फ्लिपकार्ट से शॉपिंग का दर्द, जानें ग्राहक की जुबानी

A MAN WHO ORDERED FROM FLPKART AND NOW SUFFERING FROM HUGE ISSUE

नई दिल्ली: ऑनलाइन शॉपिंग को लेकर धोखा एक ऐसा शब्द है, जिसका डर हर कस्टमर को सताता रहता है, लेकिन जब बात फ्लिपकार्ट जैसी बड़ी कंपनी की आती है तो आपको लगता है कि ये कंपनी धोखा नहीं देती होगी, लेकिन इस कस्टमर का दर्द देश की सबसे बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी फ्लिपकार्ट की सर्विस और प्रोडक्ट पर कई सवाल खड़े कर रहा है.

अब्दुल नाम के एक ग्राहक ने 24 जनवरी को HTC Desire 820s का ऑर्डर दिया. फ्लिपकार्ट ने वादा किया कि स्मार्टफोन 1 फरवरी से पहले-पहले डिलीवर कर दिया जाएगा और अपने वादे को निभाते हुए कंपनी ने 28 जनवरी को ही फोन डिलीवर कर दिया गया.

c2

अब शुरू होता है अब्दुल का दर्द…

स्मार्टफोन देखकर सब कुछ सही लग रहा था. फोन को चालू किया गया, दो सिम कार्ड लगाए गए, पहले सिम कार्ड पर नेटवर्क तो आया, लेकिन आता जाता रहा, लेकिन दूसरे सिमकार्ड के साथ नेटवर्क आया ही नहीं. अब्दुल ने कस्टमर केयर से इसकी शिकायत की. स्मार्टफोन की बैट्री डीसचार्ज हो गई और उसके बाद फोन चालू नहीं हुआ. इसकी भी जानकारी अब्दुल ने कस्टमर केयर और फ्लिकार्ट के सोशल मीडिया टीम दी. फोन के तुरंत बदले जाने का वादा किया गया. एक फरवरी से शिकायत और आश्वासन का ये सिलसिला जारी है. आज 15 फरवरी को स्मार्टफोन के रिप्लेस्मेंट के लिए डिलीवरी ब्वॉय तो आया, लेकिन उसने फोन लेने से ये कह कर मना कर दिया कि उन्हें फोन चालू चाहिए. जब तुरंत इसकी शिकायत फ्लिकार्ट को की गई तो कहा गया हमें शिकायत बताएं, और इंतज़ार कीजिए. जी हां! 18 मिनट 43 सेकेंड की बात करने के बाद ये रहा फ्लिपकार्ट का जवाब…

 

और ये इंतजार अब भी जारी है…

अब्दुल ने अपना दुख बयान करते हुए कहा कि इन 15 दिनों में फ्लिपकार्ट के कस्टमर केयर और सोशल मीडिया से 10 से ज्यादा बार बातें हुईं. ज्यादातर बातचीत के दौरान 10,10 मिनट होल्ड कराया गया. 12 फरवरी को लंबे होल्ड के साथ 37 मिनट 56 सेकंड बातचीत हुई, वादा किया गया कि अब आपको आगे कोई परेशानी नहीं आएगी और फोन जल्द मिल जाएगा.

ये पहला दर्द नहीं है…

c1

इससे पहले नवंबर 2015 में फ्लिपकार्ट ने अब्दुल को ग़लत कंप्यूटर बेचा और अपनी ग़लती मानते हुए वापस भी लिया.

बात ये है कि अब्दुल ने फ्लिपकार्ट से डेल इंसपीरॉन 3543 लैपटॉप खरीदा. लेकिन ये लैपटॉप (इसी सीरियल नंबर का) अमेरिका में बेचा जा चुका था, यानि फ्लिपकार्ट ने ग़लत प्रोडक्ट अब्दुल से बेचा. अब्दुल ने बार-बार फ्लिपकार्ट से ये जानना चाहा कि जब नकली प्रोडक्ट नहीं बेचते तो आप ने सेलर के क्या खिलाफ क्या कार्रवाई की. फ्लिपकार्ट इसका जवाब नहीं दे रहा है. एबीपी न्यूज़ ने अब्दुल और फ्लिपकार्ट के कस्टमर केयर के बीच हुई पूरी बातचीत सुनी है, जिसमें फ्लिपकार्ट ने ग़तल लैपटॉप के बेचे जाने को स्वीकार किया है.

लेकिन अब्दुल का कहना है कि फ्लिपकार्ट ने इंसपीरॉन 3543 लैपटॉप वापस तो किया, लेकिन बहुत रुलाया. अब्दुल के दर्द का ये किस्सा अभी तमाम नहीं हुआ है.

 

अगली कड़ी में जानें फ्लिपकार्ट के जरिए अब्दुल दिए गए दर्द का पूरा किस्सा.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: A MAN WHO ORDERED FROM FLPKART AND NOW SUFFERING FROM HUGE ISSUE
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: false FlipKart order
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017