94 फीसदी अमेरिकी एडल्ट नहीं खरीदना चाहते Apple Watch: पोल

94 फीसदी अमेरिकी एडल्ट नहीं खरीदना चाहते Apple Watch: पोल

By: | Updated: 01 Jan 1970 12:00 AM

नई दिल्ली: एपल दुनिया की इस वक्त सबसे बड़ी टेक कंपनी है, बीते सितंबर में एपल के नए डिवाइस आईफोन6 और 6 प्लस की लॉन्च ने कंपनी को दुनिया के शीर्ष पर पहुंचा दिया है पर हाल ही में कंपनी के नए लॉन्च वियरेबल एपल वॉच से कंपनी को थोड़ी निराशा हाथ लग सकती है.

 

अमेरिकी न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने बीते दिन एक पोल जारी किया है जिसके मुताबिक एपल वॉच को लेकर अमेरिकी एडल्ट  थोड़े कम उत्साहित है. रॉयटर्स के पोल के मुताबिक अमेरिका में लगभग 94 फीसदी एडल्ट एपल वॉच को नहीं खरीदना चाहता है.

 

रॉयटर्स ने इस पोल का नाम Ipsos poll है, जिसमें 1,829 लोगों ने हिस्सा लिया है, ये पोल 8 अप्रैल  से 14 अप्रैल के बीच किया गया है.

 

अब जब ये वॉच पिछले हफ्ते से प्री-ऑर्डर के लिए ऑनलाइन मौजूद है तो ऐसे में ये खबर है कि इस वॉच के लिए अमेरिका का टीनएजर (18-28)  ग्रुप तो एक्साइटेड है पर एक एडल्ट ग्रुप है इस वॉच  को खरीदने के पक्ष में नहीं है.

 

 

क्या है इस वॉच में 

 

बेहद कस्टमाइजेबल: ये वॉच तीन अलग अलग डिजाइन में होगी.  इस एपल बॉच का बेसिक वर्जन होगा स्पोर्ट्स. इसके अवाला एक चेन या स्ट्रालिस स्ट्रैप वॉच होगी. साथ ही उसका  गोल्ड वर्जन भी है जिसमें 18 कैरेट गोल्ड बॉर्डर होगा जिसमें बेल्ट लगा होगा. ये वॉच स्टाइलिश भी काफी होगी.

 

 

फिटनेस फोकस्ड: एपल Watch फिटनेस पर खास तौर पर फोकस्ड होगी. इस स्मार्टवॉच को 'कॉम्प्रिहेन्सीव हेल्थ और फिटनेस डिवाइस'  कहना भी गलत नहीं होगा. इसमें लाइट मॉनिटर हार्ट रेटर का इस्तेमाल किया गया है. ये आईवॉच हैल्थ-ट्रैकिंग मे सक्षम है लेकिन मैसेज और वाइस कॉलिंग जैसे फिचर्स के लिए इसे आई फोन से कनेक्ट करने की जरुरत होगी. बिना कनेक्ट  वो एप काम नहीं तकर पाएंगे जिनमें जीपीएस की जरुरत होती है.

 

Apple Watch फीचर्स: इसके जरिए मैसेज भेजे और रिसीव किए जा सकेंगे. सोशल मीडिया के नोटिफिकेशन देखे जा सकेंगे.वॉइस कमांड सपोर्ट करती है जिसमें यूजर्स बोलकर ट्वीट भी कर सकते हैं. कॉल रिसीव करने की भी सुविधा है. एपल वॉच के किनारे पर लगे डायल को घुमाने से घड़ी की स्क्रीन पर लिखावट बड़ी या छोटी की जा सकती है. इस डायल को कंपनी ने 'डिजिटल क्राउन' का नाम दिया है.

 

Apple Watch  क्रेडिट कार्ड की तरह इस्तेमाल होगा: iWatch कंपनी  की वॉयरलेस पेमेंट सिस्टम एपल पे सपोर्टेबल होगा.पहली बार एपल पे के लिए यूजर को एक पासकोड जो एपल से ऑथराइज हो उसका इस्तेमाल करना होगा और जब एक बार ये होग गया तो यूजरप तब तक  लॉग इन रहेगा जब तक ये

iWatch उसकी कलाई पर है.  

 

 

Apple Watch कैसे करेगी काम

 

ज्यादातर स्मार्टवॉच की तरह आईवॉच भी स्मार्टफोन से कनेक्ट होने पर काम करती है. इसके लिए यूजर्स के पास आईफोन 5s या उससे ऊपर के आईफोन मॉडल होने चाहिए. इसके ज्यादातर फीचर्स का इस्तेमाल करने के लिए फोन से कनेक्ट करने की और इसे पहने रहने की जरूरत होगी.

 

एप्पल की आईवॉच में एक टचस्क्रीन और एक स्क्रॉल व्हील है. स्क्रीन पर नीचे की ओर सेंसर लगे हैं जो यूजर की बॉडी से जुड़े होने पर जानकारी देते हैं. इसमें सभी हेल्थ डिटेल्स मॉनिटर होती हैं. इसके अलावा, इस आईवॉच में बाकी फीचर्स को एक्सेस करने के लिए एक साइड बटन दिया गया है. साइड बटन को दबाने पर मेन्यू खुलता है जिसमें कई ऐप्स होंगे. इस आईवॉच को इसमें दिए गए माइक्रोफोन की मदद से वॉइस कमांड भी दी जा सकती हैं.

 

कनेक्टिविटी के मामले में ये Apple Watch वाई-फाई और फोन के GPS कनेक्शन का इस्तेमाल करती है.

 

इसकी कीमत एपल की स्मार्टवॉच की कीमत करीब 349 डॉलर से शुरु होगी (21,229 रुपए) से शुरु होकर 10,000 डॉलर  (10 लाख रुपये) तक है.   

 

एपल के अगले स्मार्टफोन आईफोन 6c की तस्वीरें लीक!

APPLE PLAN: इस साल एपल करेगा तीन आईफोन लॉन्च 

सैमसंग और एपल में छिड़ी स्मार्टफोन्स की कीमत में कटौती की जंग

APPLE EVENT: बेहतरीन तकनीक से लैस एपल Watch और मैकबुक हुआ लॉन्च 

 

 

 

 

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story Honor 9 Lite में आया फेस-अनलॉक फीचर, अब चेहरे से ही अनलॉक होगा ये स्मार्टफोन