जियो का एयरटेल पर आरोप, पॉलिसी को अपनी ओर करने के लिए झूठी जानकारी दे रहा एयरटेल

रिलायंस जियो और भारती एयरटेल के बीच टकराव तेज हो गया है. जियो ने आज एयरटेल के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वह मोबाइल इंटरकनेक्शन शुल्क के मामले में यूजर्स की कीमत पर नीति का झुकाव अपनी ओर करने का प्रयास कर रही है.

By: | Last Updated: Friday, 15 September 2017 8:48 AM
Bharti Airtel misrepresenting facts to create policy bias: Reliance Jio

नई दिल्लीः रिलायंस जियो और भारती एयरटेल के बीच टकराव तेज हो गया है. जियो ने आज एयरटेल के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि वह मोबाइल इंटरकनेक्शन शुल्क के मामले में यूजर्स की कीमत पर नीति का झुकाव अपनी ओर करने का प्रयास कर रही है.

मुकेश अंबानी की अगुवाई वाली कंपनी ने आज भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण (ट्राई) को चिट्ठी भेजा है. इसमें आरोप लगाया गया है कि एयरटेल हमेशा से किसी तरह की प्रतिस्पर्धा का विरोध करती रही है. चाहे वह एमटीएनएल की मोबाइल सेवाओं का मामला हो या मूल आपरेटर का डब्ल्यूएलएल सेवाओं का मामला या फिर जियो को पर्याप्त नेटवर्क इंटरकनेक्शन पॉइंट देने का मामला हो. अब वह नई प्रतिस्पर्धा को रोकने के लिए आईयूसी के इस्तेमाल का प्रयास कर रही है.

जियो ने एयरटेल के कारोबार में 79,000 करोड़ रुपये के आंतरिक निवेश के दावे को भी खारिज कर दिया. जियो ने आरोप लगाया कि एयरटेल ने पिछले कई बरसों में आंशिक रूप से नया इक्विटी निवेश किया है जबकि उसे कहीं ऊंचा निवेश करने की जरूरत थी.

Gadgets News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Bharti Airtel misrepresenting facts to create policy bias: Reliance Jio
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017