. यदि ऐसा होगा तो हम कानून के मुताबिक कदम उठाएंगे. हमारा विभाग इस पर नजर रखे हुए है.
फ्रीडम 251 पर सबसे पहले इंडियन सेल्यूलर एसोसिएशन ने उंगली उठाई थी. संस्था इस बाबत अपनी शिकायत भी दर्ज करा चुकी है. आईसीएस सवाल खड़े कर चुकी है कि इस स्पेसिफिकेशन के फोन की निर्माण लागत 4,000 रुपए के आस पास है और स​ब्सिडी के बाद भी इसका विक्रय मूल्य 3,500 रुपए के बराबर आता है.

वहीं भाजपा सांसद किरिट सोमैया ने भी इसमें फर्जीवाड़े की आशंका जताते हुए कंपनी की जांच की मांग की है. सोमैया ने टेलीकॉम मंत्रालय और उत्तर प्रदेश सरकार से भी कंपनी से स्पष्टता मांगने की बात कही है. उन्होंने रिंगिंग बेल्स से स्पष्ट करने की मांग की है कि बिना बीएसआई सर्टिफिकेशन के फ्रीडम 251 की मार्केटिंग कैसे शुरू की गई.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: FREEDOM 251 sued by bpo company
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017